Submit your post

Follow Us

'डायमंड प्रिंसेस' जहाज पर फंसे भारतीयों को निकाल लाई सरकार

‘डायमंड प्रिंसेस’ जहाज में फंसे भारतीयों को निकाल लिया गया है. भारत सरकार ने उन्हें वापस लाने के लिए एयर इंडिया का विमान भेजा था. इस क्रूज पर कुल 138 भारतीय थे. 132 क्रू सदस्य और छह यात्री. जांच में कुल 16 भारतीय कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए. इन्फेक्टेड लोगों को वहीं छोड़ दिया गया है.

‘डायमंड प्रिंसेस’ पर संक्रमण फैला कैसे?

‘डायमंड प्रिंसेस’ एक लग्ज़री क्रूज है. ये जहाज दो हफ़्ते के एक सफ़र पर था. क्रू सदस्यों और यात्रियों को मिलाकर इस जहाज पर कुल 3,711 लोग थे. 20 जनवरी को जहाज ने जापान के योकोहामा पोर्ट से अपना सफर शुरू किया था. दो हफ़्ते समंदर में सफर करने के बाद इसे 4 फरवरी को वापस योकोहामा लौटना था. 25 जनवरी को जहाज पर सवार एक यात्री हॉन्ग-कॉन्ग में उतर गया. 1 फरवरी को हॉन्ग-कॉन्ग में हुई उसकी मेडिकल जांच में वो कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया.

3 फरवरी को ये ख़बर जहाज के कैप्टन तक पहुंची. जहाज को योकोहोमा बंदरगाह पर ही रोक दिया गया. जहाज पर सवार किसी इंसान को नीचे उतरने की इजाजत नहीं दी गई. 4 फरवरी को जहाज के 10 लोग कोरोना से संक्रमित पाए गए. संक्रमण तेजी से फैलता गया. अब तक इस जहाज पर कम-से-कम 705 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जा चुके हैं. चार लोगों की मौत भी हो चुकी है.

किन भारतीयों को निकाला गया?

पिछले दिनों कई लोगों को जहाज से उतरकर जाने की इजाजत मिली. ये लोग जांच में स्वस्थ पाए गए थे. भारत सरकार ने भी जहाज पर फंसे भारतीयों को वापस लाने का फैसला किया. जापान के भारतीय दूतावास ने 25 फरवरी को एक ट्वीट कर इसकी जानकारी दी. इसमें लिखा था-

‘डायमंड प्रिंसेस’ पर सवार भारतीय नागरिकों की स्वदेश वापसी के लिए एक चार्टर्ड विमान का इंतजाम किया जा रहा है. उन्हें वापस लाने की शर्त ये होगी कि वो लौटने को राज़ी हों, COVID-19 से संक्रमित न पाए गए हों और जांच के बाद मेडिकल टीम ने उन्हें जाने की हरी झंडी दे दी हो.

इसके बाद एक और ट्वीट में इंडियन मिशन ने लिखा-

सभी भारतीय नागरिकों की PCR जांच हुई थी. इसके नतीजों में दो और भारतीय COVID 19 से संक्रमित पाए गए हैं. इन्हें मिलाकर डायमंड प्रिंसेस पर सवार संक्रमित भारतीयों की संख्या 16 हो गई है. बाकी सभी लोग जो कि रेस्क्यू किए जाने की शर्तें पूरी करते हैं और भारत लौटने को राज़ी हैं, 26 फरवरी को उन्हें वापस लाने का इंतजाम किया है भारत सरकार ने.

 

किस-किस देश ने अपने लोगों को निकाला?

सबसे पहले तकरीबन 300 अमेरिकी नागरिक उतरे जहाज से. भारत और अमेरिका के अलावा ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, हॉन्ग-कॉन्ग और इटली की सरकारों ने भी जहाज पर सवार अपने-अपने लोगों को निकाल लिया है.


जानिए कोरोना वायरस को एयरपोर्ट और लैब में कैसे पहचानते हैं?

कोरोना वायरस पर डॉ. हर्षवर्धन ने बताई क्या है सरकार की तैयारी?

चीन में फैले कोरोना वायरस की वजह से दवा और मोबाइल के दाम बढ़ने वाले हैं

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

कोरोना: DRDO ऐसा वेंटिलेटर बना रहा है जिससे कई मरीज़ों का एक साथ इलाज हो सकेगा

DRDO के साथ मिले हैं टाटा और महिंद्रा.

मज़दूरों को पैदल घर जाता देख दो एयरलाइंस ने कहा- जहाज़ खड़े हैं

सरकार से अनुमति मांगी है ताकि मज़दूरों को उनके घर के आसपास छोड़ा जा सके.

UK के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन भी कोरोना वायरस के लपेटे में आ गए हैं

UK में कोरोना के 11 हज़ार से ज्यादा मामले आ चुके हैं.

कोरोना से तो निपट लेंगे, लेकिन जो बड़ी आफत आई है, वो तो पूरा साल ले जाएगी!

मूडीज़ ने बताया है कि पूरे साल कितनी ग्रोथ रेट रह सकती है.

कोरोना वायरस लॉकडाउन के बीच RBI गवर्नर ने राहत की ख़बर दी है

क्या होगा आने वाले दिनों में, इसकी जानकारी दी.

नीतीश कुमार ने कोरोना का 'फेसबुक पोस्ट डिलीट' वाला इलाज खोजा

खबर तो ये तक कि कोरोना के लक्षण वाले 83 डॉक्टर अब भी इलाज कर रहे!

पूरा देश लॉकडाउन है और हरियाणा के इस कॉलेज में लेक्चर पर लेक्चर हो रहे हैं

कॉलेज वाले कह रहे सरकार ने कोई ऑर्डर नहीं दिया!

सरकार ने दिया कोरोना पर राहत पैकेज, 80 करोड़ को मुफ्त अनाज और बहुत कुछ

वित्त मंत्री ने कहा, हर व्यक्ति के हाथ में अन्न और धन हमारी पहली प्राथमिकता.

कोरोना के बीच सरकार ने गठिया वाली दवा के एक्सपोर्ट पर रोक क्यों लगा दी?

इस दवा का कोरोना के इलाज में क्या रोल है?

रात को लॉकडाउन के कायदे बताने के बाद सुबह हुजूम के बीच कहां निकल गए सीएम योगी?

सीएम ने लोगों से कहा था, 'घर पर ही रहें, बाहर न निकलें.'