Submit your post

Follow Us

चीन से भारत के लिए चली टेस्टिंग किट की खेप अमरीका निकल गयी!

लॉकडाउन वग़ैरह तो सब ठीक है, लेकिन एक सवाल है. सरकार से. पूछा जा रहा है कि इंडिया में मास टेस्टिंग कब शुरू होगी? और होगी कैसे? रैपिड टेस्टिंग किट से. लेकिन भारत में रैपिड टेस्टिंग किट के आने की डेडलाइन दो बार आगे बढ़ चुकी है. और कहा जा रहा है कि चीन से भारत आने वाली रैपिड टेस्टिंग किट या रैपिड ऐंटीबाडी टेस्ट किट रास्ता पलटकर अमरीका चली गयी.

सबसे पहले रैपिड टेस्टिंग किट 5 अप्रैल को आने वाली थी. नहीं आयी. फिर अगली तारीख़ मिली 10 अप्रैल. इस दिन भी नहीं. अब तीसरी तारीख़ मिली. 15 अप्रैल. स्वास्थ्य विभाग और ICMR आशा लगाए हैं कि कम से कम तीसरी तारीख़ को तो सबकुछ ठीक हो जाए. टेस्टिंग किट आ जाएं. और भारत बड़े स्केल पर टेस्टिंग कर सके.

ICMR के एक प्रवक्ता ने बिज़्नेस टुडे से बातचीत में बताया,

“हमने 5 लाख रैपिड टेस्टिंग किट का ऑर्डर दिया था. उन्हें पिछले हफ़्ते ही भारत आ जाना था. लेकिन दुर्भाग्यवश वो नहीं हो सका. अब हम आशा कर रहे हैं कि इस हफ़्ते टेस्टिंग किट्स इंडिया आ जाएं.”

लेकिन क्यों बार-बार टेस्टिंग किट की तारीख़ आगे बढ़ जा रही है? क्योंकि ये टेस्टिंग किट चीन से भारत आ रही थीं, लेकिन कहा जा रहा है कि ये चली गयीं अमरीका. सबसे पहले तमिलनाडु के चीफ सेक्रेटरी के शनमुगम ने मीडिया से बातचीत करते हुए इस बारे में कहा था. वे अकेले तमिलनाडु द्वारा दिए गए 4 लाख टेस्टिंग किट के ऑर्डर के ऊपर जानकारी दे रहे थे. बताया कि चीन से भारत आ रहा कन्सायन्मेंट अमरीका की ओर मुड़ गया.

अलग-अलग राज्यों ने भी टेस्टिंग किट के लिए अपने ऑर्डर दिए थे. लेकिन दावे बेहद सनसनीख़ेज़. (प्रतीकात्मक तस्वीर)
अलग-अलग राज्यों ने भी टेस्टिंग किट के लिए अपने ऑर्डर दिए थे. लेकिन दावे बेहद सनसनीख़ेज़. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

लेकिन केंद्र सरकार ने देशभर के लिए टेस्टिंग किट की जो पहली खेप ऑर्डर की है, उसके बारे में ICMR के अधिकारियों को ख़ास जानकारी नहीं है. हिंदुस्तान टाइम्स में छपी ख़बर के हवाले से बात कर रहे हैं. ICMR के Division of epidemiology and communicable disease के हेड डॉ. रमन गंगाखेडकर ने कहा,

“हम इस बारे में कुछ नहीं बता सकते हैं कि हमारे पास आ रही टेस्टिंग किट हमारे यहां ना आकर क्या कहीं और चली गयीं? हमारे पास कमर्शियल आंकड़े नहीं हैं. हम बस इतना जानते हैं कि चीन से टेस्टिंग किट 15 अप्रैल को आनी हैं.”

इस सबके साथ लाइसेंस का भी लफड़ा है. क्वालिटी टेस्ट का भी. बहुत सारे चीनी टेस्ट किट के फ़ेल होने की ख़बरें चलीं. इसके बाद चीन ने अपने रेगुलेटर को बीच में बिठा दिया. रेगुलेटर यानी National Medical Product Administration (NMPA). चीन में बने टेस्ट किट दूसरे देशों में निर्यात किए जायें, इसके लिए ज़रूरी है कि NMPA से प्रोडक्ट पास होना चाहिए. और ख़बरों की मानें तो पूरे चीन के दर्जन भर उत्पादकों के पास ही अभी तक NMPA का कलीयरेंस है. और इस बारे में बिज़्नेस टुडे में प्रकाशित ख़बर बताती है कि ये दर्जन भर उत्पादक दबाव में हैं. दबाव ये कि भारत जैसे देशों के लिए तैयार की गयी टेस्ट किट्स को अमरीका और अन्य यूरोपीय देशों की तरफ़ मोड़ दिया जाए.


लल्लनटॉप वीडियो : कोरोना वायरस के ‘हॉटस्पॉट’ में रहने वालों, मोबाइल नेटवर्क पर असर पड़ सकता है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

कर्नाटक: लॉकडाउन बढ़ा फिर भी नहीं मान रहे लोग, रथयात्रा में सैकड़ों लोग शामिल हुए

सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ीं.

हरभजन सिंह से जानें, क्यों पक्की होगी T20 वर्ल्ड कप टीम में धोनी की जगह?

आप धोनी को कैसे जज करेंगे?

ZOOM अनसेफ है, फिर भी इस्तेमाल करना चाहते हैं तो क्या करें? सरकार ने बताया

सरकारी दफ्तरों में इस ऐप का इस्तेमाल पहले ही बंद हो चुका है.

पोलॉक ने बताया ऑस्ट्रेलिया में शॉर्ट बॉल्स से कैसे निपटते थे सचिन

सचिन ने उन्हें खुद बताया था.

ICMR ने बताया किसका कोरोना वायरस टेस्ट होगा और किसका नहीं?

ICMR के प्रतिनिधि डॉ. रमन आर गंगाखेड़कर ने बताया कि रैपिड टेस्टिंग कैसे होगी.

शाहरुख ख़ान के इस टीवी सीरियल में रेणुका शहाणे के पीछे जंगली भालू दौड़ पड़ा था

रेणुका शहाणे ने शाहरुख के साथ अपने शो 'सर्कस' की मेकिंग की बातें बताई हैं. ये शो फिर टेलीकास्ट हो रहा है.

भारत में अब तक कितने टेस्ट हुए हैं और पॉज़िटिव मामलों की रफ्तार कितनी खतरनाक है?

टेस्ट पॉजिटिविटी रेट क्या है?

जो 'रामायण' की टीआरपी से खुश हैं, वो 'महाभारत' के बारे में जानकर बौखला जाएंगे

युधिष्ठिर ने बताया, 'महाभारत' ने देखे जाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया और गिनीज़ बुक में शामिल हो गया.

मुहम्मद कैफ ने के एल राहुल से कीपिंग करवाने पर जो कहा है, वो शायद इंडियन फैन्स को पसंद न आए

राहुल द्रविड़ की तरह ही के एल राहुल से भी फुल टाइम विकेटकीपिंग करवाने की बात चल रही है.

अफवाह फैली कि मोदी ने पैसा भेजा है, नहीं निकाला तो वापस चला जाएगा, भीड़ टूट पड़ी

पैसा निकालने के लिए सुबह आठ बजे से ही लोग बैंक पहुंच रहे हैं.