Submit your post

Follow Us

कोरोना वायरस की वजह से दिल्ली के पूर्व क्रिकेटर का निधन

दिल्ली के पूर्व फर्स्ट-क्लास क्रिकेटर और अंडर-16 टीम के सपोर्ट स्टाफ रहे संजय डोभाल का कोविड-19 की वजह से निधन हो गया है. उन्होंने 29 जून को दिल्ली के वेंकटेश्वर अस्पताल में आखिरी सांस ली. 53 वर्षीय डोभाल के दो बेटे और पत्नी हैं. उनके बड़े बेटे सिद्धांत राजस्थान के लिए फर्स्ट-क्लास क्रिकेट खेलते हैं. जबकि छोटे बेटे एकांश ने दिल्ली की अंडर-23 टीम के लिए पिछले साल ही डेब्यू किया था.

डोभाल एअर इंडिया में काम करते थे. 12 जून को जिस वक्त उन्हें तेज़ बुखार और घबराहट हुई वो ड्यूटी पर तैनात थे. परिवार ने उन्हें हरियाणा के बहादुरगढ़ के जीवनज्योति नर्सिंग होम में एडमिट करवाया. लेकिन उनकी स्थिति लगातार बिगड़ती रही. जिसके बाद उन्हें दिल्ली के वेंकटेश्वर अस्पताल में भर्ती कराया गया.

उनके बेटे सिद्धांत ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया कि पहली कोविड-19 रिपोर्ट पॉज़ीटिव आने के बाद में उनकी कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव भी आई. लेकिन फिर 25 जून के दिन जब दोबारा टेस्ट किया गया तो उनकी रिपोर्ट फिर से पॉज़ीटिव आई. इसके बाद उनकी तबीयत ज़्यादा बिगड़ गई. उन्हें निमोनिया की शिकायत भी हुई. जिससे वो रिकवर नहीं कर सके.

वीरेंद्र सहवाग और गौतम गंभीर ने की थी मदद की अपील:

गौतम गंभीर ने 28 जून के दिन सोशल मीडिया पर एक पोस्ट किया. जिसमें उन्होंने लिखा था,

”मैं आप सबसे अपील करता हूं मेरे दोस्त संजय डोभाल को एक प्लाज़्मा डोनर की ज़रूरत है. कोविड की वजह से उन्हें निमोनिया हो गया है. जो भी मरीज़ कोविड से लगभग 28 दिन पहले ठीक हो चुके हैं और ब्लड डोनेट करना चाहते हैं. प्लीज़ सिद्धांत और एकांश (संजय डोभाल के बेटे) के नंबर पर कॉन्टैक्ट करें.”

गंभीर के अलावा सहवाग ने भी सोशल मीडिया पर लिखा था,

”अगर दिल्ली में कोई भी कम से कम 20 दिन पहले कोविड-19 से ठीक हुआ है, तो मैं आपसे निवेदन करता हूं कि प्लीज़ O-ve ब्लड डोनेट करें. साथ ही संजय डोभाल की प्लाज़्मा थेरेपी में भी मदद करें. उनकी हालत बहुत गंभीर है और उन्हें प्लाज़्मा थेरेपी की सख़्त ज़रूरत है.”

लेकिन इन अपील के अगले दिन ही संजय का निधन हो गया. उनके निधन पर टीम इंडिया के विकेटकीपर ऋषभ पंत ने भी शोक जताया है.


2007 के T20 वर्ल्डकप में धोनी की टीम इंडिया के लिए द्रविड़, सचिन, गांगुली ने ये बड़ा फैसला लिया था 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

लगभग 16 मिनट के राष्ट्र के नाम संदेश में नरेंद्र मोदी ने क्या काम की बात की?

संदेश का सार यहां पढ़िए.

भारत सरकार के चाइनीज़ ऐप बंद करने के स्टेप पर TikTok ने चिट्ठी में क्या लिखा?

अपने यूज़र्स के बारे में भी कुछ कहा है.

PM CARES के तहत बने देसी वेंटिलेटर इस हाल में मिले कि लौटाने की नौबत आ गई

और ख़राब वेंटिलेटर बनाने वालों ने क्या सफ़ाई दी?

भारत में चीन के 59 मोबाइल ऐप बैन, टिकटॉक, यूसी, वीचैट भी लपेटे में

कहा कि देश की सुरक्षा की ख़ातिर इन्हें बैन किया जा रहा है.

गैंगस्टर आनंदपाल एनकाउंटर के बाद हुई हिंसा के लिए CBI ने चार्जशीट में किस-किस का नाम जोड़ा है?

एनकाउंटर की सीबीआई जांच की मांग को लेकर हिंसा हुई थी.

क्या अरुणाचल में चीन भारतीय सीमा में 50 किलोमीटर तक घुस गया है?

बीजेपी सांसद ने यह दावा किया है.

पतंजलि का कोरोनिल लॉन्च करने वाले डॉक्टर ने दवा की सबसे बड़ी गड़बड़ी बता दी!

मरीज़ों को केवल कोरोनिल नहीं दी गई थी.

पैंगोंग और गलवान के बाद लद्दाख के इन इलाकों में चीन नई मुसीबत खड़ी कर रहा है

भारत और चीन के बीच तनाव बढ़ता ही जा रहा है.

राजस्थान में महाराणा प्रताप को लेकर फिर से हंगामा क्यों हो रहा है?

फिर से राजस्थान बोर्ड का सिलेबस चर्चा में है.

पतंजलि ने खांसी-सर्दी की दवा के लाइसेंस पर 'कोरोना की दवा' बना दी!

जारी हो गया है नोटिस