Submit your post

Follow Us

बाबा रामदेव ने कहा- कर्ज लेकर भारत माता का फर्ज निभा रहे हैं

योग गुरु स्वामी रामदेव. उन्होंने कहा कि पतंजलि के ऊपर हजारों करोड़ रुपए का कर्ज है. कर्ज लेकर भारत माता का फर्ज निभा रहे हैं. इसके अलावा चीन से चल रहे सीमा विवाद पर उन्होंने कहा कि सेनाएं सीमा पर लड़ने में सक्षम हैं, लेकिन जो सबसे मजबूत शस्त्र है वो बहिष्कार है. भारत को कूटनीतिक, राजनीतिक स्तर के अलावा आर्थिक और भावनात्मक स्तर पर उसका बहिष्कार करना चाहिए.

‘बैंकों की किस्त चुका रहे हैं’

रामदेव ने ‘आज तक’ के कार्यक्रम ‘सुरक्षा सभा’ में एक सवाल के जवाब में कहा,

अभी मुनाफा नहीं, अभी बैंकों की किस्त चुकाने में लगे हैं. पतंजलि का हजारों करोड़ चुकाना है. कर्ज लेकर भारत माता के प्रति अपना फर्ज निभा रहे हैं. ईस्ट इंडिया कंपनी से लेकर अभी तक विदेशी कंपिनयों ने करोड़ों की लूट की है. पतंजलि का एक ही मकसद है कि लोगों के अंदर स्वाभिमान पैदा हो. हमने 1,000 करोड़ रुपए का इनडायरेक्ट बेनेफिट दिया है. इसके अलावा चीजें जोड़ेंगे तो लाखों-करोड़ों रुपए का बेनेफिट देश को दिया है.

‘चीन की बाज़ार में घुसपैठ’

रामदेव ने स्वदेशी की बात करते हुए कहा,

मैंने डेटा खंगाले हैं. हम कितना इम्पोर्ट करते हैं. भारत में जिन कंपनियों के अंदर चीन की भागीदारी है, वो कितना कारोबार करती हैं. शेयर मार्केट, बैंकिंग, चीन के रूट से होकर जो पैसा भारत में आया है. ये 15 से 20 लाख करोड़ हो सकता है. हमारे देश की अर्थव्यवस्था में फर्नीचर, टाइल्स से लेकर मोबाइल-ऑटोमोबाइल, खिलौने से लेकर हर जगह उसकी घुसपैठ है. हम लोकल के लिए वोकल बनें.

‘चीन का पूर्ण बहिष्कार करें’

रामदेव ने कहा,

मैंने तीन दशकों से संकल्प ले रखा है कि मैं चीन के सामान का इस्तेमाल नहीं करूंगा. हम चीन का पूर्ण बहिष्कार करें. कूटनीतिक, राजनीतिक के अलावा आर्थिक, भावनात्मक स्तर पर उसका बहिष्कार करना चाहिए. चीन से जो 5 लाख करोड़ का हम जो डायरेक्ट इम्पोर्ट कर रहे हैं, उस पर बैन लगाना चाहिए.

चीन विवाद पर बीजेपी-कांग्रेस के नेता साथ

आज तक के कार्यक्रम में बीजेपी सांसद राजीव प्रताप रूडी ने कहा कि यूपीए में भी चीन से विवाद हुआ था. हम सरकार के साथ थे. इसके जवाब में कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने कहा कि भारत-चीन विवाद में हम देश की सरकार के साथ हैं. उन्होंने कहा कि कोई भी पड़ोसी देश भारत की ज़मीन पर कब्जा करता है तो पूरे देश को एकजुट होना चाहिए. ये मुद्दा भाजपा और कांग्रेस का सवाल नहीं बल्कि देश का सवाल है.

लद्दाख में भारत-चीन सीमा विवाद पिछले एक महीने से बना हुआ है. चीन की तरफ से घुसपैठ की कोशिशें बढ़ी हैं. पिछले दिनों रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि LAC में अच्छी-खासी संख्या में चीन के सैनिक मौजूद हैं. इस मसले को सुलझाने के लिए 6 जून को दोनों देशों के बीच मिलिट्री लेवल पर हाई लेवल बातचीत होनी है.


बाबा रामदेव ने बताया, कोरोना के खिलाफ लड़ाई में कितना सहायता देगी पतंजली योग संस्थान?

 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

'निसर्ग' चक्रवात क्या है और ये कितना ख़तरनाक है?

'निसर्ग' नाम का मतलब भी बता रहे हैं.

कोरोना काल में क्रिकेट खेलने वाले मनोज तिवारी ‘आउट’

दिल्ली में हार के बाद बीजेपी का पहला बड़ा फैसला.

1 जून से लॉकडाउन को लेकर क्या नियम हैं? जानिए इससे जुड़े सवालों के जवाब

सरकार ने कहा कि यह 'अनलॉक' करने का पहला कदम है.

3740 श्रमिक ट्रेनों में से 40 प्रतिशत ट्रेनें लेट रहीं, रेलवे ने बताई वजह

औसतन एक श्रमिक ट्रेन 8 घंटे लेट हुई.

कंटेनमेंट ज़ोन में लॉकडाउन 30 जून तक बढ़ाया गया, बाकी इलाकों में छूट की गाइडलाइंस जानें

गृह मंत्रालय ने कंटेनमेंट ज़ोन के बाहर चरणबद्ध छूट को लेकर गाइडलाइंस जारी की हैं.

मशहूर एस्ट्रोलॉजर बेजान दारूवाला नहीं रहे, कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी

बेटे ने कहा- निमोनिया और ऑक्सीजन की कमी से हुई मौत.

लॉकडाउन-5 को लेकर किस तरह के प्रपोज़ल सामने आ रहे हैं?

कई मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि 31 मई के बाद लॉकडाउन बढ़ सकता है.

क्या जम्मू-कश्मीर में फिर से पुलवामा जैसा अटैक करने की तैयारी में थे आतंकी?

सिक्योरिटी फोर्स ने कैसे एक्शन लिया? कितना विस्फोटक मिला?

लद्दाख में भारत और चीन के बीच डोकलाम जैसे हालात हैं?

18 दिनों से भारत और चीन की फौज़ आमने-सामने हैं.

शादी और त्योहार से जुड़ी झारखंड की 5000 साल पुरानी इस चित्रकला को बड़ी पहचान मिली है

जानिए क्या खास है इस कला में.