Submit your post

Follow Us

चीते की चाल, धोनी की कीपिंग और कोहली के कैच पर संदेह नहीं करते!

इंडिया वर्सेज़ साउथ अफ़्रीका. पहला वन डे मैच. डर्बन का किंग्समीड मैदान. वही मैदान जहां युवराज सिंह ने 6 छक्के मारे थे. इंग्लैंड के ख़िलाफ़. वर्ल्ड टी-20 2007 के दौरान. वहीं ये मैच खला जा रहा है. साउथ अफ़्रीका पहले बैटिंग कर रही थी. आधी इनिंग्स ख़तम हो चुकी थी. 28वां ओवर चल रहा था. पांचवीं गेंद. कुलदीप यादव की गेंद. मिलर ने ड्राइव करने के लिए काफ़ी जल्दी कमिट कर दिया और गेंद हवा में उछल गई. कुलदीप ने गेंद को फ्लाइट ज़रूर दी थी और इसी की वजह से मिलर ने आगे आकर मारने के लिए मन बना लिया और बल्ला लगा दिया.

कोहली तक गेंद पहुंची तो थी लेकिन उन तक पहुंचते पहुंचते गेंद गिरने वाली थी. उन्होंने आगे डाइव मारी और गेंद पकड़ ली. वो उठे और उंगली उठाते हुए बोले कि उन्होंने कैच ले लिया है. लेकिन उन्हीं के सामने खड़े डेविड मिलर ने असंतोष जताया. उनके हाव-भाव से मालूम चल रहा था कि उन्हें ऐसा लगता था कि गेंद कोहली के हाथों में जाने से पहले ज़मीन को छू गई थी. लिहाज़ा अम्पायर ने फ़ैसला थर्ड अम्पायर के पास भेजा. साथ ही सॉफ्ट सिग्नल आउट का भी दिया.

रीप्ले में साफ़ मालूम चला कि गेंद सीधे कोहली के हाथों में ही गई थी. और इस प्रकार मिलर आउट क़रार दिए गए. साउथ अफ़्रीका का पांचवां विकेट गिर चुका था. इनिंग्स सच में आधी ख़तम हो चुकी थी.


ये भी पढ़ें:

DRS नहीं लिया और बल्लेबाज आउट हो गया, साउथ अफ़्रीका का ध्यान किधर है?

थोड़ा और चूक जाते तो शाम तक न खेल पाते विराट कोहली

अज़हरुद्दीन का वो क्रिकेट रिकॉर्ड जो दुनिया में आज तक कोई नहीं तोड़ पाया है

क्रिकेट का वो काला दिन, जब दो भाइयों ने मिलकर मैदान पर सबसे गंदी चीटिंग की

इंग्लैंड मैच जीत रही थी, फिर अजय जडेजा आया और एक ओवर में मैच पलट दिया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

राजीव गांधी के हत्यारे को सुप्रीम कोर्ट ने रिहा किया, जानिए किस कानून का इस्तेमाल हुआ?

राजीव गांधी के हत्यारे को सुप्रीम कोर्ट ने रिहा किया, जानिए किस कानून का इस्तेमाल हुआ?

वो पेरारिवलन, जिसने राजीव गांधी की हत्या में इस्तेमाल जैकेट के लिए बैटरी सप्लाई की थी

सुप्रीम कोर्ट में बाबरी मस्जिद वाले जज सुनेंगे ज्ञानवापी मस्जिद वाला केस!

सुप्रीम कोर्ट में बाबरी मस्जिद वाले जज सुनेंगे ज्ञानवापी मस्जिद वाला केस!

मामला सुप्रीम कोर्ट क्यों गया?

LIC-IPO की लिस्टिंग पर लगी 42,500 करोड़ की चपत, अब क्या करें ?

LIC-IPO की लिस्टिंग पर लगी 42,500 करोड़ की चपत, अब क्या करें ?

ऑफर प्राइस से 8% नीचे लिस्ट हुआ देश का सबसे बड़ा IPO

मुंडका अग्निकांड: मृतकों का आंकड़ा 26 तक पहुंचा, बचाव के लिए NDRF को बुलाया गया

मुंडका अग्निकांड: मृतकों का आंकड़ा 26 तक पहुंचा, बचाव के लिए NDRF को बुलाया गया

इस घटना ने दिल्ली के लोगों को हिलाकर रख दिया है.

छत्तीसगढ़ के रायपुर एयरपोर्ट पर सरकारी हेलीकॉप्टर क्रैश, दो पायलटों की मौत

छत्तीसगढ़ के रायपुर एयरपोर्ट पर सरकारी हेलीकॉप्टर क्रैश, दो पायलटों की मौत

क्रैश का कारण अभी साफ नहीं हो सका है.

जम्मू-कश्मीर में एक और कश्मीरी पंडित की हत्या, आतंकियों ने सरकारी दफ्तर में घुसकर गोली मारी

जम्मू-कश्मीर में एक और कश्मीरी पंडित की हत्या, आतंकियों ने सरकारी दफ्तर में घुसकर गोली मारी

मृतक राहुल भट्ट राजस्व विभाग में कार्यरत थे.

क्या क्रिप्टो करंसी के बुरे दिन शुरू हो गए हैं ? छह महीने में आधी हो गईं कीमतें

क्या क्रिप्टो करंसी के बुरे दिन शुरू हो गए हैं ? छह महीने में आधी हो गईं कीमतें

30% इनकम टैक्स के बाद अब 28% जीएसटी लगाने की तैयारी

पेट्रोल के दाम घटाने की मांग कर रहे विपक्षी राज्यों को पीएम मोदी ने नवंबर याद दिला दिया

पेट्रोल के दाम घटाने की मांग कर रहे विपक्षी राज्यों को पीएम मोदी ने नवंबर याद दिला दिया

मुख्यमंत्रियों के साथ वर्चुअल मीटिंग में पीएम मोदी ने नाम ले-लेकर सुनाया.

धार्मिक जुलूस की अनुमति की प्रक्रिया जान लो, जहांगीरपुरी हिंसा की वजह समझ आ जाएगी

धार्मिक जुलूस की अनुमति की प्रक्रिया जान लो, जहांगीरपुरी हिंसा की वजह समझ आ जाएगी

जानकारों ने जहांगीरपुरी में निकले जुलूस पर सवाल उठाए हैं.

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे का सेनाध्यक्ष बनना खास क्यों है?

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे का सेनाध्यक्ष बनना खास क्यों है?

मौजूदा आर्मी चीफ मनोज मुकुंद नरवणे के रिटायर्ड होने पर पदभार संभालेंगे.