Submit your post

Follow Us

'विराट को कप्तानी से हटाने वाले चयनकर्ताओं के पास उनका आधा अनुभव भी नहीं है'

हाल में खत्म हुए T20 विश्वकप तक भारतीय क्रिकेट टीम के पास तीनों फॉर्मेट के एक ही कप्तान थे विराट कोहली. लेकिन अब विराट कोहली से दो फॉर्मेट की कप्तानी ले ली गई है. विराट अब सिर्फ टेस्ट टीम के कप्तान बचे हैं. लेकिन जिस तरह से विराट कोहली को कप्तानी पद से हटाया गया. वो तरीका विवादों के घेरे में हैं. विराट को साउथ अफ्रीका दौरे के लिए टेस्ट टीम के ऐलान से लगभग डेढ़ घंटा पहले इस बारे में सूचना दी गई कि वो अब वनडे टीम के कप्तान भी नहीं हैं.

इस घटना पर सौरव गांगुली और विराट कोहली के दो अलग-अलग बयान भी आए हैं. बोर्ड प्रेसिडेंट गांगुली ने कहा था कि उन्होंने व्यक्तिगत रूप से कोहली से बात की थी, जब वह T20 इंटरनेशनल में बतौर कप्तान अपना पद छोड़ने का फैसला कर रहे थे. हालांकि विराट ने कहा कि बोर्ड के किसी भी अधिकारी से उनकी ऐसी बातचीत नहीं हुई.

अब इन दोनों ही बातों पर जमकर चर्चा हो रही है. ऐसे में टीम इंडिया के पूर्व खिलाड़ी कीर्ति आज़ाद का बयान आया है. कीर्ति आज़ाद का कहना है कि इस पूरे मामले में चयनकर्ताओं को सौरव गांगुली के पास जाने के बाद उनका अप्रूवल लेकर ही इस मामले में अंतिम फैसला लेना चाहिए था.

आजाद ने न्यूज़ 18 से बात की है. उन्होंने कहा कि

”सदियों से चली आ रही परंपरा को बोर्ड के अध्यक्ष से मंजूरी की मुहर मिलना ज़रूरी और फायदेमंद है. अगर यह चयनकर्ताओं द्वारा तय किया जाना था, तो उन्हें अध्यक्ष के पास जाना चाहिए था. आम तौर पर क्या होता है कि जब एक टीम का चयन किया जाता है तब हम टीम चयन के बाद अध्यक्ष के पास जाएंगे. वह देखेंगे कि सब ठीक है, इस पर हस्ताक्षर करते हैं और फिर इसकी घोषणा की जाती है.”

आज़ाद ने अपने चयनकर्ता वाले दिनों का ज़िक्र करते हुए कहा,

‘जब मैं भी एक चयनकर्ता था तब भी ऐसा ही होता था. मेरे बयान का मतलब चयनकर्ताओं का अपमान करना नहीं है, लेकिन कोहली का क्रिकेट खेलने का अनुभव उनसे कहीं अधिक है.’

उन्होंने आगे कहा,

”अगर आप किसी भी प्रारूप के लिए कप्तान बदल रहे हैं, तो आप अध्यक्ष को लिखें और सूचित करें. विराट परेशान नहीं हैं, लेकिन मुझे लगता है कि जिस तरह से उन्हें सूचित किया गया है, उससे वह आहत हैं. आप समझ सकते हैं, मैं यह नहीं कहना चाहता कि सभी चयनकर्ता वास्तव में महान लोग हैं, लेकिन यदि आप उनके कुल मैचों की संख्या देखें तो जो विराट ने खेला है उसका आधा भी नहीं होगा.”

विराट कोहली मौजूदा समय में भारतीय टेस्ट टीम के साथ साउथ अफ्रीका में हैं. जहां पर टीम इंडिया तीन मैचों की टेस्ट सीरीज़ खेलेगी.


कब खत्म होगा कोहली और बीसीसीआई के बीच विवाद 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

पेट्रोल के दाम घटाने की मांग कर रहे विपक्षी राज्यों को पीएम मोदी ने नवंबर याद दिला दिया

पेट्रोल के दाम घटाने की मांग कर रहे विपक्षी राज्यों को पीएम मोदी ने नवंबर याद दिला दिया

मुख्यमंत्रियों के साथ वर्चुअल मीटिंग में पीएम मोदी ने नाम ले-लेकर सुनाया.

धार्मिक जुलूस की अनुमति की प्रक्रिया जान लो, जहांगीरपुरी हिंसा की वजह समझ आ जाएगी

धार्मिक जुलूस की अनुमति की प्रक्रिया जान लो, जहांगीरपुरी हिंसा की वजह समझ आ जाएगी

जानकारों ने जहांगीरपुरी में निकले जुलूस पर सवाल उठाए हैं.

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे का सेनाध्यक्ष बनना खास क्यों है?

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे का सेनाध्यक्ष बनना खास क्यों है?

मौजूदा आर्मी चीफ मनोज मुकुंद नरवणे के रिटायर्ड होने पर पदभार संभालेंगे.

LIC का IPO: सरकार अब जो करने जा रही है उससे छोटे निवेशकों को फायदा है

LIC का IPO: सरकार अब जो करने जा रही है उससे छोटे निवेशकों को फायदा है

LIC के IPO में बहुत कुछ बदलने जा रहा है. अगले हफ्ते आ सकता है अपडेटेड प्रॉस्पेक्टस.

RBI की इस पहल से सभी एटीएम से बिना कार्ड कैश निकलेगा!

RBI की इस पहल से सभी एटीएम से बिना कार्ड कैश निकलेगा!

अभी ये सुविधा कुछ ही बैंको तक सीमित है.

'शराबी' खिलाड़ी की जानलेवा हरकत की वजह से मरते-मरते बचे थे युजवेंद्र चहल, अब किया खुलासा

'शराबी' खिलाड़ी की जानलेवा हरकत की वजह से मरते-मरते बचे थे युजवेंद्र चहल, अब किया खुलासा

2013 की बात है जब चहल मुंबई इंडियन्स की तरफ से खेलते थे.

आकार पटेल के खिलाफ लुकआउट सर्कुलर जारी करने वाली CBI अब उनसे माफी मांगेगी

आकार पटेल के खिलाफ लुकआउट सर्कुलर जारी करने वाली CBI अब उनसे माफी मांगेगी

कोर्ट ने आकार पटेल को बड़ी राहत दी है.

भारत में कोरोना के XE Variant का पहला केस मिलने के दावे पर सरकार ने क्या कहा?

भारत में कोरोना के XE Variant का पहला केस मिलने के दावे पर सरकार ने क्या कहा?

ये वेरिएंट कितना खतरनाक है, ये भी जान लें.

लल्लनटॉप अड्डा: 9 अप्रैल को मचने वाले धमाल का पूरा शेड्यूल पढ़ लो!

लल्लनटॉप अड्डा: 9 अप्रैल को मचने वाले धमाल का पूरा शेड्यूल पढ़ लो!

हंसी होगी, संगीत होगा और होंगे सौरभ द्विवेदी!

ED ने किन मामलों में सत्येंद्र जैन और संजय राउत के परिवारों की करोड़ों की संपत्ति कुर्क की है?

ED ने किन मामलों में सत्येंद्र जैन और संजय राउत के परिवारों की करोड़ों की संपत्ति कुर्क की है?

कार्रवाई पर संजय राउत भड़क गए हैं.