Submit your post

Follow Us

प्रदर्शन नहीं, इस कारण से जाने वाली है कोहली की कप्तानी?

BCCI के एथिक्स ऑफिसर हैं डीके जैन. जैन ने बीते संडे कहा है कि वह इंडियन क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली के खिलाफ ‘कन्फ्लिक्ट ऑफ इंट्रेस्ट’ की शिकायत की जांच कर रहे हैं. यह शिकायत मध्य प्रदेश क्रिकेट असोसिएशन के आजीवन सदस्य संजीव गुप्ता ने की थी. गुप्ता पहले भी ऐसे ही मामलों में कई क्रिकेटर्स की शिकायत कर चुके हैं.

अपनी ताजा शिकायत में उनका आरोप है कि कोहली हितों के टकराव में आते हैं, क्योंकि उनके पास दो पोस्ट हैं- इंडियन क्रिकेट टीम के कैप्टन और एक ऐसी कंपनी के डायरेक्टर, जिसके को-डायरेक्टर्स का लिंक एक टैलेंट मैनेजमेंट कंपनी के पास है, जो कोहली के कई टीममेट्स का मैनेजमेंट संभालती है. गुप्ता के मुताबिक, यह BCCI के संविधान का उल्लंघन है, जो कि किसी एक व्यक्ति को कई पोजिशंस पर रहने से रोकता है.

# मामला क्या है?

इस मसले पर जैन ने PTI से कहा,

‘मुझे एक शिकायत मिली है. मैं इसका निरीक्षण करूंगा और फिर देखेंगे कि कोई केस बनता है या नहीं, अगर बना, तो मैं विराट कोहली को प्रतिक्रिया देने का मौका दूंगा.’

गुप्ता ने दावा किया है कि कोहली कॉर्नरस्टोन वेन्चर पार्टनर्स LLP और विराट कोहली स्पोर्ट्स LLP के डायरेक्टर्स में से एक हैं और उन पर हितों के टकराव का मामला बनता है, क्योंकि उनके सह-डायरेक्टर्स- अमित अरुण सजदेह (बंटी सजदेह) और बिनॉय भरत खिमजी, टैलेंट मैनेजमेंट कंपनी कॉर्नरस्टोन स्पोर्ट एंड एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड का भी हिस्सा हैं.

कोहली का कॉर्नरस्टोन स्पोर्ट एंड एंटरटेनमेंट में कोई रोल नहीं है. यह कंपनी कोहली, KL राहुल, ऋषभ पंत, रवींद्र जडेजा, उमेश यादव और कुलदीप यादव जैसे प्लेयर्स का मैनेजमेंट संभालती है. जानने लायक है कि बंटी की कजिन रितिका सजदेह इंडियन क्रिकेट टीम के वाइस कैप्टन रोहित शर्मा की बीवी हैं.

गुप्ता ने अपनी शिकायत में लिखा,

‘इसे देखते हुए, विराट कोहली एक वक्त में दो जिम्मेदारियां संभाल रहे हैं, जो कि सुप्रीम कोर्ट द्वारा अप्रूव्ड BCCI के नियम संख्या 38 (4) का उल्लंघन है. ऐसे में उन्हें एक पोस्ट छोड़नी ही चाहिए.’

पिछले ही महीने जैन को एक साल का एक्सटेंशन मिला था. इस एक्सटेंशन के बाद यह उन्हें मिली पहली हाई-प्रोफाइल शिकायत है. अपने पिछले कार्यकाल में उन्होंने राहुल द्रविड़, सौरव गांगुली, VVS लक्ष्मण और कपिल देव जैसे लेजेंड्स के खिलाफ मिली ऐसी ही शिकायतों पर सुनवाई की थी. यह सभी शिकायतें गुप्ता द्वारा की गई थीं और इन प्लेयर्स को अपनी एक-एक पोस्ट से रिजाइन करना पड़ा था. BCCI प्रेसिडेंट सौरव गांगुली पहले ही लोढ़ा कमिटी द्वारा बताए गए हितों के टकराव के नियमों को अव्यवहारिक करार दे चुके हैं.

इस मामले में कॉर्नरस्टोन की सफाई भी आ गई है. कॉर्नरस्टोन के CEO बंटी सजदेह ने इन आरोपों को निराधार बताया है.


हरभजन सिंह के करियर के पांच बड़े विवादों को जान लीजिए

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

दिल्ली की जेल में सजा काट रहे सिख दंगे के दोषी नेता की कोरोना से मौत हो गई

विधायक रह चुके इस नेता की कोरोना रिपोर्ट 26 जून को पॉज़िटिव आई थी.

श्रीलंका का ये क्रिकेटर हत्या के आरोप में गिरफ्तार

44 टेस्ट, 76 वनडे और 26 टी20 खेल चुका है.

लेह में दिए अपने भाषण में पीएम मोदी ने चीन का नाम लिए बिना क्या-क्या कहा?

जवानों पर, बॉर्डर के विकास पर, दुनिया की सोच पर बहुत कुछ बोला है.

ICMR ने एक महीने में कोरोना की वैक्सीन लॉन्च करने का झूठा दावा किया है!

क्या वैक्सीन के ट्रायल में घपला हो रहा है?

भारत-चीन के तनाव के बीच पीएम मोदी ने लद्दाख़ पहुंचकर किससे बात की?

पहले राजनाथ सिंह जाने वाले थे, नहीं गए.

मलेरिया वाली जिस दवा को कोरोना में जान बचाने के लिए इस्तेमाल कर रहे, वो उल्टा काम कर रही है?

हाईड्रॉक्सीक्लोरोक्विन पर चौंकाने वाली रिसर्च!

इस साल के आख़िर तक मिलने लगेगी कोरोना की 'मेड इन इंडिया' वैक्सीन!

भारत बायोटेक के अधिकारी ने क्या बताया?

'कोरोनिल' पर पतंजलि के आचार्य बालकृष्ण पूरी तरह यू-टर्न मार गए!

पतंजलि का दावा था कि 'कोरोनिल' दवा कोरोना वायरस ठीक करने में कारगर होगी.

चीन के ऐप तो बैन हो गए, पर उन भारतीयों का क्या जो इनमें काम करते हैं

चीनी ऐप के कर्मचारियों में घबराहट है.

चीनी ऐप पर बैन के बाद चीन ने भारत के बारे में क्या बयान दिया है?

भारत को कैसी जिम्मेदारी याद दिलाई चीन ने?