Submit your post

Follow Us

चीन-पाकिस्तान से जंग की तारीख क्या वाकई मोदी सरकार ने तय कर ली है?

क्या भारत और चीन के बीच जंग होना तय है? क्या पाकिस्तान से युद्ध होगा? अगर हां तो कब? वैसे तो इन सवालों के जवाब ‘हां’ में देने की स्थिति में शायद ही कभी कोई हो, लेकिन केंद्र में सरकार चला रही बीजेपी के यूपी में अध्यक्ष की बातों पर यकीन करें तो मोदी सरकार ने सबकुछ तय कर रखा है. यूपी बीजेपी चीफ स्वतंत्र देव सिंह का ये विडियो खूब वायरल हो रहा है. लोग उनकी बातों को राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के हालिया बयान से जोड़कर मायने निकालने में लगे हुए हैं.

यूपी बीजेपी के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह का ये विडियो बलिया जिले के सिकंदरपुर का बताया जा रहा है. 23 अक्‍टूबर को वह भाजपा विधायक संजय यादव के आवास पर थे. वहीं पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया. इसमें वह कह रहे हैं-

ये मोदी नीति है. सब तिथि तय है. कब क्या होना है. सब तय है. 370 धारा कब समाप्त होगा. राम मंदिर का निर्माण कब होगा. चीन से युद्ध कब होगा. पाकिस्तान से युद्ध कब होगा. ये सब तय करके रखा है.

स्वतंत्र देव सिंह का ये बयान ऐसे समय आया है, जब भारत और चीन के बीच लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर तनाव कम होने का नाम नहीं ले रहा है. देशों के हजारों सैनिक वहां तैनात हैं.

डोभाल ने क्या कहा था?

रक्षा मामलों में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल की बातों को काफी वजन दिया जाता है. शनिवार 24 अक्टूबर को उन्होंने ऋषिकेश के परमार्थ निकेतन आश्रम में एक बयान दिया था. टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, उन्होंने कहा था कि ये जरूरी नहीं कि हम केवल वहीं लड़ें, जहां आप (दुश्मन) चाहें. भारत वहां भी लड़ेगा, जहां से खतरा जन्म लेता है.

Doval
हाल ही में डोवाल ऋषिकेश पहुंचे थे

डोभाल ने आगे कहा,

हम अपने व्यक्तिगत हितों के लिए कभी आक्रमणकारी नहीं बने. हम जरूर लड़ेंगे, अपनी धरती पर भी और विदेशी धरती पर भी, लेकिन व्यक्तिगत लाभ के लिए नहीं बल्कि परमार्थ के लिए.

डोभाल के बयान को भारत-चीन तनाव से जोड़कर देखा जाने लगा. हालांकि सरकार की ओर से बाद में सफाई देते हुए कहा गया कि ये बयान किसी देश के संदर्भ में नहीं बल्कि अध्यात्मिक संदर्भ में था.

राजनाथ सिंह ने भी दिया था बयान

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह का भी रविवार को एक बयान आया था. बंगाल में विजयदशमी के मौके पर शस्त्रपूजन के बाद उन्होंने कहा था-

इस वक्त भारत और चीन की सीमा पर तनाव है. भारत का उद्देश्य है कि तनाव खत्म हो. बीच-बीच में नापाक कोशिशें होती रहती हैं लेकिन मैं आश्वस्त हूं कि भारत के जवान अपनी जमीन एक इंच भी किसी के पास नहीं जाने देंगे.

Rajnath Singh
रक्षा मंत्री ने ये फोटो अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर की.

राजनाथ ने कहा कि हाल-फिलहाल में सीमा पर जो कुछ भी हुआ है, उसके आधार पर मैं ये कह सकता हूं कि हमारे देश के जवानों ने जो भूमिका निभाई है, आगे जब इतिहास लिखा जाएगा, तब उनके शौर्य और बहादुरी का जिक्र स्वर्ण अक्षरों में किया जाएगा. त्रिशक्ति कोर ने जैसी भूमिका निभाई है, उसकी जितनी भी तारीफ की जाए, कम है. अगर आज यहां हम खड़े होकर बात कर रहे हैं तो इसमें भी त्रिशक्ति की भूमिका है.


वीडियो- मोहन भागवत की चीन और CAA-NRC पर कही बात सुनकर राहुल गांधी ने क्या कहा?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

कोयला घोटालाः अटल सरकार में मंत्री रहे दिलीप रे को तीन साल की जेल हो गई है

मामला 21 साल पुराना है.

क्या कहता है बिहार का पहला ओपिनियन पोल: NDA को मिलेगा बहुमत? नीतीश फिर बनेंगे सीएम?

लोकनीति और CSDS के ओपिनियन पोल की बड़ी बातें एक नजर में.

बिहार चुनाव में जितने उम्मीदवारों पर क्रिमिनल केस हैं, उससे ज्यादा तो करोड़पति हैं

आपराधिक छवि वालों की इतनी तादाद से साफ है कि दलों को लगता है, 'दाग' अच्छे हैं

बीजेपी विधायक ने कहा- अगर राहुल 'छेड़छाड़' वाली बात साबित कर दें, तो मैं इस्तीफा दे दूंगा

राहुल ने खबर शेयर की थी जिसमें लिखा था-बीजेपी विधायक रेप के आरोपी को थाने से छुड़ा ले गए.

बलिया गोलीकांड का मुख्य आरोपी गिरफ्तार

एसटीएफ की टीम ने लखनऊ से पकड़ा. बलिया पुलिस को हैंडओवर करेगी.

हैदराबाद में भारी बारिश से सड़कों पर भरा पानी, परीक्षाएं टलीं, 11 लोगों की मौत

एनडीआरएफ की टीम मदद में जुटी. लोगों से घरों में रहने की अपील.

सीएम जगनमोहन ने सुप्रीम कोर्ट के जज एनवी रमना की शिकायत चीफ जस्टिस से क्यों कर दी?

ये पूरा मामला तो वाकई हैरान कर देने वाला है.

फारुख अब्दुल्ला बोले- चीन के सपोर्ट से दोबारा लागू किया जाएगा अनुच्छेद 370

कहा- आर्टिकल 370 को हटाया जाना चीन कभी स्वीकार नहीं करेगा.

पीएम मोदी ने जिस स्वामित्व योजना की शुरुआत की है, उसके बारे में जान लीजिए

2024 तक देश के 6.62 लाख गांवों तक सुविधा पहुंचाने का लक्ष्य है.

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री ने CJI को चिट्ठी लिखी, सुप्रीम कोर्ट के जज एनवी रमन्ना पर लगाए गंभीर आरोप

जस्टिस एनवी रमन्ना अगले संभावित चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया बन सकते हैं.