Submit your post

Follow Us

नहीं रहे बासु चटर्जी, जिन्होंने 'चमेली की शादी', 'रजनीगंधा' जैसी शानदार फ़िल्में दी थीं

डायरेक्टर और स्क्रीनराइटर बासु चटर्जी नहीं रहे. 4 जून (गुरुवार) को मुंबई में उनका निधन हो गया. वो 93 बरस के थे. उम्र संबंधी दिक्कतों की वजह से उनकी मौत हुई. फिल्म-मेकर अशोक पंडित ने बासु दा के जाने की जानकारी ट्विटर पर दी. उनकी तस्वीर पोस्ट करके लिखा,

‘मुझे ये जानकारी देते हुए बहुत दुख हो रहा है कि लिजेंड्री फिल्म-मेकर बासु चटर्जी का निधन हो गया है. उनका अंतिम संस्कार आज (4 जून) दोपहर दो बजे सांताक्रूज में किया जाएगा. इंडस्ट्री के लिए ये बहुत बड़ा नुकसान है. हमें आपकी याद आएगी.’

सोशल मीडिया पर फिल्मी दुनिया से जुड़े लोग बासु चटर्जी को श्रद्धांजलि दे रहे हैं. एक्टर जिमी शेरगिल ने लिखा,

‘बासु दा, रेस्ट इन पीस. इस दुख के वक्त में आपके परिवार के साथ मेरी संवेदनाएं हैं.’

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने लिखा,

‘बासु के जाने की खबर सुनकर दुखी हूं. वो लिजेंड्री फिल्म-मेकर थे, जिनकी हमेशा याद आएगी.’

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने लिखा,

‘लिजेंड्री फिल्म डायरेक्टर और स्क्रीन राइटर बासु चटर्जी के निधन से दुखी हूं. उन्होंने ‘छोटी सी बात’, ‘चितचोर’, ‘रजनीगंधा’, ‘ब्योमकेश बक्शी’, ‘रजनी’ जैसे नगीने दिए. उनके परिवार, दोस्त, फैन्स और पूरी फिल्म इंडस्ट्री के साथ मेरी संवेदनाएं हैं.’

फिल्म-मेकर मधुर भंडारकर ने कहा,

‘बासु चटर्जी के निधन की खबर सुनकर दुखी हूं. उनकी फिल्मों और कॉमेडी के लिए वो हमेशा याद आएंगे.’

इसके अलावा आम लोग भी बासु के जाने पर दुखी हैं. लगातार ट्वीट किए जा रहे हैं-

बासु चटर्जी 60 के दशक से फिल्मों की दुनिया में एक्टिव थे. ‘चमेली की शादी’, ‘पिया का घर’, ‘चितचोर’, ‘सारा आकाश’ जैसी कई बेहतरीन फिल्में डायरेक्ट की थीं. बहुत सी फिल्मों के लिए डायलॉग राइटिंग का भी काम किया था, कई फिल्में प्रोड्यूस भी की थीं. कई टीवी सीरियल भी डायरेक्ट किए थे.


वीडियो देखें: म्यूज़िक डायरेक्टर वाजिद खान का 42 साल की उम्र में निधन, हफ़्ते भर पहले कोरोना पॉजिटिव हुए थे

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

'निसर्ग' चक्रवात क्या है और ये कितना ख़तरनाक है?

'निसर्ग' नाम का मतलब भी बता रहे हैं.

कोरोना काल में क्रिकेट खेलने वाले मनोज तिवारी ‘आउट’

दिल्ली में हार के बाद बीजेपी का पहला बड़ा फैसला.

1 जून से लॉकडाउन को लेकर क्या नियम हैं? जानिए इससे जुड़े सवालों के जवाब

सरकार ने कहा कि यह 'अनलॉक' करने का पहला कदम है.

3740 श्रमिक ट्रेनों में से 40 प्रतिशत ट्रेनें लेट रहीं, रेलवे ने बताई वजह

औसतन एक श्रमिक ट्रेन 8 घंटे लेट हुई.

कंटेनमेंट ज़ोन में लॉकडाउन 30 जून तक बढ़ाया गया, बाकी इलाकों में छूट की गाइडलाइंस जानें

गृह मंत्रालय ने कंटेनमेंट ज़ोन के बाहर चरणबद्ध छूट को लेकर गाइडलाइंस जारी की हैं.

मशहूर एस्ट्रोलॉजर बेजान दारूवाला नहीं रहे, कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी

बेटे ने कहा- निमोनिया और ऑक्सीजन की कमी से हुई मौत.

लॉकडाउन-5 को लेकर किस तरह के प्रपोज़ल सामने आ रहे हैं?

कई मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि 31 मई के बाद लॉकडाउन बढ़ सकता है.

क्या जम्मू-कश्मीर में फिर से पुलवामा जैसा अटैक करने की तैयारी में थे आतंकी?

सिक्योरिटी फोर्स ने कैसे एक्शन लिया? कितना विस्फोटक मिला?

लद्दाख में भारत और चीन के बीच डोकलाम जैसे हालात हैं?

18 दिनों से भारत और चीन की फौज़ आमने-सामने हैं.

शादी और त्योहार से जुड़ी झारखंड की 5000 साल पुरानी इस चित्रकला को बड़ी पहचान मिली है

जानिए क्या खास है इस कला में.