Submit your post

Follow Us

अजित पवार की नाक के नीचे से 2 और विधायक उड़ा ले गया NCP यूथ ब्रिगेड

232
शेयर्स

महाराष्ट्र में सियासी ड्रामा जारी है. नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी (NCP) के अजित पवार और बीजेपी ने मिलकर सरकार बना ली. लेकिन NCP चीफ शरद पवार का दावा है कि पार्टी के ज्यादातर विधायक उनके साथ हैं. फडणवीस और अजित पवार ने जिस तरह आनन-फानन में शपथ ली, उसी के खिलाफ शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है. फ्लोर टेस्ट की मांग की है.

इस याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में बहस हुई. महाराष्ट्र में फ्लोर टेस्ट होगा या नहीं, होगा तो कब होगा. इस पर सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है. 26 नवंबर की सुबह 10:30 बजे तक के लिए. इन सबके बीच कौन विधायक किसके पाले में है इसे लेकर एक से बढ़कर एक पेंच सामने आ रहे हैं.

NCP के जो विधायक बीजेपी के साथ होने का दावा कर रहे थे और दिल्ली आ गए थे. उनमें से दो विधायक अब मुंबई लौट गए हैं. दौलत दरौडा और अनिल पाटिल सोमवार सुबह मुंबई पहुंचे. इन विधायकों का NCP के खेमे में वापस आ जाना, अजित पवार गुट के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है. क्योंकि जिन 54 विधायकों के सपोर्ट का अजित पवार ने दावा किया था उनमें से 52 अब शरद पवार के खेमे में लौट चुके हैं. इन दोनों को एनसीपी यूथ कांग्रेस ने के नेता दिल्ली से वापस मुंबई लेकर पहुंचे.

न्यूज़ एजेंसी ANI का ट्वीट देखिए.

वापस लौटने के बाद अनिल पाटिल ने कहा,

हम मुंबई से दिल्ली के एक होटल में पहुंचे. होटल के बाहर 100-200 बीजेपी कार्यकर्ता मौजूद थे. सादी वर्दी में कई पुलिस वाले वहां मौजूद थे और पुलिस की काफी गाड़ियां वहां थीं. उन्हें देखकर हम डर गए. हमने शरद पवार साब को कॉल किया और उनसे कहा कि हम लौटना चाहते हैं.पार्टी में रहना चाहते हैं. उन्होंने वादा किया कि वो हमें वापस बुला लेंगे. और इसके बाद उन्होंने जरूरी अरेंजमेंट्स किए.

इससे पहले एनसीपी के 4 विधायक गुम बताए जा रहे थे. इनमें से नितिन पवार पहले ही मुंबई पहुंच गए हैं. चौथे विधायक नरहारी जीरावल कहां हैं, इसका अब तक पता नहीं चल पाया है. बताया जा रहा है कि उन्हें दिल्ली में किसी सेफ हाउस में रखा गया है.

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के नतीजे 24 अक्टूबर को आए थे. एनसीपी के 54 विधायक चुने गए थे. अजित पवार ने 54 विधायकों के समर्थन का दावा किया था, जबकि  शरद पवार के खेमे का दावा है कि 52 विधायक उनके पास हैं, ऐसे में BJP 105 सीटों के साथ सरकार कैसे बना सकती है?


वीडियो- जब 1978 में शरद पवार कांग्रेस-U के 12 MLA तोड़कर जनता पार्टी से जा मिले, महाराष्ट्र CM बन गए

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

एक तरफ अमित शाह रैली में बोले नक्सलवाद ख़त्म किया, उधर नक्सलियों ने हमला कर दिया

नक्सलियों ने अमित शाह को गलत साबित कर दिया. चार जवान शहीद हो गए.

कांग्रेस ने अलग से प्रेस कॉन्फ्रेंस क्यों की?

और क्या बोले अहमद पटेल?

महाराष्ट्र में रातों रात बदला गेम, देवेंद्र फडणवीस सीएम और एनसीपी के अजित पवार डिप्टी सीएम बने

शिवसेना ने इसे अंधेरे में डाका डालना बताया.

किसका डर है कि अयोध्या मसले में सुन्नी वक्फ बोर्ड रिव्यू पिटीशन नहीं फ़ाइल कर रहा?

चेयरमैन के ऊपर दो-दो केस!

डूबते टेलीकॉम को बचाने के लिए सरकार 42 हज़ार करोड़ की लाइफलाइन लेकर आई है

तो क्या वोडाफोन आईडिया और एयरटेल बंद नहीं होने वाले हैं?

मालेगांव बम ब्लास्ट की आरोपी प्रज्ञा ठाकुर देश की रक्षा करने जा रही हैं

रक्षा मंत्रालय की कमेटी में शामिल होंगी.

IIT गुवाहाटी के छात्र एक प्रोफेसर के लिए क्यों लड़ रहे हैं?

प्रोफेसर बीके राय लंबे समय से करप्शन के खिलाफ जंग छेड़े हुए हैं.

आर्टिकल 370 हटने के बाद कश्मीर में पत्थरबाजी कम हुई या बढ़ी?

राज्यसभा में सरकार ने आंकड़े बताए हैं.

फोन कंपनियां ये किस बात के लिए हम लोगों से पैसा लेने जा रही हैं?

कॉल और डाटा का पैसा बढ़ने वाला है, पढ़ लो!

BHU के मुस्लिम टीचर के पिता ने कहा, 'बेटे को संस्कृत पढ़ाने से अच्छा था, मुर्गे बेचने की दुकान खुलवा देता'

बीएचयू में मुस्लिम टीचर की नियुक्ति पर बवाल!