Submit your post

Follow Us

तबलीगी जमात के सदस्यों को IAS अफसर ने 'हीरो' बताया, सरकार ने नोटिस थमा दिया

कर्नाटक के एक IAS अधिकारी को तबलीगी जमात पर सोशल मीडिया पोस्ट लिखने के लिए कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है. एनडीटीवी के मुताबिक, IAS अधिकारी मोहम्मद मोहसिन ने तबलीगी जमात के उन सदस्यों की तारीफ की थी, जो ठीक होने के बाद प्लाज़्मा डोनेट करने को तैयार हुए थे. उन्होंने कहा कि ये लोग हीरो हैं और COVID-19 के ख़िलाफ़ लड़ाई में उनके योगदान को नज़रअंदाज किया गया.

मोहम्मद मोहसिन वही अधिकारी हैं, जिन्हें 2019 में लोकसभा चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हेलीकॉप्टर की जांच करने का आदेश देने की वजह से सस्पेंड कर दिया गया था. तब वो ओडिशा में पोल ऑब्जर्वर थे. बाद में उनका सस्पेंशन हटा दिया गया लेकिन अनुशासनात्मक कार्रवाई की सिफारिश की गई.

27 अप्रैल को किए गए एक ट्वीट में मोहसिन ने कहा,

दिल्ली में ही 300 से ज़्यादा तबलीगी हीरो देश की सेवा में प्लाज़्मा डोनेट कर रहे हैं. मीडिया कहां है? वो इंसानियत के लिए किए जाने वाले इन हीरो के काम को नहीं दिखाएंगे.

कर्नाटक सरकार ने अधिकारी को नोटिस जारी करते हुए कहा,

मीडिया में इस ट्वीट को लेकर जैसी कवरेज हुई, COVID-19 के खतरे के बीच ये ट्वीट ध्यान में आया है. 30 अप्रैल को जारी किए गए इस नोटिस पर पांच दिनों में लिखित जवाब मांगा गया है. पूछा गया है कि इसे ऑल इंडिया सर्विसेज (कंडक्ट) रूल्स, 1968 का उल्लंघन क्यों ना माना जाए और ऑल इंडिया सर्विसेज (D&A), 1969 के तहत आपके ख़िलाफ़ कार्रवाई क्यों न की जाए?

कर्नाटक सरकार की तरफ से जारी किया गया कारण बताओ नोटिस. फोटो: ट्विटर
कर्नाटक सरकार की तरफ से जारी किया गया कारण बताओ नोटिस. फोटो: ट्विटर

एनडीटीवी के मुताबिक, जब अधिकारी मोहम्मद मोहसिन से इस नोटिस के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा,

मैंने COVID-19 को लेकर सरकार की हेल्पलाइन के बारे में कम से कम 40-50 पोस्ट शेयर की होंगी, जिनमें चीफ मिनिस्टर रिलीफ फंड में सहयोग देने की भी अपील थी.

मोहम्मद मोहसिन 1996 बैच के IAS अधिकारी हैं और इस समय सरकार में बैकवर्ड क्लासेज वेलफेयर डिपार्टमेंट में सचिव हैं.

प्लाज़्मा थेरेपी

पिछले दिनों दिल्ली समेत कई राज्यों ने प्लाज़्मा थेरेपी करनी शुरू की थी. हालांकि सरकार की तरफ से कहा गया कि इस बात के प्रमाण नहीं हैं कि प्लाज़्मा थेरेपी COVID-19 का इलाज है.

दिल्ली में तबलीगी जमात की सभा हुई थी

मार्च में दिल्ली के निज़ामुद्दीन मरकज़ में तबलीगी जमात की सभा हुई थी. यहां हज़ारों लोग जमा हुए थे, जिनमें विदेशी नागरिक भी थे. बाद में मरकज़ खाली कराया गया. पूरे देश में 1500 से ऊपर कोरोना मामलों के तार इस कार्यक्रम से जुड़े थे. पिछले दिनों हरियाणा के एम्स में कई जमात सदस्यों ने प्लाज़्मा डोनेट करने के लिए हामी भरी थी.


तबलीगी जमात के कई सदस्य ठीक होकर दूसरों की जान बचाने को तैयार हैं!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

फारुख अब्दुल्ला बोले- चीन के सपोर्ट से दोबारा लागू किया जाएगा अनुच्छेद 370

फारुख अब्दुल्ला बोले- चीन के सपोर्ट से दोबारा लागू किया जाएगा अनुच्छेद 370

कहा- आर्टिकल 370 को हटाया जाना चीन कभी स्वीकार नहीं करेगा.

पीएम मोदी ने जिस स्वामित्व योजना की शुरुआत की है, उसके बारे में जान लीजिए

पीएम मोदी ने जिस स्वामित्व योजना की शुरुआत की है, उसके बारे में जान लीजिए

2024 तक देश के 6.62 लाख गांवों तक सुविधा पहुंचाने का लक्ष्य है.

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री ने CJI को चिट्ठी लिखी, सुप्रीम कोर्ट के जज एनवी रमन्ना पर लगाए गंभीर आरोप

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री ने CJI को चिट्ठी लिखी, सुप्रीम कोर्ट के जज एनवी रमन्ना पर लगाए गंभीर आरोप

जस्टिस एनवी रमन्ना अगले संभावित चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया बन सकते हैं.

TRP स्कैम: FIR में इंडिया टुडे टीवी का नाम आने पर मुंबई पुलिस ने क्या कहा है?

TRP स्कैम: FIR में इंडिया टुडे टीवी का नाम आने पर मुंबई पुलिस ने क्या कहा है?

रिपब्लिक टीवी का आरोप है कि FIR में इंडिया टुडे टीवी का नाम आने पर एक्शन नहीं लिया गया.

IPL 2020: मयंक-राहुल के विकेट से नहीं, इन छह गेंदों से हार गया पंजाब

IPL 2020: मयंक-राहुल के विकेट से नहीं, इन छह गेंदों से हार गया पंजाब

सीजन बदला पर पंजाब की हालत नहीं.

मुंबई पुलिस का दावा, पैसे देकर TRP खरीदता है रिपब्लिक टीवी

मुंबई पुलिस का दावा, पैसे देकर TRP खरीदता है रिपब्लिक टीवी

रैकेट में दो और चैनलों के भी नाम हैं, उनके मालिक गिरफ्तार कर लिए गए है.

दो बार छह छ्क्के लगा चुका वह भारतीय, जिसे करोड़पति बनना रास ना आया

दो बार छह छ्क्के लगा चुका वह भारतीय, जिसे करोड़पति बनना रास ना आया

गणित के मास्टर भी हैं CSK को पीटने वाले राहुल त्रिपाठी.

आधी रात को क्यों जलाई थी हाथरस विक्टिम की बॉडी, यूपी सरकार ने अब बताया है

आधी रात को क्यों जलाई थी हाथरस विक्टिम की बॉडी, यूपी सरकार ने अब बताया है

साथ ही ये भी बताया कि 14 सितंबर से अब तक क्या-क्या किया.

कंफर्म हो गया, अकेले चुनाव लड़ेगी चिराग पासवान की पार्टी

कंफर्म हो गया, अकेले चुनाव लड़ेगी चिराग पासवान की पार्टी

क्या ये चिराग पासवान के लिए ज़मीन तैयार करने की रणनीति है?

शिक्षा मंत्रालय की गाइडलाइंस, बताया 15 अक्‍टूबर से किन शर्तों पर खुलेंगे स्कूल-कॉलेज

शिक्षा मंत्रालय की गाइडलाइंस, बताया 15 अक्‍टूबर से किन शर्तों पर खुलेंगे स्कूल-कॉलेज

स्टूडेंट्स, अभिभावकों की लिखित सहमति से ही स्कूल जा सकते हैं.