Submit your post

Follow Us

सलमान खान की इस फिल्म के बाद बॉलीवुड में पंकज त्रिपाठी का भौकाल बढ़ जाएगा

पकंज त्रिपाठी. यानी ‘मिर्जापुर’ वाले ‘कालीन भईया’. ‘गैंग्स ऑफ वासेपुर’ के ‘सुल्तान कुरैशी’. ‘सेक्रेड गेम्स 2’ के ‘गुरुजी’. पंकज उन एक्टर्स में से हैं, जिन्हें लोग उनके किरदार और डायलॉग्स के लिए याद रखते हैं. जैसे फिल्म ‘स्त्री’ का डायलॉग- ‘वो स्त्री है, कुछ भी कर सकती है’ या ‘मसान’ में खीर की तारीफ- ‘जो खीर नहीं खाया, वो मनुष्य योनी का पूर्णतया फायदा नहीं उठाया’.

पंकज त्रिपाठी छोटे से रोल में भी जबरदस्त वाहवाही बटोर लेते हैं, लेकिन अभी तक उनके हिस्से में साइड कैरेक्टर ही आए हैं. लेकिन ‘कागज’ फिल्म में वो लीड रोल में नजर आने वाले हैं. और ये फिल्म सलमान खान बना रहे हैं.

‘कागज’ को सलमान खान की प्रोडक्शन कंपनी ‘सलमान खान फिल्म्स’ और ‘धर्मा प्रोडक्शन’ मिलकर बना रही हैं. डायरेक्ट कर रहे हैं सतीश कौशिक. पंकज के मुताबिक, फिल्म में वो लीड रोल में होंगे. उन्होंने एक अखबार को दिए इंटरव्यू में बताया कि ‘कागज’ की कहानी लाल बिहारी नाम के उस किसान की है, जिसे सरकार मृत घोषित कर देती है.

इंटरव्यू में उन्होंने कहा-

एक बढ़िया फिल्म का हिस्सा बनकर एक्टिंग को लेकर मेरी भूख तृप्त हो सकेगी. इंस्ट्री में मेरा सफर शुरू हुआ था, तब से मैं अच्छे किरदार निभाना चाहता था. लेकिन मैंने कभी सोचा नहीं था कि फिल्म में मुझे लीड रोल करने को मिलेगा. पिछले 10 सालो में बॉलीवुड में ‘हीरो’ का कॉन्सेप्ट बदला है. अब कहानी और किरदार पर ज्यादा फोकस होता है.

कौन हैं लाल बिहारी

उत्तरप्रदेश के आजमगढ़ जिले के खलीलाबाद में रहने वाले लाल बिहारी 1975 में जब एक बैंक लोन का आवेदन देने राजस्व विभाग पहुंचे, तो पता चला कि दफ्तर के कागजों वो मर चुके हैं. उनकी सारी प्रॉपर्टी उनके रिश्तेदारों के नाम कर दी गई थी. दरअसल उनके एक रिश्तेदार ने अफसरों को घूस खिलाकर उन्हें मरा साबित कर दिया था. ताकि लाल बिहारी की जमीन हथिया सकें. इसके बाद शुरू हुआ लाल बिहारी का संघर्ष. खुद को जिंदा साबित करने के लिए उन्होंने 19 साल तक कानूनी लड़ाई लड़ी. 1994 में उन्हें इंसाफ मिला. सरकार ने उन्हें ऑफिशियली जिंदा माना. लाल बिहारी सोशल एक्टिविस्ट हैं. उन्होंने सरकार के कागजों में मृत लोगों को इंसाफ दिलाने के लिए 2004 में मृतक संघ की स्थापना की थी.

Lal
डायरेक्टर सतीश कौशिक के साथ लाल बिहारी.

फिल्म में पंकज त्रिपाठी के अलावा मोनल गुज्जर और अमर उपाध्याय जैसे एक्टर्स भी काम कर रहे हैं.

‘कागज’ के अलावा इस साल पंकज गुंजन सक्सेना की बायोपिक में काम कर रहे हैं. फिल्म में वो जाह्नवी कपूर के पिता का रोल निभाएंगे. कृति सेनन की फिल्म ‘मिमी’ में भी नजर आने वाले हैं. और ‘मिर्जापुर 2’ तो आने वाला है ही.


Video : दीपिका पादुकोण: मैं नहीं चाहती थीं किसी को मेरे डिप्रेशन के बारे में पता चले

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

अब केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने लगवाया नारा, "देश के गद्दारों को, गोली मारो *लों को"

क्या केन्द्रीय मंत्री ऐसे बयान दे सकता है?

माओवादियों ने डराया तो गांववालों ने पत्थर और तीर चलाकर माओवादी को ही मार डाला

और बदले में जलाए गए गांववालों के घर

बंगले की दीवार लांघकर पी. चिदम्बरम को गिरफ्तार किया, अब राष्ट्रपति मेडल मिला

CBI के 28 अधिकारियों को राष्ट्रपति पुलिस मेडल दिया गया.

झारखंड के लोहरदगा में मार्च निकल रहा था, जबरदस्त बवाल हुआ, इसका CAA कनेक्शन भी है

एक महीने में दूसरी बार झारखंड में ऐसा बवाल हुआ है.

BJP नेता कैलाश विजयवर्गीय लोगों को पोहा खाते देख उनकी नागरिकता जान लेते हैं!

विजयवर्गीय ने कहा- देश में अवैध रूप से रह रहे लोग सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा हैं.

CAA-NRC, अयोध्या और जम्मू-कश्मीर पर नेशन का मूड क्या है?

आज लोकसभा चुनाव हुए तो क्या होगा मोदी सरकार का हाल?

JNU हिंसा केस में दिल्ली पुलिस की बड़ी गड़बड़ी सामने आई है

RTI से सामने आई ये बात.

CAA पर सुप्रीम कोर्ट में लगी 140 से ज्यादा याचिकाओं पर बड़ा फैसला आ गया

असम में NRC पर अब अलग से बात होगी.

दिल्ली चुनाव में BJP से गठबंधन पर JDU प्रवक्ता ने CM नीतीश को पुरानी बातें याद दिला दीं

चिट्ठी लिखी, जो अब वायरल हो रही है.

CAA और कश्मीर पर बोलने वाले मलयेशियाई PM अब खुद को छोटा क्यों बता रहे हैं?

हाल में भारत और मलयेशिया के बीच रिश्तों में खटास बढ़ती गई है.