Submit your post

Follow Us

न्यूज़ीलैंड के कैप्टन ने फाइनल में पहुंचते ही पूछ डाला- क्या धोनी अपनी नागरिकता बदलेंगे?

5
शेयर्स

कल के सेमीफाइनल के बाद भारत की उम्मीद टूट गई. न्यूजीलैंड ने टीम इंडिया को 18 रनों से हराकर जीत का झंडा बुलंद किया. टीम इंडिया, लीग मैचों में भले ही चार्ट में टॉप रहा, लेकिन सेमीफाइनल में बात बनी नहीं. टीम इंडिया का प्रदर्शन रवीन्द्र जडेजा और एमएस धोनी के कारण काफी सराहा भी गया. न्यूज़ीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन से जब धोनी को लेकर सवाल किए गए, तो उन्होंने इस पर जो जवाब दिए वो वाकई काफी हैरान करने वाले थे.

# क्या बोले पत्रकारों से विलियम्सन-

भारत को हराने के बाद न्यूजीलैंड के कप्तान ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की. जिसमें पत्रकारों ने विलियम्सन से पूछा कि,

अगर आप इंडिया कैप्टेन होते तो, क्या आप आज धोनी को अपनी प्लेइंग इलेवन का हिस्सा बनाते?

इसके जवाब में विलियम्सन ने पत्रकार की अलग ही मौज ले ली.

पहले तो कहा कि, धोनी उनकी टीम में खेलने के लिए एलिबिजबल नहीं हैं. लेकिन इसके बाद उन्होंने जो जवाब दिया, वो विलियम्सन की स्पोर्ट स्पिरिट को दिखाता है-

विलियम्सन बोले कि, क्या धोनी अपनी नागरिकता बदलने के बारे में विचार कर रहे हैं? अगर ऐसा है तो उनका टीम में जरूर स्वागत होगा. जो अनुभव इस समय धोनी के पास है वो उन्हें विश्व का महान बल्लेबाज बनाता है. विलियम्सन ने धोनी और जडेजा की साझेदारी की तारीफ करते हुए कहा कि, जिस तरह दोनों खिलाड़ियों ने मिलकर भारतीय पारी के आखिरी विकेटों को संभाला वो वाकई तारीफ़ के लायक़ है.

हालांकि इस सवाल जवाब को सोशल मीडिया पर अलग ही ले गए लोग. ज़्यादातर तो विलियम्सन की तारीफ़ ही हुई लेकिन धोनी के जाबड़ फैन लोग को बुरा लग गया.

ये देखिए एक पाकिस्तानी फैन का जवाब-

और विलियम्सन की तारीफ़ भी ख़ूब हुई-

लोग न्यूज़ीलैंड टीम कप्तान विलियम्सन को बढ़िया स्पोर्ट्स पर्सन भी बता रहे हैं. कह रहे हैं कि जवाब काफ़ी अच्छा था. हालांकि स्पोर्ट्स स्पिरिट तो यही कहती है कि खेल और खिलाड़ियों को इसी तरह एक दूसरे का सम्मान करना चाहिए. यही तो खेल है.


वीडियो देखें:

कर्नाटक: डीके शिवकुमार इस बार कुमारस्वामी की सरकार बचाने के लिए क्या करेंगे

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
World Cup 2019: Is MS Dhoni is looking to change nationalities?

टॉप खबर

एक महीने से छात्र धरने पर हैं, किसी को परवाह नहीं

ये खबर हर स्टूडेंट को पढ़नी चाहिए.

बजट में सरकार ने अमीरों पर बंपर टैक्स लगाया

पेट्रोल-डीज़ल पर एक रुपया अतिरिक्त लेगी सरकार.

राहुल गांधी के पत्र की चार ख़ास बातें, तीसरी वाली में सारे देश की दिलचस्पी है

आज राहुल गांधी ने आखिरकार इस्तीफा दे ही दिया.

आकाश विजयवर्गीय पर मोदी बहुत नाराज़ हुए, उतना ही जितना साध्वी प्रज्ञा पर हुए थे!

"अफ़सोस! दिल से माफ़ नहीं कर पाएंगे."

नुसरत जहां के खिलाफ़ जिस फतवे पर बवाल मचा, वैसा फ़तवा जारी ही नहीं हुआ

निखिल से शादी के बाद सिन्दूर-साड़ी में संसद पहुंची थीं नुसरत

क्या ज़ायरा ने इस्लाम के लिए फ़िल्म लाइन छोड़ दी?

जिन चीज़ों से रील लाइफ में लड़कर सुपर स्टार बनीं, निजी ज़िंदगी में वो लड़ाई ही छोड़ दी है.

मायावती ने गठबंधन क्या तोड़ा, खुद की लुटिया ही डुबो ली है

गठबंधन तोड़कर अखिलेश और माया चवन्नी भर सीटें भी नहीं जीत रहे हैं.

खट्टर सरकार रेपिस्ट बाबा की जेल से छुट्टी का समर्थन कर रही, लेकिन जानिए ऐसा होना संभव क्यूं नहीं

जेल से छुट्टी क्यों चाह रहा है बलात्कारी बाबा राम रहीम?

चमकी बुखार में जिनके बच्चे मरे, उन्होंने विरोध किया तो केस दर्ज हो गया

बिहार में एक दो नहीं पूरे 39 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ है.

चमकी बुखार से पीड़ित परिवार से मिलने गए सांसद-विधायक को लोगों ने बंधक बना लिया

उधर सुप्रीम कोर्ट ने राज्य और केंद्र सरकार को नोटिस भेज दिया है.