Submit your post

Follow Us

WTC फाइनल से ठीक पहले वाटलिंग ने अचानक संन्यास क्यों ले लिया?

न्यूज़ीलैंड के विकेटकीपर बल्लेबाज़ ब्रेडली जॉन वाटलिंग ने इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया है. इंग्लैंड में दो मैचों की टेस्ट सीरीज़ और उसके बाद 18 जून से खेला जाने वाला वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल उनके करियर का आखिरी मुकाबला होगा. वाटलिंग ने सबकुछ ठीक होते हुए संन्यास का ऐलान क्यों किया, इसके बारे में भी खुद ही बताया है.

वाटलिंग ने कहा कि उनके संन्यास का कारण फिटनेस नहीं है. वो अब भी पूरी तरह से फिट हैं. लेकिन हाल में ही दूसरे बच्चे के पिता बने वाटलिंग ने ये फैसला अपने परिवार के साथ अधिक समय बिताने के लिए लिया है.

वाटलिंग ने Stuff.co.nz. से बात करते हुए कहा,

”खेल का स्टैंडर्ड इस वक्त चाहता है कि सिर्फ चलता रहा जाए. सच कहूं तो ये मेरे लिए थोड़ा मुश्किल हो रहा है. क्योंकि मेरा एक छोटा परिवार भी है. चीज़ें काफी व्यस्त हो रही हैं.”

उन्होंने आगे कहा,

”मेरा शरीर पूरा तरह से ठीक है. कुछ समय पहले मुझे लगता था कि शरीर थक रहा है. लेकिन अब ऐसा लगता है कि मैं शरीर के हिसाब से काफी फ्रेश हूं. लेकिन संन्यास के पीछे कुछ और कारण हैं. खासकर घर पर कुछ समय बिताना सबसे अहम कारण है.”

35 साल के वाटलिंग ने न्यूज़ीलैंड के लिए 73 टेस्ट, 28 वनडे और पांच टी20 मुकाबले खेले हैं. जिस कीवी टीम को केन विलियमसन ने वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल तक पहुंचाया, उसमें वाटलिंग का भी अहम किरदार रहा है. उन्होंने कीवी टीम के लोअर मिडिल ऑर्डर में इस दौर में 73 टेस्ट मैचों में आठ शतकों के साथ 3773 रन बनाए हैं.

अपने परिवार के साथ कुछ समय बिताने के लिए खेल को छोड़ने वाले वाटलिंग आने वाले समय में कोचिंग की तरफ भी जाने की चाह रखते हैं. उन्होंने कहा-

”हां मैं कोचिंग के बारे में सोच सकता हूं. अगले छह महीनों के बाद मैं देखूंगा कि गेम के बाद अब मेरे पास क्या ऑप्शन्स मौजूद हैं.”

न्यूज़ीलैंड की टीम इस महीने के आखिर में इंग्लैंड रवाना होगी. भारत के साथ 18 जून से होने वाले वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल से पहले वो इंग्लैंड के साथ दो मैचों की छोटी टेस्ट सीरीज़ खेलेगी. जिसका पहला मैच लॉर्ड्स में 2 जून से और दूसरे मैच बर्मिंघम में 10 जून से खेला जाएगा.


कोरोनावायरस के बीच केविन पीटरसन ने भारत से लौटते ही क्या कहा है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

यूपीः भाजपा नेताओं ने हिस्ट्रीशीटर को पुलिस की गिरफ्त से छुड़ाकर भगा दिया, पुलिस अब तक तलाश रही है

यूपीः भाजपा नेताओं ने हिस्ट्रीशीटर को पुलिस की गिरफ्त से छुड़ाकर भगा दिया, पुलिस अब तक तलाश रही है

कानपुर की घटना, पुलिस ने शुरुआती FIR में बीजेपी नेताओं का नाम ही नहीं लिखा.

राजस्थान में क्या सचमुच कोरोना वैक्सीन की जमकर बर्बादी हो रही है?

राजस्थान में क्या सचमुच कोरोना वैक्सीन की जमकर बर्बादी हो रही है?

अशोक गहलोत सरकार का इनकार, लेकिन आंकड़े कुछ और ही बता रहे.

रिटायर्ड जस्टिस अरुण मिश्रा को मोदी सरकार ने NHRC चेयरमैन बनाया तो बवाल क्यों हो रहा है?

रिटायर्ड जस्टिस अरुण मिश्रा को मोदी सरकार ने NHRC चेयरमैन बनाया तो बवाल क्यों हो रहा है?

लोग जस्टिस अरुण मिश्रा को इस पद के लिए चुने जाने का बस एक ही कारण गिना रहे हैं.

क्या कोरोना के कारण अनाथ हुए बच्चों को लेकर मोदी सरकार झूठ बोल रही है?

क्या कोरोना के कारण अनाथ हुए बच्चों को लेकर मोदी सरकार झूठ बोल रही है?

अलग-अलग आंकड़े क्या कहानी बताते हैं?

लक्षद्वीप में दारू और बीफ़ वाले नियमों पर बवाल बढ़ा तो अमित शाह ने क्या कहा?

लक्षद्वीप में दारू और बीफ़ वाले नियमों पर बवाल बढ़ा तो अमित शाह ने क्या कहा?

लक्षद्वीप के सांसद मोहम्मद फैज़ल ख़ुद मिलने गए थे अमित शाह से

पत्रकार से IAS बने अलपन बंदोपाध्याय, जो ममता और मोदी सरकार में रस्साकशी की नई वजह बन गए हैं

पत्रकार से IAS बने अलपन बंदोपाध्याय, जो ममता और मोदी सरकार में रस्साकशी की नई वजह बन गए हैं

ममता बनर्जी ने केंद्र के आदेश की क्या काट ढूंढ निकाली है?

वैक्सीनेशन पर सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को घेरा, पूछा- वैक्सीन का एक रेट क्यों नहीं?

वैक्सीनेशन पर सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को घेरा, पूछा- वैक्सीन का एक रेट क्यों नहीं?

वैक्सीन की कमी, राज्यों के टेंडर जैसे मुद्दों पर भी सरकार से तीखे सवाल किए.

यूपी के महोबा में कूड़ा ढोने वाली गाड़ी से शव मोर्चरी में पहुंचाया

यूपी के महोबा में कूड़ा ढोने वाली गाड़ी से शव मोर्चरी में पहुंचाया

विवाद बढ़ता देख अब जांच के आदेश दिए गए.

इस जिले के DM का आदेश- वैक्सीनेशन के बिना नहीं मिलेगी सरकारी कर्मचारियों को सैलरी

इस जिले के DM का आदेश- वैक्सीनेशन के बिना नहीं मिलेगी सरकारी कर्मचारियों को सैलरी

कुछ सरकारी कर्मचारियों ने इस फैसले पर नाराजगी जताई.

छेड़छाड़ कर स्लॉट गायब करने की बात पर सरकार ने कहा-कोविन प्लेटफॉर्म हैक नहीं हो सकता

छेड़छाड़ कर स्लॉट गायब करने की बात पर सरकार ने कहा-कोविन प्लेटफॉर्म हैक नहीं हो सकता

सोशल मीडिया पर कुछ लोगों का कहना है कि ऐप के साथ छेड़छाड़ कर स्लॉट गायब किए जा रहे हैं.