Submit your post

Follow Us

स्मृति ईरानी ने अमेठी पहुंचकर पूर्व प्रधान सुरेंद्र सिंह की अर्थी को कंधा दिया

4.24 K
शेयर्स

अमेठी में स्मृति ईरानी के करीबी सुरेंद्र सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी गई. उन्होंने ईरानी की जीत में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी. सुरेंद्र सिंह को उस समय गोली मारी गई जब वह घर के बाहर सो रहे थे. जैसे ही इस बारे में स्मृति ईरानी को पता चला वह अमेठी पहुंच गईं. ईरानी न केवल परिवार से मिलीं. बल्कि सुरेंद्र सिंह की अंतिम यात्रा में शामिल हुईं. सुरेंद्र सिंह की अर्थी को कंधा दिया. ईरानी ने सुरेंद्र सिंह के पैर छूकर उन्हें अंतिम विदाई दी.

इस हत्या के मामले में उत्तर प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह का कहना है कि 7 संदिग्धों को हिरासत में लिया है. उनसे पूछताछ की जा रही है. रात तक गिरफ्तारी कर लेंगे. पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के आधार पर भी कार्रवाई की जा रही है. डीजीपी ने बतयाा कि आईजी अयोध्या मौके पर हैं. पीएसी और लोकल पुलिस मौजूद है. इस हत्या के मामले में पुलिस को महत्वपूर्ण सुराग मिले हैं. पुलिस सारे अंगल को देख रही है. हत्या का क्या कारण है यह बताना मुश्किल है. कुछ लोगों से सुरेंद्र सिंह की दुश्मनी थी. हाल ही में चुनाव हुए हैं. सुरेंद्र सिंह का पार्टिसिपेशन बहुत रहा है. उस एंगल को भी देख रहे हैं. सर्विलांस की भी मदद ली जा रही है. आईविटनेस नहीं था. ब्लाइंड मर्डर के तौर पर देख रहे हैं. हम जल्द ही क्रिमिनल को गिरफ्तार कर लेंगे.

अमेठी का गांव है बरौलिया. सुरेंद्र सिंह इस गांव के पूर्व प्रधान थे. रविवार भोर में 3 बजे अज्ञात बदमाशों ने उन्हें गोली मार दी. उन्हें लखनऊ के ट्रॉमा सेंटर ले जाया गया. रास्ते में ही उन्होंने दम तोड़ दिया. लोकसभा चुनाव में सुरेंद्र सिंह ने स्मृति ईरानी का जमकर चुनाव प्रचार किया था. सुरेंद्र सिंह का कई गावों में प्रभाव था. इसका फायदा बीजेपी को मिला.

सुरेंद्र सिंह के बेटे का कहना है कि उनके पिता पिता स्मृति ईरानी के करीबी थे. उनके लिए 24 घंटे चुनाव प्रचार में लगे रहते थे. जब वह अमेठी से जीत गईं विजय यात्रा निकाली गई थी. मुझे लगता है कि कांग्रेस के कुछ समर्थकों को ये बात पसंद नहीं आई. हमें कुछ लोगों पर शक है.


कन्नौज में कैसे सुब्रत पाठक ने डिंपल यादव को हराया?| दी लल्लनटॉप शो| Episode 223

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

नेहरु से इतना प्यार? मोदी अब बिना कांग्रेस के नेहरू का ख्याल रखेंगे

एक भी कांग्रेस का नेता नहीं. एक भी नहीं.

शरद पवार बोले- महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगने से बचाना है, तो बस एक ही तरीका है

शिवसेना के साथ मिलकर सरकार बनाने की मिस्ट्री पर क्या कहा?

मोदी को क्लीन चिट न देने वाले चुनाव अधिकारी को फंसाने का तरीका खोज रही सरकार!

11 कंपनियों से सरकार ने कहा, कोई भी सबूत निकालकर लाओ

दफ़्तर में घुसकर महिला तहसीलदार पर पेट्रोल छिड़का, फिर आग लगाकर ज़िंदा जला दिया

इस सबके पीछे एक ज़मीन विवाद की वजह बताई जा रही है. जिसने आग लगाई, वो ख़ुद भी झुलसा.

दिल्ली के तीस हजारी कोर्ट में पुलिस और वकीलों के बीच झड़प, गाड़ियां फूंकी

पुलिस और वकील इस झड़प की अलग-अलग कहानी बता रहे हैं.

US ने जारी किया विडियो, देखिए कैसे लादेन स्टाइल में किया गया बगदादी वाला ऑपरेशन

अमेरिका ने इस ऑपरेशन से जुड़े तीन विडियो जारी किए हैं.

लल्लनटॉप कहानी लिखिए और एक लाख रुपये का इनाम जीतिए

लल्लनटॉप कहानी कंपटीशन लौट आया है. आपका लल्लनटॉप अड्डे पर पहुंचने का वक्त आ गया है.

अमेठी: पुलिस हिरासत में आरोपी की मौत, 15 पुलिसवालों के खिलाफ केस दर्ज

मौत कैसे हुई? मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए गए हैं.

PMC खाताधारकों ने बीजेपी नेता को घेरा, तो पुलिस ने उन्हें बचाकर निकाला

RBI के साथ मीटिंग करने पहुंचे थे.

इस विदेशी सांसद को कश्मीर आने का न्योता दिया फिर कैंसल कर दिया, वजह हैरान करने वाली है

सांसद ने ऐसी शर्त रख दी थी कि विदेशी डेलिगेशन का हिस्सा नहीं बन पाए.