Submit your post

Follow Us

गिरिराज सिंह: आत्महत्या कर लूं? JDU नेता: किसी ने रोका है क्या?

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह हाल में अपने संसदीय क्षेत्र बेगूसराय में थे. उन्होंने बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा किया था और हालात देख नीतीश कुमार के प्रति नाराजगी जाहिर की थी. कहा था कि बेगूसराय का आधा हिस्सा बाढ़ और आधा सुखाड़ से ग्रस्त है. लोग दिक्कतों का सामना कर रहे हैं. क्षेत्र में राहत और बचाव कार्य नाकाफी हैं. ऐसे में आवाज़ न उठाएं तो क्या आत्महत्या कर लें?

गिरिराज सिंह के इस बयान पर बयानबाजी जारी है. गिरिराज के इस बयान के बाद बिहार के संसदीय कार्य और ग्रामीण विकास मंत्री श्रवन कुमार ने कहा है कि उन्हें हक़ीकत देख बयान देना चाहिए. ऐसी नेगेटिव बातें नहीं करनी चाहिए. आत्महत्या करने वाले जैसे बयान नहीं देने चाहिए. दुनिया में आत्महत्या करने से किसी ने किसी को रोका है क्या? मंत्री ने आगे कहा कि बिहार सरकार सत्ता का सुख भोगने के लिए नहीं है. सीएम नीतीश कुमार प्रभावित लोगों के लिए दिल खोलकर काम करते हैं. खजाने पर पहला हक पीड़ितों का है. गिरिराज बेवजह ऐसे बयान देते रहते हैं.

गिरिराज सिंह के बयान पर कांग्रेस प्रवक्‍ता प्रेमचंद्र मिश्र ने कहा कि गिरिराज की बात उनके राज में ही नहीं सुनी जा रही है. राज्‍य और केंद्र में उनकी सरकार है और उन्‍हें आत्‍महत्‍या की बात करनी पड़ रही है. हालात ठीक नहीं हैं. मामले पर आरजेडी के राज्यसभा सांसद मनोज झा ने कहा कि केंद्रीय मंत्री होने के बावजूद गिरिराज सिंह अपने क्षेत्र की जनता के लिए काम नहीं कर सकते. नहीं कर सकते तो मंत्रिमंडल छोड़ दें, आत्महत्या नहीं करें.


वीडियो- इंडिया टु़डे कॉन्क्लेव: मेहबूबा मुफ्ती की बेटी इल्तिजा मुफ्ती ने आतंकी बुरहान वानी पर ये कहा है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

राज्यसभा की 18 सीटों में से कांग्रेस और बीजेपी ने कितनी जीतीं?

एक और पार्टी है जिसने कांग्रेस जितनी सीटें जीती हैं.

दिल्ली के हेल्थ मिनिस्टर सत्येंद्र जैन ऑक्सीजन सपोर्ट पर, दूसरे अस्पताल में शिफ्ट किए गए

कुछ दिन पहले कोरोना पॉज़िटिव आए थे, अब प्लाज़मा थेरेपी दी जाएगी.

चीनी सेना की यूनिट 61398, जिससे पूरी दुनिया के डेटाबाज़ डरते हैं

बड़ी चालाकी से काम करती है ये यूनिट.

गलवान घाटी में झड़प के बाद भी चीनी सेना मौजूद, 200 से ज्यादा ट्रक और टेंट लगाए

सैटेलाइट से ली गई तस्वीरों में यह सामने आया है.

पेट्रोल-डीजल के दाम में फिर से उबाल क्यों आ रहा है?

रोजाना इनके दाम घटने-बढ़ने की पूरी कहानी.

उत्तर प्रदेश में एक IPS अधिकारी के ट्रांसफर पर क्यों तहलका मचा हुआ है?

69000 भर्ती में कार्रवाई का नतीजा ट्रांसफर बता रहे लोग. मगर बात कुछ और भी है.

गलवान घाटी: LAC पर भारत के तीन नहीं, 20 जवान शहीद हुए हैं, कई चीनी सैनिक भी मारे गए

लड़ाई में हमारे एक के मुकाबले तीन थे चीनी सैनिक.

गलवान घाटीः वो जगह जहां भारत-चीन के बीच झड़प हुई

पिछले कुछ समय से यहां पर दोनों देशों की सेनाएं आमने-सामने हैं.

लद्दाख: गलवान घाटी में भारत-चीन झड़प पर विपक्ष के नेता क्या बोले?

सेना के एक अधिकारी समेत तीन जवान शहीद हुए हैं.

क्या परवीन बाबी की राह पर चल पड़े थे सुशांत?

मुकेश भट्ट ने एक इंटरव्यू में कहा.