Submit your post

Follow Us

फैसला हो गया, क्या इंग्लैंड जाएंगे पृथ्वी और पडिक्कल?

इंग्लैंड में मौजूद भारतीय क्रिकेट टीम के ओपनर शुभमन गिल की चोट के बाद चिंताएं बढ़ी हुई हैं. गिल की चोट के बाद शॉ और पड्डीकल को इंग्लैंड भेजने की मांग की जा रही है. इसी बीच टीम सिलेक्टर्स ने ये साफ कर दिया है कि इंग्लैंड में भारत से कोई अन्य ओपनर नहीं भेजा जाएगा. ना तो पृथ्वी शॉ और ना ही देवदत्त पडिक्कल इंग्लैंड रवाना होंगे.

भारत और इंग्लैंड के बीच पांच टेस्ट मैचों सीरीज शुरु होने में एक महीने से भी कम समय बचा है. ऐसे में शुभमन गिल के चोटिल होने के बाद टीम के पास केएल राहुल और मयंक अग्रवाल के रूप में ओपनिंग बल्लेबाज़ मौजूद हैं. लेकिन फिर भी टीम मैनेजमेंट भारत से ओपनर चाहता है.

सिलेक्टर्स ने किया ओपनर भेजने से इन्कार:

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार, इंडियन टीम मैनेजमेंट ने पृथ्वी शॉ और देवदत्त पडिक्कल को इंग्लैंड के खिलाफ होने वाली टेस्ट सीरीज़ के लिए भारतीय दल को जॉइन करवाने की रिक्वेस्ट की थी. लेकिन सिलेक्टर्स ने मैनेजमेंट की इस रिक्वेसट को नकार दिया है. हालांकि उन्होंने अभिमन्यु ईश्वरन को टीम में शामिल करने का सुझाव दिया है. जो कि पहले से ही रिज़र्व ओपनर के रुप में भारतीय टीम के साथ इंग्लैंड में है.

आपको बता दें 28 जून को भारतीय टीम मैनेजमेंट ने ईमेल के जरिए ओपनर बल्लेबाज पृथ्वी शॉ और देवदत्त पडिक्कल को इंग्लैंड भेजने का निवेदन किया था. लेकिन टीम के अंदर से आ रही इन खबरों से ऐसा भी लगता है कि मैनेजमेंट का केएल राहुल और मयंक अग्रवाल पर बहुत ज़्यादा भरोसा नहीं है.

ये सारी टेंशन शुभमन गिल की चोट की वजह से है. पहले ऐसा कहा जा रहा था कि शुभमन पहले टेस्ट तक ठीक हो जाएंगे. लेकिन BCCI के ऑफिशयल ने PTI को बताया कि

”शुभमन गिल को पिंडली की चोट के कारण यूके में पूरी टेस्ट श्रृंखला से बाहर कर दिया गया है, जिसे ठीक होने में कम से कम तीन महीने लगेंगे. पिछले महीने के अंत में टीम के एडमिनिस्ट्रेटिव मैनेजर ने सेलेक्टर चेतन शर्मा को मेल भेजकर दो ओपनर यूके भेजने की रिक्वेस्ट की थी.”

पृथ्वी शॉ और देवदत्त पडिक्कल श्रीलंका के खिलाफ लिमिटिड ओवर सीरीज में भारत का प्रतिनिधित्न कर रहे है. जिसकी शुरुआत 13 जुलाई से होनी है. लेकिन अब इनका इंग्लैंड जाने का रास्ता लगभग बंद हो गया है.

इस स्टोरी को लिखा है हमारे साथ इंटर्नशिप कर रहीं गरिमा भारद्वाज ने.


IPL: 10 टीमों वाले सीजन के लिए तैयार हुआ प्लान, जानें कौन खरीद सकता है टीम?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

अफगानिस्तान: तालिबान ने नई सरकार की घोषणा की, किसे बनाया मुखिया?

अफगानिस्तान: तालिबान ने नई सरकार की घोषणा की, किसे बनाया मुखिया?

नई अफगानिस्तान सरकार का लीडर यूएन की आतंकियों की लिस्ट में शामिल है.

छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल के पिता गिरफ्तार, कोर्ट ने 15 दिन के लिए भेजा जेल

छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल के पिता गिरफ्तार, कोर्ट ने 15 दिन के लिए भेजा जेल

रायपुर पुलिस ने नंद कुमार बघेल को ब्राह्मणों पर आपत्तिजनक टिप्पणी के आरोप में गिरफ्तार किया.

एक्टर रजत बेदी ने रोड पार करते व्यक्ति को टक्कर मारी!

एक्टर रजत बेदी ने रोड पार करते व्यक्ति को टक्कर मारी!

पीड़ित इस वक़्त कूपर अस्पताल में भर्ती है, जहां उसकी हालत बेहद नाज़ुक है.

अक्षय कुमार की मां ICU में एडमिट, यूके से शूटिंग छोड़ वापस आए अक्षय

अक्षय कुमार की मां ICU में एडमिट, यूके से शूटिंग छोड़ वापस आए अक्षय

कई दिनों से अक्षय कुमार की मां अरुणा भाटिया की तबीयत खराब है.

तस्वीरों में देखिए मुजफ्फरनगर में किसानों की महापंचायत

तस्वीरों में देखिए मुजफ्फरनगर में किसानों की महापंचायत

500 लंगर, 100 चिकित्सा शिविर, 5 हज़ार वॉलेंटियर्स.

Hurricane Ida से अमेरिका में तबाही, दिल दहलाने वाली तस्वीरें आ रही हैं

Hurricane Ida से अमेरिका में तबाही, दिल दहलाने वाली तस्वीरें आ रही हैं

न्यूयॉर्क समेत पूरे अमेरिका में अब तक 44 लोगों के मारे जाने की बात कही गई है.

तालिबान का समर्थन करने वाले भारतीय मुसलमानों को नसीरुद्दीन शाह ने तगड़ा पाठ पढ़ाया

तालिबान का समर्थन करने वाले भारतीय मुसलमानों को नसीरुद्दीन शाह ने तगड़ा पाठ पढ़ाया

सोशल मीडिया पर नसीरुद्दीन शाह का ये वीडियो वायरल है.

सिद्धार्थ शुक्ला की आखिरी सोशल मीडिया पोस्ट दिल दुखा देगी

सिद्धार्थ शुक्ला की आखिरी सोशल मीडिया पोस्ट दिल दुखा देगी

फ्रंटलाइन वारियर्स को ट्रिब्यूट देते हुए की थी सिड ने अंतिम पोस्ट.

WHO का अनुमान, कोविड-19 से यूरोप में अभी भी बहुत बड़ी संख्या में मौतें हो सकती हैं

WHO का अनुमान, कोविड-19 से यूरोप में अभी भी बहुत बड़ी संख्या में मौतें हो सकती हैं

कोरोना संक्रमण से होने वाली मौतों के मामले में यूरोप पहले ही सबसे आगे है.

किसानों पर लाठीचार्ज, सत्यपाल मलिक बोले- बिना खट्टर के इशारों पर ये नहीं हुआ होगा

किसानों पर लाठीचार्ज, सत्यपाल मलिक बोले- बिना खट्टर के इशारों पर ये नहीं हुआ होगा

मेघालय के राज्यपाल ने कहा-सीएम को किसानों से माफी मांगनी चाहिए.