Submit your post

Follow Us

किसानों के 'भारत बंद' के समर्थन में सामने आए फिल्मी सितारे

संसद से पास हो चुके तीन कृषि बिलों को लेकर पंजाब और हरियाणा के किसान भड़के हुए हैं. सरकार भले ही लगातार भरोसा दिला रही है कि ये विधेयक उनके फायदे के लिए ही हैं. लेकिन किसानों का कहना है कि इन बिलों से छोटे किसानों को नुकसान ही होगा. कई विपक्षी पार्टियां भी सड़कों पर उतरी हुई हैं. भारत बंद का ऐलान कर रखा है. किसानों के समर्थन में पंजाबी सितारों ने एक बार फिर अपनी आवाज बुलंद की है. आइए, देखते हैं किसने क्या कहा-

फेमस पंजाबी और बॉलीवुड सिंगर दिलजीत दोसांझ ने किसानों के पक्ष में पोस्ट किया, जिसमें लिखा,

’25 सितंबर. हम सभी किसान समुदाय के साथ खड़े हैं. पंजाब के सभी आयु वर्ग का हर व्यक्ति किसानों के साथ है. लोग पास हुए बिलों को सही कह रहे हैं, कम से कम किसानों से बात करने की कोशिश तो करें. जम्मू-कश्मीर में सरकारी भाषाओं से पंजाबी भाषा को हटा दिया गया है. ये सब लोगों के साथ क्या हो रहा है?’


View this post on Instagram

“ ਕਿਸਾਨ ਬਚਾਓ ਦੇਸ਼ ਬਚਾਓ “

A post shared by DILJIT DOSANJH (@diljitdosanjh) on

दिलजीत का ये ट्वीट वायरल हो रहा है. इसे पंजाबी स्टार एमी विर्क, गुरनाम भुल्लर समेत कई लोगों ने अपने सोशल मीडिया पर शेयर किया है. पहले भी दिलजीत ने किसानों के पक्ष में ट्वीट किया था.

बॉलीवुड एक्ट्रेस उर्मिला मातोंडकर भी किसानों के समर्थन में सामने आई हैं, उन्होंने ट्वीट किया-

जागो और उठो भारत,
आज 25 सितंबर है, अपने किसानों के साथ खड़े हों. निश्चित रूप से हम मीडिया सर्कस के अधीन नहीं है. हमें यह तय करना होगा कि हम किस तरह का देश बनने जा रहे हैं

कांग्रेस की नेता और पूर्व एक्ट्रेस नगमा ने कहा,

मैं किसानों के साथ खड़ी हूं, आज हमने तय किया है कि हम किसानों के साथ एकजुटता दिखाएंगे, जो हमारा पेट भरते हैं. अगर उनका साथ नहीं देंगे तो हमें खाने को भी तरस जाएंगे. देश का किसान अन्नदाता है…

डायरेक्टर हंसल मेहता ने ट्वीट किया,

मैं किसानों के साथ खड़ा हूं,

इनके अलावा, टीवी एक्ट्रेस सरगुन मेहता ने भी किसानों के हित में ट्वीट किया था. उन्होंने लिखा,

रेल रोको आंदोलन भी शुरू

पंजाब के किसानों ने इन बिलों के विरोध में गुरुवार से तीन दिनों के लिए ‘रेल रोको’ आंदोलन शुरू किया है. इसके चलते रेलवे ने 14 जोड़ी ट्रेनों को 26 सितंबर तक के लिए निलंबित कर दिया है.

कौन-से तीन विधेयकों का विरोध हो रहा है

  1. पहला विधेयक है आवश्यक वस्तु अधिनियम, 1955. इसमें संशोधन करके खाद्य पदार्थों की जमाखोरी पर लगा प्रतिबंध हटा दिया गया है. मतलब अब व्यापारी कितना भी अनाज, दालें, तिलहन वगैरह जमा करके रख सकते हैं.
  2. दूसरा विधेयक है, कृषि उत्पादन व्यापार और वाणिज्य विधेयक, 2020. इसका उद्देश्य कृषि उत्पाद विपणन समितियों यानी APMC मंडियों के बाहर भी कृषि से जुड़े उत्पाद बेचने और खरीदने की व्यवस्था तैयार करना है. यानी मोदी सरकार ने वो व्यवस्था खत्म कर दी है, जिसमें किसान अपनी उपज APMC मंडियों में लाइसेंसधारी खरीदारों को ही बेच सकते थे.
  3. तीसरा है मूल्य आश्वासन पर किसान (बंदोबस्ती और सुरक्षा) समझौता और कृषि सेवा विधेयक, 2020. यह कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग को कानूनी वैधता प्रदान करता है, ताकि बड़े बिजनेस वाले और कंपनियां कॉन्ट्रैक्ट पर जमीन लेकर खेती करवा सकें.

वीडियो: किसान बिल के समर्थन के बाद सांसद सनी देओल के लिए बोले लोग, ‘अपने गांवों में घुसने नहीं देंगे’

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

मोदी सरकार ने भ्रष्टाचार रोकने वाले इस क़ानून को जरूरी बनाने की बात से पलटी मार ली

और यह जानकारी ख़ुद सरकार ने दी है.

किसान कर्फ्यू से पहले किसानों ने कहां-कहां ट्रेन रोक दी है?

कई ट्रेनों को कैंसिल किया गया, कई के रूट बदले गए.

केंद्रीय मंत्री सुरेश अंगड़ी का कोविड-19 से निधन

दिल्ली के एम्स में उनका इलाज चल रहा था.

धोनी का वर्ल्ड कप जिताने वाला सिक्सर याद है! वो अब स्टेडियम में अमर होने वाला है

भारत में किसी खिलाड़ी को जो मुकाम हासिल नहीं हुआ, वो अब धोनी को मिलने वाला है.

अंतरिक्ष में भी लद्दाख जैसी हरकतें कर रहा है चीन

भारत के सैटेलाइट पर है ख़तरा!

चुनाव लड़ने के लिए गुप्तेश्वर पांडे ने दूसरी बार पुलिस सेवा से रिटायरमेंट ले ली है

2009 में भी गुप्तेश्वर पांडे ने वीआरएस लिया था, पर तब बीजेपी ने टिकट नहीं दिया था.

दिल्ली दंगे के लिए पुलिस ने अब इस ग्रुप को जिम्मेदार ठहराया है

चार्जशीट में दिल्ली पुलिस ने और क्या कहा है?

किस बात पर पंजाब में सनी देओल के 'सामाजिक बहिष्कार' की बात हो रही है?

कुछ लोग कह रहे हैं कि अपने गांवों में घुसने नहीं देंगे.

एक्ट्रेस के यौन शोषण के इल्ज़ाम पर अनुराग कश्यप का जवाब आया है

पायल घोष ने आरोप लगाया है.

चीन की इंटेलीजेंस को गोपनीय रिपोर्ट्स भेजने के आरोप में चीन की महिला सहित पत्रकार गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस ने कई सारे मोबाइल फोन, लैपटॉप समेत कई सेंसिटिव दस्तावेज भी बरामद किए हैं.