Submit your post

Follow Us

कोरोना वायरस : प्रधानमंत्री मोदी ने देशवासियों से एक दिन के लिए 'जनता कर्फ्यू' की अपील की

चीन के वुहान शहर से शुरू हुए ख़तरनाक कोरोनावायरस का कहर दुनियाभर में ज़ारी है. भारत में भी इस वायरस के मामले सामने आए हैं. भारत सरकार राज्य सरकारों के साथ मिलकर इस वायरस को और ज्यादा फैलने से रोकने के लिए हरसंभव प्रयास कर रही है. कई राज्यों में भीड़भाड़ वाली जगहों पर इकट्ठा होने पर पाबंदियां लगा दी गई हैं. संक्रमित मरीजों के इलाज़ के लिए आइसोलेशन वार्ड्स बनाए गए हैं. समय-समय पर सरकार की ओर से बचाव के उपाय भी बताए जा रहे हैं. इसी क्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 19 मार्च 2020 को रात आठ बजे राष्ट्र को संबोधित किया.

इस संबोधन के दौरान उन्होंने 22 मार्च के दिन ‘जनता कर्फ़्यू’ की अपील की. उन्होंने इस महामारी से लड़ने के लिए जनता के सहयोग की अपील की.

इस संबोधन में उन्होंने और क्या-क्या कहा, जान लीजिए-

1. पीएम ने कहा, पूरा विश्व इस वक्त संकट के बड़े गंभीर दौर से गुज़र रहा है. आमतौर पर जब कभी कोई प्राकृतिक संकट आता है, तो कुछ एक देशों या राज्यों तक सीमित रहता है. पहली बार दुनिया भर के सभी देश इस संकट से जूझ रहे हैं.

2. इन दो महीनों में भारत के 130 करोड़ नागरिकों ने कोरोना वैश्विक महामारी का डटकर मुकाबला किया है, आवश्यक सावधानियां बरती हैं. लेकिन, बीते कुछ दिनों से ऐसा भी लग रहा है जैसे हम संकट से बचे हुए हैं, सब कुछ ठीक है.

3. वैश्विक महामारी कोरोना से निश्चिंत हो जाने की ये सोच सही नहीं है. इसलिए प्रत्येक भारतवासी का सजग रहना, सतर्क रहना बहुत आवश्यक है.

4. मुझे आपके आने वाले कुछ सप्ताह चाहिए, आपका आने वाला कुछ समय चाहिए.

5. अभी तक विज्ञान, कोरोना महामारी से बचने के लिए, कोई निश्चित उपाय नहीं सुझा है और न ही इसकी कोई वैक्सीन बन पाई है. ऐसे में चिंता बढ़ना स्वाभाविक है.

6. कुछ देशों में शुरुआती कुछ दिनों के बाद अचानक बीमारी का जैसे विस्फोट हुआ है. इन देशों में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या बहुत तेजी से बढ़ी है. भारत सरकार इस स्थिति पर, कोरोना के फैलाव के इस ट्रैक रिकॉर्ड पर पूरी तरह नजर रखे हुए है.

7. आज जब बड़े-बड़े और विकसित देशों में हम कोरोना महामारी का व्यापक प्रभाव देख रहे हैं, तो भारत पर इसका कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा, ये मानना गलत है.

8. इस वैश्विक महामारी का मुकाबला करने के लिए दो प्रमुख बातों की आवश्यकता है. पहला- संकल्प और दूसरा- संयम.

9. पीएम ने कहा कि आज हमें ये संकल्प लेना होगा कि हम स्वयं संक्रमित होने से बचेंगे और दूसरों को भी संक्रमित होने से बचाएंगे. इस तरह की वैश्विक महामारी में, एक ही मंत्र काम करता है- “हम स्वस्थ तो जग स्वस्थ”.

10. संयम का तरीका क्या है- भीड़ से बचना, घर से बाहर निकलने से बचना. आजकल जिसे Social Distancing कहा जा रहा है, कोरोना वैश्विक महामारी के इस दौर में, ये बहुत ज्यादा आवश्यक है.

11. इसलिए मेरा सभी देशवासियों से ये आग्रह है कि आने वाले कुछ सप्ताह तक, जब बहुत जरूरी हो तभी अपने घर से बाहर निकलें.

12. मेरा एक और आग्रह है कि हमारे परिवार में जो भी सीनियर सिटिजन्स हों, 65 वर्ष की आयु के ऊपर के व्यक्ति हों, वो आने वाले कुछ सप्ताह तक घर से बाहर न निकलें.

13. बेवज़ह अस्पतालों के चक्कर न लगाएं. अगर बहुत ज़रूरी न हो तो अपने आसपास के डॉक्टरों से ही काम चलाने की कोशिश करें.

‘जनता कर्फ़्यू’ की अपील

पीएम ने कहा, मैं आज प्रत्येक देशवासी से एक और समर्थन मांग रहा हूं. ये है जनता-कर्फ्यू. जनता कर्फ्यू यानी जनता के लिए, जनता द्वारा खुद पर लगाया गया कर्फ्यू. पीएम ने कहा कि 22 मार्च, रविवार के दिन सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक सभी लोगों को जनता कर्फ़्यू का पालन करना है. ये बताएगा कि हम कोरोना महामारी के संकट से निपटने के लिए कितने तैयार हैं. प्रधानमंत्री ने अपील की कि हर व्यक्ति जनता कर्फ़्यू के बारे में कम से कम 10 और लोगों को बताने की कोशिश करें.

उन्होंने कहा कि इस मुश्किल वक्त में आवश्यक सेवाएं, जैसे कि मेडिकल सुविधाएं, सूचना सेवाएं, स्वच्छता सेवाएं, होम डिलिवरी, एयरलाइंस सेवाएं, परिवहन सेवाएं आदि पहले की तरह चलती रहेंगी. पीएम ने कहा कि संक्रमण के खतरे के बावजूद आवश्यक सेवाएं हम तक पहुंचा रहे हैं. देश ऐसे सभी लोगों और संगठनों का कृतज्ञ है.

रविवार को ठीक 5 बजे, हम अपने घर के दरवाजे पर खड़े होकर, बालकनी में, खिड़कियों के सामने खड़े होकर 5 मिनट तक ऐसे लोगों का आभार व्यक्त करें. उन्होंने स्थानीय प्रशासन से आग्रह किया कि वे 22 मार्च को शाम पांच बजे साइरन बजाकर इसकी सूचना लोगों तक पहुंचाएं.

पीएम ने अपील की कि उच्च आय वर्ग के लोग जिनकी सेवाएं लेते हैं, उनके आर्थिक हितों का ध्यान रखें. वेतन न काटें. इस मामले में मानवीय और संवेदनशीलता के साथ फैसले लें.

टास्क फ़ोर्स का गठन

पीएम ने बताया कि कोरोना महामारी से उत्पन्न हो रही आर्थिक चुनौतियों को ध्यान में रखते हुए, वित्त मंत्री के नेतृत्व में सरकार ने एक कोविड-19-Economic Response Task Force के गठन का फैसला लिया है. ये टास्क फोर्स, ये भी सुनिश्चित करेगी कि, आर्थिक मुश्किलों को कम करने के लिए जितने भी कदम उठाए जाएं, उन पर प्रभावी रूप से अमल हो.

उन्होंने आश्वस्त किया कि देश में दूध, खाने-पीने का सामान, दवाइयां, जीवन के लिए ज़रूरी ऐसी आवश्यक चीज़ों की कमी ना हो इसके लिए तमाम कदम उठाए जा रहे हैं. इसको इमरजेंसी की तरह स्टॉक न करें.

अपने संबोधन के अंत में प्रधानमंत्री मोदी ने भरोसा जताया कि देशवासी इस संकट की घड़ी में अपने कर्तव्यों और दायित्वों का निर्वहन करते रहेंगे. पीएम ने नवरात्रि का जिक्र करते हुए कहा कि पूरा देश पूरी शक्ति के साथ आगे बढ़ेगा.


वीडियो: साइंसकारी: कोरोना वायरस कितनी गर्मी झेल पायेगा?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

'लक्ष्मी बम' हॉटस्टार पर नहीं आएगी, लोग कह रहे अक्षय डर गए

'लक्ष्मी बम' हॉटस्टार पर नहीं आएगी, लोग कह रहे अक्षय डर गए

अक्षय 'बेल बॉटम' की शूटिंग में बिज़ी हैं.

नोवाक जोकोविच ने मैच के दौरान बहुब्बड़ी गलती कर दी और US ओपन से उनकी छुट्टी हो गई

नोवाक जोकोविच ने मैच के दौरान बहुब्बड़ी गलती कर दी और US ओपन से उनकी छुट्टी हो गई

इस पूरी घटना पर नोवाक ने क्या कहा?

CSK के बाद अब दिल्ली कैपिटल्स से बुरी खबर आई है

CSK के बाद अब दिल्ली कैपिटल्स से बुरी खबर आई है

क्या कोरोना प्रूफ हो पाएगा इस बार का IPL?

CSK के CEO ने बताया- इस कठिन वक्त से कौन निकालेगा टीम की नैया!

CSK के CEO ने बताया- इस कठिन वक्त से कौन निकालेगा टीम की नैया!

रैना, भज्जी, कोविड सबसे पार पाएगा अपना थलाइवन.

विराट कोहली की नींद क्यों उड़ा रही होगी ऑस्ट्रेलिया की लगातार दूसरी हार?

विराट कोहली की नींद क्यों उड़ा रही होगी ऑस्ट्रेलिया की लगातार दूसरी हार?

आरोन फिंच की एक ग़लती ने इंग्लैंड की बल्ले-बल्ले कर दी.

ऑयन मॉर्गन की इस 'सुपर थ्रो' ने स्टीव स्मिथ को 'रुला' दिया!

ऑयन मॉर्गन की इस 'सुपर थ्रो' ने स्टीव स्मिथ को 'रुला' दिया!

स्टीव स्मिथ बड़ी जल्दबाज़ी में थे फिर अचानक खेल पलट गया.

आठ साल बाद इस दर्द से दो-चार हुए डेविड वॉर्नर!

आठ साल बाद इस दर्द से दो-चार हुए डेविड वॉर्नर!

किसी ने सोचा ही नहीं था कि ये होगा.

कौन बनेगा चेन्नई सुपर किंग्स का अगला कप्तान? ब्रावो ने बताई राज की बात

कौन बनेगा चेन्नई सुपर किंग्स का अगला कप्तान? ब्रावो ने बताई राज की बात

धोनी के उत्तराधिकारी की बात है.

यूपी: ज़मीन विवाद में पूर्व विधायक की पीट-पीटकर हत्या!

यूपी: ज़मीन विवाद में पूर्व विधायक की पीट-पीटकर हत्या!

दो बार निर्दलीय और एक बार सपा से विधायक रहे थे निर्वेंद्र उर्फ मुन्ना मिश्रा.

IPL 2020 का शेड्यूल आ गया है और पहला मैच दो धाकड़ टीमों में होगा

IPL 2020 का शेड्यूल आ गया है और पहला मैच दो धाकड़ टीमों में होगा

बहुत इंतजार कराया है शेड्यूल ने.