Submit your post

Follow Us

तो क्या इस साल भारत में नहीं हो पाएगा IPL?

BCCI प्रेसिडेंट सौरव गांगुली ने IPL 2020 का इंतजार कर रहे फैंस को बड़ी अपडेट दी है.एक बातचीत के दौरान सौरव ने कहा कि देश को इस साल के अंत या अगले साल की शुरुआत तक कोविड-19 से जूझना है. इसका सीधा अर्थ ही है कि भारत में इस साल IPL का आयोजन हो पाना संभव नहीं है,

सौरव हाल ही में टीम इंडिया के ओपनर मयंक अग्रवाल के साथ चर्चा में शामिल हुए थे. इस चर्चा के दौरान उनसे पूछा गया कि भारत में कोविड-19 के हालात के बारे में उनकी क्या राय है. इस पर गांगुली ने कहा,

‘मैं सोचता हूं कि अगले दो-तीन-चार महीने थोड़े मुश्किल होंगे. हमें इसे झेलना होगा और शायद इस साल के अंत में या अगले साल की शुरुआत में, जिंदगी पटरी पर लौट आएगी.’

#DadaOpensWithMayank नाम के चैटशो पर बात करते हुए गांगुली ने कहा,

‘मैं वैक्सीन आने का इंतजार करूंगा. तब तक, हां, हमें थोड़ी ज्यादा सतर्कता बरतनी होगी… हमें पता है कि क्या हो रहा है और हम बीमार नहीं होना चाहते. लार का इस्तेमाल एक समस्या है. शायद एक बार वैक्सीन के आने के बाद बाकी बीमारियों की तरह, सबकुछ ठीक हो जाए.’

IPL 2020 की बात करें तो BCCI इसे सितंबर-अक्टूबर-नवंबर में कराने का सोच रही है. बोर्ड की पहली प्राथमिकता तो इसे देश में ही कराने की है लेकिन ऐसा होता दिख नहीं रहा. भारत अब अमेरिका और ब्राज़ील के बाद कोरोना से तीसरा सबसे ज्यादा प्रभावित देश बन चुका है. इस बीच सोमवार को श्रीलंका और UAE के बाद न्यूज़ीलैंड ने भी IPL 2020 होस्ट करने का ऑफर दिया है.


IPL से चाइनीज स्पॉन्सर्स को हटाने पर क्या बोल रहे टीमों के मालिक?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

बुरी खबर! 'मेरे जीवनसाथी', 'काला सोना' जैसी फ़िल्में बनाने वाले प्रड्यूसर हरीश शाह नहीं रहे

कैंसर से जारी जंग आखिरकार हार गए.

दिल्ली की जेल में सजा काट रहे सिख दंगे के दोषी नेता की कोरोना से मौत हो गई

विधायक रह चुके इस नेता की कोरोना रिपोर्ट 26 जून को पॉज़िटिव आई थी.

श्रीलंका का ये क्रिकेटर हत्या के आरोप में गिरफ्तार

44 टेस्ट, 76 वनडे और 26 टी20 खेल चुका है.

लेह में दिए अपने भाषण में पीएम मोदी ने चीन का नाम लिए बिना क्या-क्या कहा?

जवानों पर, बॉर्डर के विकास पर, दुनिया की सोच पर बहुत कुछ बोला है.

ICMR ने एक महीने में कोरोना की वैक्सीन लॉन्च करने का झूठा दावा किया है!

क्या वैक्सीन के ट्रायल में घपला हो रहा है?

भारत-चीन के तनाव के बीच पीएम मोदी ने लद्दाख़ पहुंचकर किससे बात की?

पहले राजनाथ सिंह जाने वाले थे, नहीं गए.

मलेरिया वाली जिस दवा को कोरोना में जान बचाने के लिए इस्तेमाल कर रहे, वो उल्टा काम कर रही है?

हाईड्रॉक्सीक्लोरोक्विन पर चौंकाने वाली रिसर्च!

इस साल के आख़िर तक मिलने लगेगी कोरोना की 'मेड इन इंडिया' वैक्सीन!

भारत बायोटेक के अधिकारी ने क्या बताया?

'कोरोनिल' पर पतंजलि के आचार्य बालकृष्ण पूरी तरह यू-टर्न मार गए!

पतंजलि का दावा था कि 'कोरोनिल' दवा कोरोना वायरस ठीक करने में कारगर होगी.

चीन के ऐप तो बैन हो गए, पर उन भारतीयों का क्या जो इनमें काम करते हैं

चीनी ऐप के कर्मचारियों में घबराहट है.