Submit your post

Follow Us

अयोध्या केस में पार्टी निर्मोही अखाड़ा समय से पहले कोर्ट पहुंच गया, ठीक पहले ये कहा

अयोध्या भूमि विवाद. सुप्रीम कोर्ट 9 नवंबर 2019 को फैसला सुनाएगा. सुबह 10:30 बजे. सुप्रीम कोर्ट में 16 अक्टूबर 2019 को सुनवाई पूरी हो गई थी. पांच जजों की बेंच ने इस मामले की सुनवाई की. इस पूरे फैसले में जिन पांच जजों की बेंच फैसला लेने वाली है, उसमें शामिल हैं- चीफ जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस एसए बोबड़े, जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़, जस्टिस अशोक भूषण, और जस्टिस एसए नज़ीर. इस पूरे मामले में तीन बड़े पक्ष हैं- रामलला विराजमान, सुन्नी सेन्ट्रल वक़्फ़ बोर्ड और निर्मोही अखाड़ा.

Ayodhya Banner Final
क्लिक करके पढ़िए दी लल्लनटॉप पर अयोध्या भूमि विवाद की टॉप टू बॉटम कवरेज.

फैसला आने में समय है, पर उसके पहले ही निर्मोही अखाड़ा सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है. अखाड़ा के प्रवक्ता कार्तिक ने इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत की. उन्होंने कहा कि ये लड़ाई प्राचीन काल से है. वह सभी भगवान राम के लिए यहां हैं. और वो उनकी रक्षा करेंगे. और उन्हें उम्मीद है कि इस फैसले पर आगे अपील करने की जरूरत नहीं पड़ेगी.

निर्मोही अखाड़े के बारे में और अधिक जानने के लिए यहां क्लिक करें.


वीडियो देखें : अयोध्या भूमि विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के दिन के पीछे की क्या गणित है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

कोरोना वायरस: BCCI की बैठक के बाद शाहरुख ने IPL को लेकर बड़ी बात कही है

IPL फ्रेंचाइजी के टीम मालिकों की बैठक में 7 ऑप्शन्स पर चर्चा हुई.

ऑस्ट्रेलिया और न्यूज़ीलैंड 1999 वर्ल्ड कप वाली जर्सी पहनकर क्यों खेल रही है?

ऑस्ट्रेलियाई टीम के लिए कितनी लकी है यह जर्सी?

कोरोना वायरस का IPL पर सबसे बड़ा असर पड़ चुका है, सारी तैयारी धरी रह गई

पहले तो बात थी कि दर्शक नहीं आएंगे, अब ये क्या हुआ!

न्यूजीलैंड से मैच के ठीक पहले ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर का कोरोना टेस्ट हुआ, रिपोर्ट आ गई है

मैच खाली स्टेडियम में कराए जा रहे हैं.

दिल्ली पुलिस ने बताया है कि दंगों में कितनी FIR हुई, कितने लोग गिरफ्तार हुए

राजधानी में ‘सब चंगा सी’ भी बता दिया है.

दिल्ली पुलिस ने दंगा भड़काने के आरोप में PFI के अध्यक्ष, सचिव को गिरफ्तार किया

PFI ने कहा, 'कपिल मिश्रा को बचाने के लिए टारगेट किया जा रहा.'

एंटी-CAA पोस्टर केसः सुप्रीम कोर्ट ने पहली सुनवाई में क्या कहा?

लखनऊ में एंटी-CAA प्रोटेस्ट में शामिल लोगों के पोस्टर लगाने का मामला.

कोरोना वायरस की वजह से गेंद स्विंग नहीं करा पाएंगे भारतीय गेंदबाज़!

भुवी की बात से तो ऐसा ही लग रहा है.

इरफान पठान ने जो कहर ढाया है, वो देखकर ग्रेग चैपल को मैदान भर में दौड़ाने का मन करेगा!

पठान में अब भी दम बाकी है.

एंटी-CAA प्रोटेस्ट को उकसाने के आरोप में कपल गिरफ्तार, पुलिस ने कहा- ISIS से लिंक हो सकता है

दिल्ली के शाहीन बाग में 15 दिसंबर से प्रोटेस्ट चल रहा है.