Submit your post

Follow Us

UCLA: मैनक सरकार ने मारी थी अमेरिकी प्रोफेसर को गोली

अमेरिका में एक यूनिवर्सिटी है, यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया लॉस एंजेल्स (UCLA). जहां एक प्रोफेसर की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. हत्या करने वाले लड़के की पहचान हो गई है. ये भारतीय-अमेरिकी मैनक सरकार था. ये लड़का वहां रिसर्च कर रहा था. पिछले बुधवार, इसने UCLA के प्रॉफेसर विलियम क्लग की गोली मारकर हत्या कर दी थी. जिसके बाद उसने खुद को भी गोली मार ली थी. ये लड़का दिमागी परेशानी से गुजर रहा था.

38 साल का मैनक सरकार आईआईटी खड़गपुर का छात्र रह चुका है. मैनक ने प्रोफेसर क्लग पर उसका रिसर्च चुराकर, किसी और स्टूडेंट को देने का आरोप लगाया था. पुलिस ने कहा है कि मैनक सरकार क्लग के रिसर्च ग्रुप में शामिल था. और मिनेसोटा से गाड़ी चलाकर लॉस एंजिलिस उन्हें मारने के लिए आया था.

यूसीएलए आने से पहले मैनक ने स्टेनफर्ड यूनिवर्सिटी से पोस्टग्रेजुशन किया था. पुलिस वालों का मानना है, मैनक मानसिक रूप से बीमार था. मैनक के पास एक सूची मिली है. जिसमें उसने उन लोगों के नाम लिख रखे हैं, जिन्हें वो मारना चाहता था. इस सूची के नामों में से एक, मिनेसोटा में रहने वाली औरत का शव भी पुलिस बरामद कर चुकी है. इस सूची में यूसीएलए के एक दूसरे प्रोफेसर का नाम भी था, हालांकि वो सुरक्षित हैं.

पुलिस को घटनास्थल से एक बंदूक और एक सुसाइड नोट भी मिला है. मैनक सरकार के मार्च में लिखे एक ब्लॉग में उसने कहा था कि उसके और यूसीएलए के प्रोफेसर बिल क्लग के बीच निजी मतभेद हैं.

लॉस एंजलिस टाइम्स अखबार के मुताबिक मैनक कंप्यूटराइज वर्चुअल हार्ट बनाने की कोशिश कर रहा था. मैनक ने पिछले कुछ महीनों से क्लग के खिलाफ सोशल मीडिया पर अभियान भी चला रखा था. ब्लॉग में प्रोफेसर क्लग पर आरोप है, ‘उन्होंने मुझे बहुत परेशान कर दिया है.’ ब्लॉग के अंत में लिखा है, ‘दुश्मन तो दुश्मन होता है. लेकिन आपका दोस्त ज्यादा नुकसान करता है. किसका भरोसा करना है इस पर सतर्क रहना चाहिए.’

लॉस एंजलिस के पुलिस अध्यक्ष चार्ली बेक ने बताया कि UCLA गोलीबारी के पीछे मैनक का ये शक था कि क्लग ने उसका रिसर्च चुरा लिया है. बेक के मुताबिक, यूसीएलए ने कहा कि ये सब मैनक की झूठी कल्पना थी.

यूसीएलए में लगभग 43 हजार छात्र पढ़ते हैं. इस घटना के बाद यूनिवर्सिटी को एक दिन के लिए बंद कर दिया गया था.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

प्रवासी मजदूरों को किराए पर सस्ते घर दिए जाएंगे, मोदी कैबिनेट के पांच फैसले जानिए

उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों के लिए क्या घोषणा की गई?

गैंगस्टर विकास दुबे की तलाश के बीच लखनऊ वाले घर का क्या होने वाला है?

LDA ने घर पर नोटिस चिपका दिया है.

नेपोटिज़म की बहस के बीच पूजा भट्ट ने कंगना के लिए कहा, 'हमने ही लॉन्च किया था'

कहा, "पूरी इंडस्ट्री की तुलना में कहीं ज्यादा नए टैलेंट, एक्टर्स, म्यूज़िशियन्स को हमने लॉन्च किया'.

इरफ़ान के बेटे की खरी बात, 'बॉक्स ऑफिस पर मेरे पिता ज़िंदगीभर सिक्स पैक एब्स वालों से हारते रहे'

"वो हारते रहे हांस्यास्पद वन लाइनर बोलने वालों से, फिजिक्स के नियमों को चुनौती देने वालों से".

कांग्रेस ने कहा- RGF की जांच तो ठीक, लेकिन क्या RSS की भी जांच कराएगी सरकार?

गांधी परिवार से जुड़े ट्रस्टों की जांच कराएगी सरकार, कांग्रेस ने पूछे ये छह सवाल.

जम्मू-कश्मीर के इस IPS अधिकारी को किस बात के लिए सस्पेंड कर दिया गया?

हाल ही में उन्होंने एक लेटर लिखा था, जो वायरल हो गया था.

पायल रोहतगी का अकाउंट ट्विटर ने उड़ा दिया, पायल बोलीं - 'सलमान के लोगों ने करवाया है'

इंस्टाग्राम पर दो वीडियो डालकर पायल ने खुद जानकारी दी. ट्विटर पर हंगामा हुआ पड़ा.

अन्नू कपूर की दो टूक - 'अगर नेपोटिज़म होता, तो अमिताभ, सनी देओल के बेटे टॉम क्रूज़ बन जाते'

'प्रिविलेज फैमली में पैदा हुए हो तो भी टैलेंट मैटर करता है' - अन्नू कपूर.

करण जौहर के करीबी ने बताया कि सुशांत मुद्दे पर हुई भयंकर ट्रोलिंग का उनपर कैसा भयानक असर हुआ है

"फोन करो तो हमेशा रोते रहते हैं. पूछते हैं उन्होंने ऐसा क्या किया कि उन्हें ये सबकुछ झेलना पड़ रहा है.''

चीन को लेकर नरेंद्र मोदी के किस पुराने बयान पर कांग्रेसी नेताओं ने अब उन्हें घेर लिया है?

जिस मुद्दे को लेकर पहले सवाल किया था, मोदी सरकार अब वही कर रही है.