Submit your post

Follow Us

छह अस्पतालों ने इलाज करने से मना कर दिया, आठ दिन की बच्ची मौत हो गई

आगरा में आठ दिन की एक बच्ची की मौत हो गई. उसे बुखार था और छह अस्पतालों ने उसका इलाज करने से मना कर दिया. 6 मई की रात जिला अस्पताल में बच्ची की मौत हो गई है. टाइम्स ऑफ़ इंडिया में छपी रिपोर्ट के मुताबिक़, बच्ची के पिता 10 घंटे तक बीमार बच्ची के साथ एक हॉस्पिटल से दूसरे हॉस्पिटल के चक्कर लगाते रहे लेकिन किसी ने इलाज़ नहीं किया.

बच्ची के पिता का नाम मंजीत सुतल है. उनकी पत्नी उषा ने 27 अप्रैल को एक प्राइवेट अस्पताल में बच्ची को जन्म दिया. मंजीत ने बताया कि बेटी जब पैदा हुई तो स्वस्थ थी. 4 मई को हल्का बुखार हुआ तो उसे वो नज़दीकी क्लिनिक लेकर गए. वहां कहा गया कि बच्ची को हॉस्पिटल लेकर जाएं. वह बेटी को एमजी रोड, प्रतापपुरा और शाहगंज रोड के चार हॉस्पिटल में लेकर गए, लेकिन सभी ने इलाज करने से मना कर दिया.

मंजीत ने बताया,

4 मई की शाम में मेरे एक दोस्त ने बताया कि एक प्राइवेट डॉक्टर मारुति एस्टेट क्रॉसिंग के पास मरीजों को देख रहे हैं. मैं भागा-भागा वहां गया लेकिन वहां के स्टाफ ने मुझे एक घंटे से ज्यादा इंतज़ार कराया. चेकअप करने के बाद डॉक्टर ने बताया कि इसे किसी और हॉस्पिटल में ले जाओ क्योंकि यहां वो सुविधाएं नहीं है, जो बच्ची को चाहिए. इसके बाद मैं बेटी को फतेहाबाद रोड के मल्टी स्पेशियलिटी हॉस्पिटल ले गया. यहां स्टाफ ने बताया कि डॉक्टर नहीं हैं.

मंजीत ने आगे कहा कि बच्ची की तबीयत ज्यादा बिगड़ी तो वह उसे लेकर जिला अस्पताल लेकर गए. रास्ते में बच्ची कुछ भी रिस्पॉन्ड नहीं कर रही थी, ऐसे में वो एक प्राइवेट अस्पताल में रुके, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत बताया. इसके बाद वह उसे जिला अस्पताल लेकर गए.

मामले को लेकर जिले के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर मुकेश कुमार वत्स ने बताया कि उन्हें मामले की कोई औपचारिक शिकायत नहीं मिली है. परिवार वालों को हेल्पलाइन नंबर 108 या 112 पर कॉल करना चाहिए था.

पिछले 15 दिनों में आगरा में मेडिकल लापरवाही के कम से कम ऐसे तीन मामले सामने आए हैं. जिन मरीजों को कोरोना वायरस नहीं था, उन्हें भी सरकारी और प्राइवेट हॉस्पिटल में इलाज नहीं किया गया.

इलाज़ नहीं होने के कारण गर्भ में बच्चे की मौत

22 अप्रैल को एक प्रेग्नेंट महिला का इलाज करने से दो प्राइवेट हॉस्पिटल्स ने इनकार कर दिया. वह करीब छह घंटे तक दर्द में रही. अंत में जब रात में 9 बजे उसे जिले के महिला हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया, तो डॉक्टर ने बताया कि बच्चे की मृत्यु गर्भ में ही हो गई है.

भाग दौड़ करते रहे लेकिन किसी डॉक्टर ने इलाज नहीं किया

24 अप्रैल को एक 12 साल के लड़के को पेट में दर्द था. छह प्राइवेट अस्पतालों ने इस लड़के का इलाज करने से मना कर दिया. अंत में लड़के को एसएन मेडिकल कॉलेज ले जाया गया जहां उसे कोरोना वायरस वाले आइसोलेशन वार्ड में रखा गया. आखिर में इस बच्चे की मौत हो गई.

इलाज के इंतजार में बच्चे की मौत

29 अप्रैल को तीन प्राइवेट अस्पतालों ने आठ महीने के बच्चे का इलाज करने से मना कर दिया. जब मां-पिता एसएन मेडिकल कॉलेज पहुंचे तो बच्चे की इलाज के इंतजार में मौत हो गई क्योंकि उसने पहले कागजी कारवाई करने को कहा गया था.

30 अप्रैल को, नेशनल कमीशन फॉर प्रोटेक्शन ऑफ चाइल्ड राइट्स (NCPCR) ने आगरा जिला प्रशासन को इन मामलों को लेकर नोटिस जारी किया था.


विडियो- कोरोना वायरस केस कम होने के दावे और शराब की दुकानों के खुलने पर एक्सपर्ट क्या कहते हैं?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

पश्चिम बंगाल: दुर्गा पूजा समितियों को दिए गए 50-50 रु. कहां खर्च होंगे, हाईकोर्ट ने बताया

पश्चिम बंगाल: दुर्गा पूजा समितियों को दिए गए 50-50 रु. कहां खर्च होंगे, हाईकोर्ट ने बताया

ममता बनर्जी की सरकार ने दुर्गा पूजा समितियों के लिए पैसे देने का ऐलान किया था.

ससुराल में बहू के अधिकारों को लेकर सुप्रीम कोर्ट का ये नया ऑर्डर आया है

ससुराल में बहू के अधिकारों को लेकर सुप्रीम कोर्ट का ये नया ऑर्डर आया है

इसे महिलाओं के हक में बड़ा फैसला बताया जा रहा है.

क्या है प्रियंका चोपड़ा की आने वाली फिल्म 'द व्हाइट टाइगर' की कहानी

क्या है प्रियंका चोपड़ा की आने वाली फिल्म 'द व्हाइट टाइगर' की कहानी

प्रियंका चोपड़ा मूवी में 'पिंकी मैडम' बनी हैं.

भारतीय सेना ने क्यों एक पाकिस्तानी आर्मी ऑफिसर की कब्र की मरम्मत कराई

भारतीय सेना ने क्यों एक पाकिस्तानी आर्मी ऑफिसर की कब्र की मरम्मत कराई

भारतीय सेना ने ट्वीट करके जानकारी दी है.

बाराबंकी: रेप के बाद दलित लड़की की हत्या, पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने से पहले कराया अंतिम संस्कार

बाराबंकी: रेप के बाद दलित लड़की की हत्या, पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने से पहले कराया अंतिम संस्कार

यूपी पुलिस ने जल्द ही केस सुलझाने का दावा किया है.

कैदी ने जेल में लगाई फांसी, पेट के अंदर पॉलिथीन में लिपटा मिला सुसाइड नोट

कैदी ने जेल में लगाई फांसी, पेट के अंदर पॉलिथीन में लिपटा मिला सुसाइड नोट

सुसाइड नोट में जेल प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाए हैं.

बलिया गोलीकांड के मुख्य आरोपी के पक्ष में बीजेपी विधायक ने ये तर्क दिए हैं?

बलिया गोलीकांड के मुख्य आरोपी के पक्ष में बीजेपी विधायक ने ये तर्क दिए हैं?

SDM, CO और पुलिस के सामने एक शख्स की हत्या कर दी गई थी, आधा दर्जन घायल हैं.

दिनेश कार्तिक ने KKR की कप्तानी छोड़ी तो गौतम गंभीर ने क्या कहा?

दिनेश कार्तिक ने KKR की कप्तानी छोड़ी तो गौतम गंभीर ने क्या कहा?

कार्तिक ने कप्तानी छोड़ने की क्या वजह बताई है?

पंजाब: शौर्य चक्र से सम्मानित बलविंदर सिंह की गोली मारकर हत्या

पंजाब: शौर्य चक्र से सम्मानित बलविंदर सिंह की गोली मारकर हत्या

कई आतंकवादी हमलों को किया था नाकाम, कई बार उन पर हमले हो चुके थे.

बायकॉट गैंग ने अब अक्षय कुमार की 'लक्ष्मी बम' में भी लव जिहाद का ऐंगल ढूंढ़ लिया है

बायकॉट गैंग ने अब अक्षय कुमार की 'लक्ष्मी बम' में भी लव जिहाद का ऐंगल ढूंढ़ लिया है

ट्रोल्स की मानें तो फिल्म की प्रोड्यूसर अलगाववादी हैं.