Submit your post

Follow Us

राजस्थान NEET पेपर लीक: डमी कैंडिडेट बन एग्जाम दे रहे मेडिकल छात्र, सरकारी ऑफिसर निकला सरगना

राजस्थान में नेशनल एलिजिबिलिटी एंट्रेंस टेस्ट (NEET) की परीक्षा में धांधलेबाजी का भंडाफोड़ हुआ है. यहां ना सिर्फ NEET का पेपर लीक होने का मामला सामने आया है, बल्कि डमी कैंडिडेट बनकर परीक्षा दे रहे कुछ मेडिकल छात्रों का भी पता चला है. पुलिस ने इस नकल गिरोह के सरगना समेत कई लोगों को पकड़ने का दावा किया है. इनमें अधिकतर ऐसे मेडिकल स्टूडेंट्स हैं, जो पैसे लेकर डमी कैंडिडेट बनकर किसी और के लिए NEET Exam दे रहे थे. इनके अलावा राजस्थान सरकार का एक मेडिकल अधिकारी भी गिरफ्तार किया गया है. यूपी में भी कुछ इसी तरह के मामले में एक मेडिकल स्टूडेंट को गिरफ्तार किया गया है.

परीक्षा के दौरान हुआ पेपर लीक

आजतक/इंडिया टुडे के शरत कुमार की रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस को परीक्षा से पहले ही इसमें गड़बड़ होने की खबर मिल चुकी थी. ऐसे में उसने अपने अधिकारियों को अलग-अलग जगहों पर स्थित परीक्षा केंद्रों में पहले ही तैनात कर दिया था. इनमें जयपुर का राजस्थान इंस्टीट्यूट ऑफ़ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी भी शामिल था. यहां NEET परीक्षा शुरू होने के कुछ ही देर बाद पेपर लीक का भंडाफोड़ किया गया.

बताया गया है कि परीक्षा आयोजित करने वालों से पहले से सांठ-गांठ की गई थी. इसके बाद परीक्षा शुरू होने के 35 मिनट बाद ही प्रश्नपत्र लीक हो गया और महज़ आधे घंटे में आंसर-की परीक्षा आयोजित करवाने वाले लोगों के मोबाइल में पहुंच गई. फिर उन्होंने NEET प्रश्नपत्र के उत्तरों के प्रिंट निकाले और पैसे देने वाले छात्रों को वॉट्सऐप के जरिये सप्लाई कर दिए.

NEET PAPER LEAK
नकली अभ्यर्थी बनकर पेपर दे रहे थे ये मेडिकल छात्र. (तस्वीर- शरत कुमार/आजतक)

राजस्थान पुलिस को इसकी पहले से सूचना थी. उसने जयपुर के परीक्षा केंद्र में दबिश देकर 8 लोगों को आंसर शीट के साथ गिरफ़्तार किया है. वहीं, अजमेर से 6 मेडिकल छात्रों सहित कुल 9 लोगों को अरेस्ट किए जाने की जानकारी सामने आई है. खबर के मुताबिक, पुलिस ने 4 जगह छापे मारे थे. उसने गिरफ़्तार किए गए छात्रों से आंसर शीट और दलालों के पास से 10 लाख रुपये बरामद किए हैं.

परीक्षक के ज़रिए मिला पेपर

शरत कुमार की रिपोर्ट के अनुसार, सौदे के तहत आंसर शीट के बदले दलालों को 35 लाख रुपये मिलने थे. इस मिलीभगत में एक परीक्षक भी शामिल था, जिसे एक छात्रा के चाचा ने पेपर लीक करने के बदले 10 लाख रुपये देने की बात कही थी. लेकिन परीक्षा शुरू होने के कुछ ही देर बाद पुलिस ने छात्रा को आंसर शीट के साथ पकड़ लिया. उसने बताया कि उसे आंसर शीट परीक्षक ने दी है. इसके बाद पुलिस ने परीक्षक को दबोचा और उसके जरिये छात्रा के चाचा तक पहुंची, जो परीक्षा केंद्र के बाहर गाड़ी में पैसे लेकर बैठा था. इसके बाद तो पूरा कच्चा चिट्ठा सामने आ गया.

राजस्थान सरकार का मेडिकल ऑफिसर निकला सरगना

पुलिस ने पकड़े गए लोगों से पूछताछ की तो पता चला कि इस धांधली को चित्तौड़गढ़ से ऑपरेट किया जा रहा था. वहां राजस्थान सरकार का एक मेडिकल ऑफ़िसर राजन गुरु इसका सरगना निकला. उसके बारे में पता चला है कि वो राजस्थान मेडिकल एंट्रेंस टेस्ट 2010 का सेकेंड टॉपर है.

राजन गुरु का असली नाम राजन राजपुरोहित है. कोटा में उसे लोग ‘बायो सर’ के नाम से बुलाते हैं. आजतक की रिपोर्ट के मुताबिक, राजन पिछले कई सालों से ये काम कर रहा है. यहां तक कि सरकारी पद पर रहते हुए वो विधानसभा का चुनाव भी लड़ चुका है.

NEET PAPER LEAK
चुनाव भी लड़ चुका है राजन राजपुरोहित. तस्वीर उसके फेसबुक अकाउंट से ली गई है. (साभार- शरत कुमार/आजतक)

ये पूरी तरह साफ नहीं है कि पुलिस की पकड़ में आने तक राजन राजपुरोहित सरकारी मेडिकल ऑफिसर के पद पर कार्यरत था या नहीं. उसकी फेसबुक प्रोफाइल कहती है कि अब वो मेडिकल अधिकारी नहीं है. लेकिन अन्य मीडिया रिपोर्टों में कहा गया है कि वो अभी भी इस पद पर है.

ये छात्र किये गए गिरफ्तार

राजपुरोहित के अलावा पुलिस ने मेडिकल छात्र-छात्राओं को भी गिरफ्तार किया है, जो डमी अभ्यर्थी बनकर पेपर दे रहे थे. इनमें से कुछ की जानकारी भी सामने आई है.

प्राची परमार- आगरा की मेडिकल छात्रा. फ़िलहाल देहरादून मेडिकल कॉलेज में थर्ड ईयर में पढ़ रही है.

प्राची- जयपुर के सुबोध स्कूल में दूसरे छात्र के बदले परीक्षा दे रही थी.

प्रिया चौधरी- अलवर की रहने वाली है. भरतपुर मेडिकल कॉलेज में थर्ड ईयर की छात्रा है. जयपुर के LBS कॉलेज में नक़ली परीक्षार्थी बन कर परीक्षा दे रही थी.

प्रद्युमन सिंह- जोधपुर का रहने वाला है. देहरादून मेडिकल कॉलेज में फ़ाइनल ईयर का छात्र है. इसने 20 लाख रुपये में डमी परीक्षार्थी बन कर पेपर देने का सौदा किया था.

सांवरमल सुनार- झुंझुनू का रहने वाला है. बनारस मेडिकल कॉलेज में थर्ड ईयर का छात्र है. ये भी LBS कॉलेज में परीक्षा दे रहा था.

प्रवीण भंडा- नागौर का निवासी है. ये बनारस मेडिकल कॉलेज में फ़र्स्ट ईयर का छात्र है.

अंकित यादव- नीमराना में रहता है. बनारस मेडिकल कॉलेज में सेकंड ईयर का छात्र है. इसे जयपुर के महावीर दिगंबर स्कूल में परीक्षा देते हुए पकड़ा गया.

हिंदी अखबार दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के मुताबिक, असली कैंडिडेट के बदले NEET का पेपर देने पर इन छात्रों को 25-25 लाख रुपये मिलने थे.

इनके अलावा पुलिस ने अन्य लोगों की भी गिरफ्तारी की है. इनमें महेंद्र सैनी नाम का शख्स भी शामिल है. वो 12वीं पास छात्रों या मास्टरमाइंड राजन गुरु के लिए 3 हज़ार रुपये में फ़ोटो मिक्सिंग का काम करता था ताकि परीक्षा केंद्र में कोई नकली अभ्यर्थी को पहचान ना सके.

NEET PAPER LEAK
नकल गिरोह का सरगना राजपुरोहित (दाएं से दूसरा). (तस्वीर- शरत कुमार/आजतक)

अमीर परिवारों से मिलते थे लाखों रुपये

शरत कुमार की रिपोर्ट के मुताबिक, पेपर लीक कराने वाले अमीर परिवारों के मेडिकल छात्र-छात्राओं से संपर्क करते थे और 35 लाख रुपये में पास करवाने की गारंटी देते थे. गिरफ़्तारी के बाद राजगुरु ने बताया है कि उसने कई छात्र-छात्राओं को पास कराया है, हालांकि MBBS में जाकर वे फ़ेल हो गए. उसके बाद ऐसे छात्र पढ़ाई छोड़ देते हैं.

राजन ने झुंझुनू की रहने वाली एक छात्रा डिंपल का उदाहरण दिया. बताया कि डिंपल ने डमी अभ्यर्थी के जरिये परीक्षा दी थी, लेकिन MBBS के प्रथम वर्ष में ही वो दो साल लगातार फेल हुई, जिसके बाद उसने MBBS छोड़ दिया.

यूपी में भी धांधलेबाजी

कुछ इसी तरह का मामला उत्तर प्रदेश में भी सामने आया है. आजतक रिपोर्टर बृजेश कुमार के मुताबिक, उत्तर प्रदेश पुलिस की क्राइम ब्रांच की टीम ने रविवार को नीट परीक्षा से जुड़े सॉल्वर गिरोह का पर्दाफाश किया. उसने सारनाथ थाना क्षेत्र के सेंट फ्रांसिस जेवियर स्कूल में छापा मारा. वहां बीएचयू में डेंटल साइंस की द्वितीय वर्ष की एक छात्रा असली अभ्यर्थी की जगह परीक्षा दे रही थी. उसका नाम जूली बताया गया है. क्राइम ब्रांच की टीम ने जूली के साथ उसकी मां बबीता को भी गिरफ्तार किया है.

खबर के मुताबिक, आरोपित मां-बेटी मूल रूप से पटना के बहादुरपुर की निवासी बताई जा रही हैं. जूली बीएचयू छात्रावास में रहती है. पुलिस के मुताबिक गिरोह का सरगना पटना का पीके नामक शख्स है. पुलिस की मानें तो उसका नेटवर्क पूर्वोत्तर राज्यों तक फैला है. आजतक रिपोर्टर को पुलिस ने बताया कि असली कैंडिडेट की जगह एग्जाम देने के लिए जूली को 5 लाख रुपये मिलने थे. उसे 50 हजार रुपये एडवांस भी दिया गया था. उसके पकड़े जाने के बाद क्राइम ब्रांच की टीम अन्य आरोपियों को पकड़ने के लिए बिहार और लखनऊ में जांच कर रही है.

(आपके लिए ये खबर हमारे साथी दीपेंद्र ने लिखी है.)


विडियो – NBE ने NEET SS 2021 एंट्रेंस एग्जाम का पैटर्न बदला, ट्विटर पर बवाल हो गया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

पाकिस्तान ने तालिबान के लिए कुर्सी मांगकर झगड़ा करा दिया, SAARC बैठक रद्द

पाकिस्तान ने तालिबान के लिए कुर्सी मांगकर झगड़ा करा दिया, SAARC बैठक रद्द

अफगानिस्तान की पूर्व लोकतांत्रिक सरकार के शामिल होने के खिलाफ है पाकिस्तान.

गोवा घूमने गई 25 साल की एक्ट्रेस की कार एक्सीडेंट में डेथ

गोवा घूमने गई 25 साल की एक्ट्रेस की कार एक्सीडेंट में डेथ

गोवा में पुल से नीचे गिरी कार, पानी में डूबने से हुई डेथ.

नरेंद्र गिरि कथित आत्महत्या: आरोपी आनंद गिरि को किस महंत ने 'हिस्ट्रीशीटर' कहा?

नरेंद्र गिरि कथित आत्महत्या: आरोपी आनंद गिरि को किस महंत ने 'हिस्ट्रीशीटर' कहा?

यूपी पुलिस ने आनंद गिरि को गिरफ्तार कर लिया है.

रूस की यूनिवर्सिटी में अंधाधुंध गोलीबारी, 8 की मौत, आरोपी की उम्र हैरान कर देगी

रूस की यूनिवर्सिटी में अंधाधुंध गोलीबारी, 8 की मौत, आरोपी की उम्र हैरान कर देगी

इस यूनिवर्सिटी में भारत के भी कई छात्र पढ़ते हैं.

डेढ़ महीने पहले राजनीति छोड़ने का ऐलान करने वाले बाबुल सुप्रियो ने TMC जॉइन की

डेढ़ महीने पहले राजनीति छोड़ने का ऐलान करने वाले बाबुल सुप्रियो ने TMC जॉइन की

केंद्रीय मंत्री पद से हटाए जाने के बाद भाजपा छोड़ी थी.

मनोज पाटिल सुसाइड अटेम्प्ट केस: साहिल खान ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की, कहा नकली स्टेरॉयड्स का रैकेट

मनोज पाटिल सुसाइड अटेम्प्ट केस: साहिल खान ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की, कहा नकली स्टेरॉयड्स का रैकेट

कहानी में एक और किरदार सामने आया है, राज फौजदार.

राजस्थान में अब सब-इंस्पेक्टर परीक्षा का पेपर लीक, वॉट्सऐप बना जरिया

राजस्थान में अब सब-इंस्पेक्टर परीक्षा का पेपर लीक, वॉट्सऐप बना जरिया

पुलिस ने बीकानेर, जयपुर, पाली और उदयपुर से 17 लोगों को गिरफ्तार किया है.

क्या पाकिस्तान यूपी चुनाव में आतंकी हमले कराने की तैयारी में है?

क्या पाकिस्तान यूपी चुनाव में आतंकी हमले कराने की तैयारी में है?

दिल्ली पुलिस ने 6 संदिग्धों को गिरफ्तार कर कई दावे किए हैं.

नसीरुद्दीन शाह ने योगी आदित्यनाथ के 'अब्बा जान' वाले बयान पर बड़ी बात कह दी है!

नसीरुद्दीन शाह ने योगी आदित्यनाथ के 'अब्बा जान' वाले बयान पर बड़ी बात कह दी है!

नसीर ने ये भी कहा कि कई मुस्लिम अपने पिता को बाबा भी कहते हैं.

AIMIM के पूर्व नेता पर FIR, दोस्त के साथ हलाला कराने की कोशिश का आरोप

AIMIM के पूर्व नेता पर FIR, दोस्त के साथ हलाला कराने की कोशिश का आरोप

पूर्व पत्नी ने लगाया रेप के प्रयास का आरोप, AIMIM नेता ने कहा- बेबुनियाद.