Submit your post

Follow Us

एंटरटेनमेंट जर्नलिस्ट अब कंगना रनौत को कवरेज नहीं देंगे, बॉयकॉट किया

एक्टर, एक्ट्रेस, डायरेक्टर और प्रोड्यूसर के बाद इस बार कंगना के निशाने पर एक पत्रकार आ गया. रविवार को फिल्म ‘जजमेंटल है क्या’ के गाने के रिलीज के दौरान कंगना एक पत्रकार से भिड़ गईं. करीब साढ़े छह मिनट तक वो पत्रकार से झगड़ती रहीं और विवाद की स्थिति बन गई. अब कुछ मीडिया रिपोर्ट्स सामने आ रही हैं, जिनमें कहा जा रहा है कि अगर कंगना रनौत पत्रकार से बदतमीजी के लिए माफी नहीं मांगती है, तो उनकी फिल्म ‘जजमेंटल है क्या’ को बॉयकॉट किया जाएगा.

क्या है मामला?

‘जजमेंटल है क्या’ के पहले गीत ‘द वखरा’ को सात जुलाई को रिलीज किया गया. इस इवेंट में मीडिया कंगना से फिल्म से जुड़े सवाल कर रही थी. प्रेस कॉन्फ्रेंस में जस्टिन राव नाम के पत्रकार ने जैसे ही अपना नाम बताया, कंगना रनौत भड़क उठीं.

कंगना ने कहा,

‘जस्टिन तुम तो हमारे दुश्मन बन गए हो यार. बड़ी घटिया बातें लिख रहे हो. कितनी ज्यादा गंदी-गंदी बातें लिख रहे हो, इतना गंदा सोचते कैसे हो?’

जब पत्रकार ने बीच में टोकते हुए कहा कि उनका इस तरह का आरोप लगाना गलत है तो कंगना ने कहा, ‘लेकिन तुम्हारे लिए ऐसा करना ठीक है? कंगना ने आगे कहा,

“तुमने कहा कि मैं जिंगोस्टिक महिला हूं, जिसने मणिकर्णिका बनाई है. क्या राष्ट्रवाद पर फिल्म बनाकर मैंने कोई गलती कर दी?’

मामले को शांत करने के लिए प्रोड्यूसर एकता कपूर को बीच में आना पड़ा और उन्होंने मीडिया से हाथ जोड़कर माफी मांगी. इसके बाद पूरी टीम ने प्रेस कॉन्फ्रेंस पूरी की. लेकिन कंगना ने पत्रकार के सवाल का जवाब देने से भी मना कर दिया.

मीडिया अब कंगना रनौत से उनके व्यवहार के लिए माफी की मांग कर रहा है. इस मामले में कुछ सीनियर पत्रकार एकता कपूर के साथ मीटिंग करेंगे. अगर कंगना की तरफ से माफी नहीं मांगी जाती है, तो मीडिया ‘जजमेंटल है क्या’ के किसी प्रमोशन इवेंट में शामिल नहीं होगी.

कंगना इस ट्वीट की बात कर रही थीं, जिसमें पत्रकार जस्टिन ने ‘मणिकर्णिका’ के पाकिस्तान में रिलीज पर सवाल उठाए थे.

ट्वीट में उन्होंने लिखा कि कंगना शबाना आज़मी के पाकिस्तान जाकर एक इवेंट में शामिल होने पर सवाल उठा रही हैं, तो फिल्म को पाकिस्तान में कैसे रिलीज कर सकती हैं. इसके साथ जस्टिन ने एक वीडियो भी शेयर किया था, जिसमें कंगना कह रही हैं कि डिस्ट्रिब्यूशन के टाइम ही फिल्म की कॉपी वहां चली गई थी, जिसे वापिस लाने के लिए सेना की जरूरत होगी. इसके बाद कंगना की बहन रंगोली चंदेल ने मीडिया को टार्गेट करते हुए लिखा कि कंगना कभी माफी नहीं मांगेंगी. रंगोली ने ट्विटर पर लिखा,

‘एक बात का वादा करती हूं, कंगना से माफी नहीं मिलेगी, इन बिकाऊ, नंगे, देशद्रोही, देश के दलाल मीडिया वालों को, मगर वो तुमको धो-धो कर सीधा जरुर करेगी. देखते जाओ, तुमने गलत इंसान से माफ़ी की मांग की है.’

इस वाकये के बाद एंटरटेनमेंट जर्नलिस्ट गिल्ड ऑफ इंडिया नामक संस्था ने फिल्म की प्रोड्यूसर एकता कपूर को एक लेटर लिखा है. जिसमें लिखा गया,

‘फिल्म जजमेंटल है क्या के एक गाने के लॉन्च इवेंट में मीडिया को बुलाया गया. यहां कंगना रनौत जो कि राजकुमार राव के साथ थीं, हमारे एक पत्रकार पर बुरी तरह भड़क उठीं, बावजूद इसके कि उसका सवाल पूरा भी नहीं हुआ था. एंटरटेनमेंट जर्नलिस्ट गिल्ड ऑफ इंडिया  के सदस्यों ने तय किया है कि कंगना रनौत का बहिष्कार किया जाएगा. उन्हें किसी भी तरह की मीडिया कवरेज नहीं दी जाएगी. हम आपसे और कंगना रनौत से इस मामले पर एक लिखित स्टेटमेंट और कंगना द्वारा किए गए बर्ताव के सार्वजनिक माफी की मांग करते हैं.’


वीडियो-

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

कोरोना वायरस की वजह से गेंद स्विंग नहीं करा पाएंगे भारतीय गेंदबाज़!

भुवी की बात से तो ऐसा ही लग रहा है.

इरफान पठान ने जो कहर ढाया है, वो देखकर ग्रेग चैपल को मैदान भर में दौड़ाने का मन करेगा!

पठान में अब भी दम बाकी है.

एंटी-CAA प्रोटेस्ट को उकसाने के आरोप में कपल गिरफ्तार, पुलिस ने कहा- ISIS से लिंक हो सकता है

दिल्ली के शाहीन बाग में 15 दिसंबर से प्रोटेस्ट चल रहा है.

सबसे ज्यादा रणजी मैच और सबसे ज्यादा रन, इस खिलाड़ी ने 24 साल बाद लिया संन्यास

42 की उम्र तक खेलते रहे, अब बल्ला टांगा.

लखनऊ में CAA विरोधी प्रदर्शन के दौरान 'तोड़फोड़ करने वाले' 57 लोगों के होर्डिंग लगाए

होर्डिंग पर पूर्व IPS एसआर दारापुरी और कांग्रेस कार्यकर्ता सदफ ज़फर जैसे लोगों का नाम.

दिल्ली दंगे के 'हिन्दू पीड़ितों' की मदद के लिए कपिल मिश्रा ने जुटाये 71 लाख, खुद एक पईसा नहीं दिया

अब भी कह रहे हैं, 'आप धर्म को बचाइये, धर्म आपको बचायेगा'

कांग्रेस सांसद का आरोप : अमित शाह का इस्तीफा मांगा, तो संसद में मुझ पर हमला कर दिया गया

कांग्रेस सांसद ने कहा, 'मैं दलित महिला हूं, इसलिए?'

निर्भया केस: चार दोषियों की फांसी से एक दिन पहले कोर्ट ने क्या कहा?

राष्ट्रपति ने पवन गुप्ता की दया याचिका खारिज कर दी है.

कश्मीर : हथियारों के फर्जी लाइसेंस बनवाने वाला IAS अधिकारी कैसे धरा गया?

हर लाइसेंस पर 8-10 लाख रूपए लेता था!

गृहमंत्री अमित शाह की रैली में आई भीड़ ने लगाया देश के गद्दारों को गोली मारो... का नारा!

ये नारा डरावना है, उससे भी डरावना है इसका गृहमंत्री की रैली में लगाया जाना.