Submit your post

Follow Us

टोक्यो पैरालंपिक्स के आखिरी दिन भी भारत को गोल्ड, इस बार कृष्णा नागर ने मौज करा दी

टोक्यो पैरालंपिक्स के आखिरी दिन भी भारत को गोल्ड मेडल मिला है. ये गोल्ड दिलाया पैरा बैडमिंटन खिलाड़ी कृष्णा नागर ने. कृष्णा ने मेंस सिंगल्स SH6 के फाइनल में हॉन्ग कॉन्ग के मान काई चू को 21-17, 16-21, 21-17 से हराया. भारत का ये बैडमिंटन में दूसरा गोल्ड मेडल है. इससे पहले प्रमोद भगत ने भी गोल्ड जीता था. ओवरऑल टोक्यो पैरालंपिक्स में अब तक भारत ने 19 मेडल्स जीते हैं. जिसमें 5 गोल्ड, 8 सिल्वर और 6 ब्रॉन्ज शामिल हैं.

# टक्कर का रहा पहला गेम

तीन सेट तक चले फाइनल मैच में कृष्णा नागर को विपक्षी खिलाड़ी से खूब टक्कर मिली. पहले गेम से ही कृष्णा को हर पॉइंट के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ी. एक वक्त तो स्कोर 10-10 से बराबर हो गया था. लेकिन मान काई चू ने कृष्णा के खिलाफ कुछ बेहतरीन शॉट्स लगाते हुए अंक हासिल किये. साथ ही चार अंकों की बढ़त हासिल करते हुए स्कोर को 16-12 कर दिया. इसके बाद कृष्णा नागर ने जबरदस्त कमबैक किया और स्कोर अपने पक्ष में 17-16 कर दिया. यहां से कृष्णा ने जल्द ही 4 पॉइंट्स हासिल करते हुए पहला गेम 21-17 से अपने नाम किया.

# दूसरे गेम में पिछड़े Krishna Nagar

दूसरे गेम की शुरुआत में एक बार फिर मान काई चू ने बढ़त हासिल की. लेकिन भारतीय खिलाड़ी ने स्कोर को 4-4 से लेवल कर दिया. कृष्णा की दो खराब सर्विस की वजह से विपक्षी खिलाड़ी ने 9-7 की बढ़त बनाई और दूसरे गेम के इंटरवल तक मान काई चू 11-7 से आगे रहे. इंटरवल के बाद कृष्णा रंग में नहीं दिखे. कुछ गलतियां कीं, जिसकी वजह से दूसरा गेम मान काई चू ने 21-16 से जीत लिया. अब गोल्ड मेडल का फैसला तीसरे गेम में होना था.

#Krishna Nagar ने जीता गोल्ड

तीसरे और आखिरी गेम में कृष्णा नागर ने शानदार शुरुआत की. उन्होंने जल्द ही 5-1 की बढ़त बना ली और इंटरवल तक 4 अंकों की बढ़त हासिल करते हुए स्कोर को 11-7 कर दिया. इसके बाद भारतीय खिलाड़ी ने दो बैक टू बैक पॉइंट्स हासिल किये.

हालांकि, मान काई चू को एक बार वापसी का मौका मिला, जब स्कोर 13-13 से बराबर हो गया था. चूंकि, गेम आखिरी पड़ाव में था. तो रोमांच भी बढ़ रहा था और खिलाड़ियों पर दबाव भी. कृष्णा नागर ने यहां से बेहतरीन खेल दिखाते हुए स्कोर 20-16 कर दिया. हॉन्ग कॉन्ग के खिलाड़ी ने एक पॉइंट हासिल जरूर किया लेकिन उनके हाथ से गोल्ड फिसल चुका था. कृष्णा नागर ने आसानी से एक पॉइंट हासिल कर  भारत को पांचवां गोल्ड दिला दिया.


टोक्यो पैरालंपिक्स में भारतीय आर्चर हरविंदर सिंह ने क्या कमाल किया है ?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

सिंघु बॉर्डर पर युवक की बर्बर हत्या पर किसान नेताओं ने क्या कहा है?

सिंघु बॉर्डर पर युवक की बर्बर हत्या पर किसान नेताओं ने क्या कहा है?

राकेश टिकैत ने भी मीडिया से बात की है.

बांग्लादेश: दुर्गा पूजा पंडाल को कट्टरपंथियों ने तहस-नहस किया, मूर्तियां तोड़ीं, 3 लोगों की मौत

बांग्लादेश: दुर्गा पूजा पंडाल को कट्टरपंथियों ने तहस-नहस किया, मूर्तियां तोड़ीं, 3 लोगों की मौत

कुरान को लेकर अफवाह उड़ी और बांग्लादेश के कई हिस्सों में सांप्रदायिक तनाव फैल गया.

आर्यन खान को अब भी नहीं मिली बेल, 20 तारीख तक जेल में ही रहना होगा

आर्यन खान को अब भी नहीं मिली बेल, 20 तारीख तक जेल में ही रहना होगा

जज ने दोनों पक्षों की दलीलें तो सुनी लेकिन अपना फैसला रिज़र्व रख दिया.

पुंछ मुठभेड़ से कुछ देर पहले भाई से बचपन की बातें कर हंस रहे थे शहीद मंदीप सिंह!

पुंछ मुठभेड़ से कुछ देर पहले भाई से बचपन की बातें कर हंस रहे थे शहीद मंदीप सिंह!

किसी ने लोन लेकर परिवार को नया घर दिया था तो कोई दिवंगत पिता के शोक में जाने वाला था.

दिल्ली में संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकी गिरफ्तार, पूछताछ में डराने वाली जानकारी दी

दिल्ली में संदिग्ध पाकिस्तानी आतंकी गिरफ्तार, पूछताछ में डराने वाली जानकारी दी

पुलिस ने संदिग्ध आतंकी के पास से एके-47, हैंड ग्रेनेड और कई कारतूस मिलने का दावा किया है.

Urban Company की महिला 'पार्टनर्स' ने इसके खिलाफ मोर्चा क्यों खोल दिया है?

Urban Company की महिला 'पार्टनर्स' ने इसके खिलाफ मोर्चा क्यों खोल दिया है?

ये महिलाएं अर्बन कंपनी के लिए ब्यूटिशियन या स्पा वर्कर का काम करती हैं.

लखीमपुर केस में आशीष मिश्रा 12 घंटे की पूछताछ के बाद गिरफ्तार

लखीमपुर केस में आशीष मिश्रा 12 घंटे की पूछताछ के बाद गिरफ्तार

जांच में सहयोग नहीं करने का आरोप.

नवाब मलिक ने कहा-NCB ने 11 को हिरासत में लिया था फिर 3 को छोड़ क्यों दिया?

नवाब मलिक ने कहा-NCB ने 11 को हिरासत में लिया था फिर 3 को छोड़ क्यों दिया?

NCB की रेड को फर्जी बताया, ज़ोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े की कॉल डिटेल की जांच की मांग की

आशीष मिश्रा लखीमपुर में हैं या नहीं? पिता अजय मिश्रा और रिश्तेदारों के जवाबों ने सिर घुमा दिया

आशीष मिश्रा लखीमपुर में हैं या नहीं? पिता अजय मिश्रा और रिश्तेदारों के जवाबों ने सिर घुमा दिया

अजय मिश्रा कुछ और कह रहे, परिवारवाले कुछ और कह रहे.

RBI ने ऑनलाइन पैसा ट्रांसफर करने वालों को बड़ी खुशखबरी दी है

RBI ने ऑनलाइन पैसा ट्रांसफर करने वालों को बड़ी खुशखबरी दी है

RBI की मॉनिटरी पॉलिसी कमिटी (MPC) की बैठक आज खत्म हो गई.