Submit your post

Follow Us

ऋषि कपूर की बेटी रिद्धिमा 1400 किलोमीटर का रास्ता तय कर पहुंचेंगी मुंबई!

30 अप्रैल की सुबह मुंबई के एचएन रिलायंस अस्पताल में ऋषि कपूर ने आखिरी सांस ली. इस दौरान उनकी पत्नी और एक्ट्रेस नीतू कपूर उनके साथ थीं.

ऋषि कपूर की बेटी रिद्धिमा दिल्ली में रहती हैं. लॉकडाउन की वजह से शुरुआत में कहा जा रहा था कि वह ऋषि के अंतिम संस्कार में शामिल नहीं हो पाएंगी. अब खबर है कि रिद्धिमा कार से मुंबई जाएंगी.

NDTV की रिपोर्ट के मुताबिक़, रिद्धिमा ने कथित तौर पर केंद्रीय गृह मंत्रालय से 29 अप्रैल की रात चार्टेड फ्लाइट से मुंबई जाने की इजाज़त मांगी थी. सूत्रों के हवाले से NDTV ने लिखा है कि इसकी इजाज़त सिर्फ गृहमंत्री अमित शाह दे सकते हैं. रिद्धिमा के पास एक ऑप्शन यह है कि वह गाड़ी से मुंबई जाएं.

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक़, रिद्धिमा ने साउथ ईस्ट दिल्ली के डीसीपी से मूवमेंट पास की परमिशन मांगी थी. 30 अप्रैल की सुबह 10:30 बजे उन्हें परमिशन मिल गई. पांच लोगों के लिए. दिल्ली से मुंबई की दूरी करीब 1400 किलोमीटर है. अगर कोई ड्राइव करके दिल्ली से मुंबई जाए तो करीब 18 घंटे लगते हैं.

अंतिम संस्कार चंदनवाड़ी श्मशान घाट पर

ऋषि कपूर की बॉडी अभी हॉस्पिटल में ही है. ऋषि कपूर का अंतिम संस्कार मरीन लाइंस के चंदनवाड़ी श्मशान घाट पर किया जाएगा. ऋषि कपूर के अंतिम दर्शन को बॉलीवुड एक्ट्रेस आलिया भट्ट भी हॉस्पिटल पहुंची हैं. करीना कपूर, सैफ अली खान भी पहुंच गए हैं. इसके अलावा अभिषेक बच्चन और परिवार के करीबी लोग भी हॉस्पिटल पहुंच गए हैं.

हालिया दिनों में लगातार बीमार रहे ऋषि

ऋषि कपूर को 29 अप्रैल की देर रात अस्पताल में भर्ती कराया गया था. उनके भाई रणधीर कपूर ने जानकारी दी थी कि उनकी तबीयत ठीक नहीं है. साल 2018 में उनको कैंसर होने का पता चला था. इलाज के लिए वो न्यूयॉर्क गए. करीब एक साल तक ऋषि वहीं रहे. नीतू भी उनके साथ रहीं. रनबीर कपूर भी समय-समय पर वहां जाते रहे. पिछले साल सितंबर में वो वापस भारत आए. ‘हिंदुस्तान टाइम्स’ से बातचीत में उन्होंने कहा था कि वो दोबारा एक्टिंग करना चाहते हैं. और खुद को एनर्जी से भरा हुआ महसूस कर रहे हैं.

दो महीने पहले भी एडमिट हुए थे

‘द हिंदू’ की रिपोर्ट के मुताबिक, ऋषि कपूर फरवरी में भी दो बार अस्पताल में एडमिट हुए थे. पहले दिल्ली के एक अस्पताल में, जहां वो एक फैमिली फंक्शन में शामिल होने गए थे. बाद में जब वो मुंबई लौटे, तो दोबारा अस्पताल में भर्ती हुए. तब खबर आई थी कि उन्हें वायरल फीवर हुआ है.


विडियो- मुल्क फिल्म में ऋषि कपूर को लेकर अनुभव सिन्हा ने क्या कहा?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

राजीव गांधी के हत्यारे को सुप्रीम कोर्ट ने रिहा किया, जानिए किस कानून का इस्तेमाल हुआ?

राजीव गांधी के हत्यारे को सुप्रीम कोर्ट ने रिहा किया, जानिए किस कानून का इस्तेमाल हुआ?

वो पेरारिवलन, जिसने राजीव गांधी की हत्या में इस्तेमाल जैकेट के लिए बैटरी सप्लाई की थी

सुप्रीम कोर्ट में बाबरी मस्जिद वाले जज सुनेंगे ज्ञानवापी मस्जिद वाला केस!

सुप्रीम कोर्ट में बाबरी मस्जिद वाले जज सुनेंगे ज्ञानवापी मस्जिद वाला केस!

मामला सुप्रीम कोर्ट क्यों गया?

LIC-IPO की लिस्टिंग पर लगी 42,500 करोड़ की चपत, अब क्या करें ?

LIC-IPO की लिस्टिंग पर लगी 42,500 करोड़ की चपत, अब क्या करें ?

ऑफर प्राइस से 8% नीचे लिस्ट हुआ देश का सबसे बड़ा IPO

मुंडका अग्निकांड: मृतकों का आंकड़ा 26 तक पहुंचा, बचाव के लिए NDRF को बुलाया गया

मुंडका अग्निकांड: मृतकों का आंकड़ा 26 तक पहुंचा, बचाव के लिए NDRF को बुलाया गया

इस घटना ने दिल्ली के लोगों को हिलाकर रख दिया है.

छत्तीसगढ़ के रायपुर एयरपोर्ट पर सरकारी हेलीकॉप्टर क्रैश, दो पायलटों की मौत

छत्तीसगढ़ के रायपुर एयरपोर्ट पर सरकारी हेलीकॉप्टर क्रैश, दो पायलटों की मौत

क्रैश का कारण अभी साफ नहीं हो सका है.

जम्मू-कश्मीर में एक और कश्मीरी पंडित की हत्या, आतंकियों ने सरकारी दफ्तर में घुसकर गोली मारी

जम्मू-कश्मीर में एक और कश्मीरी पंडित की हत्या, आतंकियों ने सरकारी दफ्तर में घुसकर गोली मारी

मृतक राहुल भट्ट राजस्व विभाग में कार्यरत थे.

क्या क्रिप्टो करंसी के बुरे दिन शुरू हो गए हैं ? छह महीने में आधी हो गईं कीमतें

क्या क्रिप्टो करंसी के बुरे दिन शुरू हो गए हैं ? छह महीने में आधी हो गईं कीमतें

30% इनकम टैक्स के बाद अब 28% जीएसटी लगाने की तैयारी

पेट्रोल के दाम घटाने की मांग कर रहे विपक्षी राज्यों को पीएम मोदी ने नवंबर याद दिला दिया

पेट्रोल के दाम घटाने की मांग कर रहे विपक्षी राज्यों को पीएम मोदी ने नवंबर याद दिला दिया

मुख्यमंत्रियों के साथ वर्चुअल मीटिंग में पीएम मोदी ने नाम ले-लेकर सुनाया.

धार्मिक जुलूस की अनुमति की प्रक्रिया जान लो, जहांगीरपुरी हिंसा की वजह समझ आ जाएगी

धार्मिक जुलूस की अनुमति की प्रक्रिया जान लो, जहांगीरपुरी हिंसा की वजह समझ आ जाएगी

जानकारों ने जहांगीरपुरी में निकले जुलूस पर सवाल उठाए हैं.

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे का सेनाध्यक्ष बनना खास क्यों है?

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे का सेनाध्यक्ष बनना खास क्यों है?

मौजूदा आर्मी चीफ मनोज मुकुंद नरवणे के रिटायर्ड होने पर पदभार संभालेंगे.