Submit your post

Follow Us

'मुझे सांस नहीं आ रही डैडी, उन्होंने ऑक्सीजन हटा ली', कहकर वीडियो भेजा, एक घंटे बाद मौत हो गई

हैदराबाद के एक कोरोना वायरस पॉजीटिव व्यक्ति का वीडियो सोशल मीडिया वायरल है. वीडियो अस्पताल में भर्ती व्यक्ति ने अपने परिवार के लिए बनाया. बाद में उसकी मौत हो गई. बताया जाता है कि वीडियो उसकी मौत से कुछ देर पहले का ही है. इसमें वह तेलुगू भाषा में कहता है कि डॉक्टरों ने वेंटीलेटर हटा दिया. इस वजह से उसे सांस लेने में परेशानी हो रही है. फिर वह अपने पिता को अलविदा कहते सुनाई देता है. वीडियो 26 जून की रात का बताया जाता है. लेकिन 28 जून से यह सोशल मीडिया पर वायरल हुआ.

इस मामले में यह भी सामने आया है कि युवक की कोरोना रिपोर्ट लेट आई. ऐसे में मौत होने के बाद युवक का शव परिवार को दे दिया गया. अब परिवार के बाकी लोगों पर संक्रमण का खतरा मंडरा रहा है.

क्या है वीडियो में

वीडियो हैदराबाद का है. यहां के सरकारी अस्पताल में भर्ती एक 34 साल के कोरोना पॉजीटिव युवक ने यह वीडियो बनाया है. वीडियो में वह तेलुगु भाषा में बोल रहा है. वह कहता है,

उन्होंने मुझे वेंटीलेटर से हटा दिया है. पिछले तीन घंटे से मैं उन्हें ऑक्सीजन सपोर्ट देने को कह रहा हूं. लेकिन वे मेरी सुन नहीं रहे हैं. ऐसा लग रहा है कि मेरी धड़कन रुक गई है. बस फेफड़े चल रहे हैं. मुझे सांस नहीं आ रही है. मुझे सांस नहीं आ रही है डैडी. बाय डैडी. सबको बाय. बाय डैडी.

एनडीटीवी की रिपोर्ट के अनुसार, वीडियो बनाए जाने के करीब एक घंटे बाद उस युवक की मौत हो गई. वीडियो सामने आने के बाद चिकित्सा सुविधाओं और अस्पालकर्मियों पर सवाल उठे रहे हैं.

वीडियो आप यहां देख सकते हैं. लेकिन ये दर्दनाक वीडियो है, अगर ऐसे वीडियो देखकर आपको समस्या होती है, तो बिल्कुल न देखें.

परिवार का क्या कहना है

युवक के पिता का कहना है कि 24 जून को उनके बेटे को तेज बुखार आया. उन्होंने NDTV को बताया कि वे बेटे को लेकर अस्पताल गए. लेकिन कम से कम 10 प्राइवेट अस्पतालों ने उसे भर्ती नहीं किया. फिर सरकारी अस्पताल में उसे भर्ती कराया. 26 जून को उसकी मौत की जानकारी मिली. अस्पताल ने उन्हें शव दे दिया. 27 जून को उन्होंने अंतिम संस्कार कर दिया.

परिवार पर संक्रमण का खतरा

युवक के परिवार ने बताया कि अंतिम संस्कार के बाद एक प्राइवेट अस्पताल ने फोन कर बताया कि उनके बेटे को कोरोना था. उन्हें काफी देरी से कोरोना की जांच रिपोर्ट मिली. सरकारी अस्पताल ने भी बिना जांच और बिना सावधानी के उन्हें शव दे दिया. इस वजह से घर के छह सदस्यों को कोरोना होने की आशंका है. इनमें युवक के माता-पिता, पत्नी, भाई और भाभी शामिल हैं.

युवक के पिता ने  NDTV से कहा,

हम सब उसके संपर्क में आए थे. लेकिन किसी ने हमारा टेस्ट नहीं किया. मेरी एक 12 साल की पोती और नौ साल का पोता है. उन्हें तो यह भी नहीं पता कि उनके पिता नहीं रहे. अब मैं क्या करूंगा?

पिता का सवाल- ऑक्सीजन क्योंं नहीं दी गई

उन्होंने आगे बताया कि बेटे का वीडियो उन्होंने अंतिम संस्कार के बाद देखा था. उनका बेटा मदद मांगता रहा लेकिन किसी ने उसकी नहीं सुनी. जो कुछ उनके बेटे के साथ हुआ है, वह किसी और के साथ कभी न हो. वे पूछते हैं कि उनके बेटे को ऑक्सीजन क्यों नहीं दी गई? क्या किसी और को ऑक्सीजन चाहिए थी जो उसकी ऑक्सीजन हटाई गई?

अस्पताल का जवाब- नहीं हटाई ऑक्सीजन

वहीं अस्पताल ने वेंटीलेटर और ऑक्सीजन हटाए जाने के आरोपों का खंडन किया है. अस्पताल के सुपरिटेंडेंट महबूब खान ने हिंदुस्तान टाइम्स को बताया कि युवक काफी गंभीर स्थिति में था. इस वजह से उसे ऑक्सीजन सप्लाई का ध्यान नहीं रहा. युवक को लगातार ऑक्सीजन दी जा रही थी. युवक की मौत अचानक दिल का दौरा पड़ने से हुई. अस्पतालकर्मियों ने उसे बचाने की पूरी कोशिश की. लेकिन बचा नहीं पाए.

खान का कहना है कि कोरोना संक्रमित युवाओं में एक नए तरह का ट्रेंड दिख रहा है. इसके तहत उन्हें ऑक्सीजन दिए जाने पर भी उन्हें ऑक्सीजन पर्याप्त नहीं लगती. बाद में अचानक दिल का दौरा पड़ने से उनकी मौत हो जा रही है.

भारत में कोरोना वायरस के मामलों का स्टेटस


Video: राजस्थान: शादी में शामिल हुए 250 लोगों में से 16 कोरोना संक्रमित और एक की मौत

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

गैंगस्टर आनंदपाल एनकाउंटर के बाद हुई हिंसा के लिए CBI ने चार्जशीट में किस-किस का नाम जोड़ा है?

एनकाउंटर की सीबीआई जांच की मांग को लेकर हिंसा हुई थी.

क्या अरुणाचल में चीन भारतीय सीमा में 50 किलोमीटर तक घुस गया है?

बीजेपी सांसद ने यह दावा किया है.

पतंजलि का कोरोनिल लॉन्च करने वाले डॉक्टर ने दवा की सबसे बड़ी गड़बड़ी बता दी!

मरीज़ों को केवल कोरोनिल नहीं दी गई थी.

पैंगोंग और गलवान के बाद लद्दाख के इन इलाकों में चीन नई मुसीबत खड़ी कर रहा है

भारत और चीन के बीच तनाव बढ़ता ही जा रहा है.

राजस्थान में महाराणा प्रताप को लेकर फिर से हंगामा क्यों हो रहा है?

फिर से राजस्थान बोर्ड का सिलेबस चर्चा में है.

पतंजलि ने खांसी-सर्दी की दवा के लाइसेंस पर 'कोरोना की दवा' बना दी!

जारी हो गया है नोटिस

जिस वीडियो में भारत-चीन के सैनिक एक-दूसरे पर मुक्के बरसा रहे हैं, उसका सच क्या है?

वीडियो कब का है, कहां का है?

इंग्लैंड टूर से पहले पाकिस्तान के तीन क्रिकेटर कोविड पॉज़िटिव

अहम टूर से पहले पाकिस्तान को लगा झटका.

पटना के बैंक में दिन-दहाड़े 52 लाख रुपए की डकैती

अपराधियों ने बैंक में लगे CCTV की हार्ड डिस्क तोड़ दी.

अब लद्दाख की पैंगोंग झील के पास चीन की हरकत, भारतीय क्षेत्र में बना रहा है बंकर

सैटेलाइट इमेज एक्सपर्ट की बातें यही इशारा कर रही हैं.