Submit your post

Follow Us

फंस गए पी. चिदंबरम तो राहुल गांधी ने वही कहा, जो हमेशा कहते हैं

5
शेयर्स

पी. चिदंबरम को पकड़ने के लिए सीबीआई मशक्कत कर रही है. INX मीडिया केस में पी. चिंदबरम और उनके बेटे कार्ति चिदंबरम फंसते नज़र आ रहे हैं. जेल जाने की नौबत है. कहा जा रहा है पी. चिदंबरम किसी ऐसी जगह चले गए हैं कि उन्हें ढूंढना मुश्किल होता जा रहा है. उनका फोन नहीं मिल रहा है. उनके वकील सुप्रीम कोर्ट में जमे हुए हैं कि अग्रिम ज़मानत मिल सके, लेकिन अब तक कोई सफलता नहीं मिल सकी है.

और जब तक पी. चिदंबरम कथित तौर पर लापता हैं, तब तक कांग्रेस पार्टी उनका बचाव कर रही है.

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने कहा,

“मोदी सरकार प्रवर्तन निदेशालय, सीबीआई और बिना रीढ़ की मीडिया का उपयोग पी. चिदंबरम का चरित्र हनन करने के लिए कर रही है. मैं ताकत के इतने अपमानजनक उपयोग की कड़ी निंदा करता हूं.”

राहुल गांधी के पहले प्रियंका गांधी ने भी पी. चिदंबरम का बचाव करते हुए ट्वीट किया था. प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्वीट करके लिखा,

“बहुत पढ़े-लिखे और राज्यसभा के सम्मानित सदस्य पी. चिदंबरम ने हमारे देश की बहुत दिनों तक निष्ठा के साथ सेवा की है. बतौर गृह मंत्री और वित्त मंत्री. वो खुलकर सच बोलते हैं, इस सरकार की खामियों को उजागर करते हैं.”

प्रियंका गांधी ने आगे लिखा,

“लेकिन कायरों को सच से इतनी दिक्कत हो रही है कि पी. चिदंबरम का बेशर्मी से शिकार किया जा रहा है. हम उनके साथ खड़े हैं. हम उनके साथ लड़ेंगे, भले ही कुछ भी परिणाम हों.”


 लल्लनटॉप वीडियो : INX मीडिया केस में पी. चिदंबरम अब सीबीआई और ईडी के घेरे में फंसे

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

जामिया और AMU में पुलिस की कार्रवाई पर सुप्रीम कोर्ट ने क्या कहा?

15 दिसंबर को दोनों यूनिवर्सिटीज़ में पुलिस ने कार्रवाई की थी.

मऊ: नागरिकता संशोधन क़ानून के विरोध प्रदर्शन में लोगों ने पुलिस थाने में आग लगा दी

अधिकारियों ने अब धारा 144 लगा दी है.

जामिया में हिंसक प्रोटेस्ट के बाद पूरे उत्तर प्रदेश में क्या चल रहा है?

उत्तर प्रदेश की कई जगहों पर धारा 144 लगा दी गई है.

CAA प्रोटेस्टः जामिया यूनिवर्सिटी के कैम्पस में घुसी पुलिस, डराने वाली तस्वीरें आ रही हैं

पुलिस की कार्रवाई में कई छात्र घायल.

लद्दाख और सियाचिन में तैनात जवानों को खाने की जरूरी चीजें भी नहीं मिल रहीं

CAG रिपोर्ट में सामने आई बात.

जामिया CAB प्रदर्शनः पुलिस के आंसू गैस गोले से छात्र का अंगूठा फट गया

जामिया में संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन तेज, परीक्षाएं आगे बढ़ीं.

नागरिकता कानून में हुए संशोधन पर संविधान एक्सपर्ट्स का क्या कहना है?

एक्सपर्ट्स का दावा, ये संशोधन संविधान के आर्टिकल 14, 5 और 11 का उल्लंघन है.

पासपोर्ट पर कमल छाप तो दिया लेकिन सरकार खुद इसे राष्ट्रीय फूल नहीं मानती

बवाल मचा तो सरकार ने कहा था राष्ट्रीय प्रतीकों को छाप रहे हैं.

16 दिसंबर को इस वजह से नहीं होगी निर्भया के चारों दोषियों को फांसी

सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई के बाद ही डेथ वारंट पर फैसला होगा.

CAB विरोध: असम में पुलिस की फायरिंग से दो की मौत, कर्फ़्यू मान नहीं रही है भीड़

तीन BJP विधायकों के घर पर हमला. मेघालय के भी कुछ इलाकों में कर्फ़्यू. तीन राज्य में इंटरनेट बंद.