Submit your post

Follow Us

J&K के पूर्व उप-मुख्यमंत्री निर्मल सिंह जिस बंगले में शिफ्ट हुए, वो विवादों में क्यों है?

जम्मू-कश्मीर के पूर्व उप-मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता निर्मल सिंह 23 जुलाई को अपने परिवार समेत नए बंगले में शिफ्ट हो गए. दिक्कत ये है कि वो बंगला विवादित है. भारतीय सेना इस बंगले के ख़िलाफ़ पहले ही लिखित अनुरोध कर चुकी है. निर्मल सिंह के इस बंगले के ख़िलाफ़ जम्मू-कश्मीर हाई कोर्ट में अवमानना से जुड़ी याचिका पर सुनवाई अभी बाक़ी है.

असल में दिक्कत ये है कि वो बंगला सेना के गोला-बारूद डिपो से महज़ 580 गज दूर है. जबकि 2015 में कोर्ट का आदेश आ चुका है कि सेना से जुड़े किसी भी ठिकाने से 1000 गज की दूरी के अंदर निर्माण कार्य नहीं हो सकते. अगर हो रहे हों, तो उन पर तत्काल रोक लगाई जाए.

निर्मल सिंह के इस बंगले में शिफ्ट होने को जम्मू-कश्मीर हाई कोर्ट के 2018 में आए आदेश के भी ख़िलाफ़ बताया जा रहा है. इस बंगले के ख़िलाफ़ दायर याचिका पर 7 मई, 2018 को जम्मू-कश्मीर हाई कोर्ट का आदेश आ चुका था. तब सिविल और पुलिस अधिकारियों ने जम्मू-कश्मीर विधानसभा की अध्यक्ष ममता सिंह और निर्मल सिंह के बंगले के निर्माण को चुनौती दी थी.

निर्मल सिंह के बंगले के ठीक बगल में भारत सरकार का ये आदेश लिखा बोर्ड लगा हुआ है.
निर्मल सिंह के बंगले के ठीक बगल में भारत सरकार का ये आदेश लिखा बोर्ड लगा हुआ है.

# एक एडवोकेट के ख़िलाफ़ शिकायत की थी निर्मल सिंह ने

इसी घर के मामले में निर्मल सिंह ने जम्मू-कश्मीर के ही एक वकील के ख़िलाफ़ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी. एडवोकेट शेख शकील पर बिना इजाजत उनके नगरोटा के घर में घुसने, वहां की तस्वीरें लेने और वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल करने का आरोप लगाया गया है. पुलिस ने शेख शकील को सात सवालों का लिखित जवाब पेश करने का निर्देश दिया है.

जम्मू-कश्मीर में सरकारी जमीनों पर कब्जे को लेकर हाई कोर्ट में दायर केस में एडवोकेट शेख शकील भी याचिकाकर्ताओं की ओर से केस लड़ रहे हैं. केस की सुनवाई के दौरान ही उन्होंने निर्मल सिंह द्वारा जम्मू के नगरोटा में अवैध निर्माण का मुद्दा उठाया था. एडवोकेट शेख ने 15 जून को फेसबुक पर निर्मल सिंह के बंगले की कुछ तस्वीरें अपलोड करते हुए लिखा था कि यह निर्माण अवैध है और भारतीय सेना भी इसका विरोध कर चुकी है. इस निर्माण से सटे सैन्य ठिकानों को खतरा है.

फेसबुक पोस्ट में उन्होंने लिखा कि यह निर्माण हाईकोर्ट के 7 मई, 2018 के निर्देशों का उल्लंघन है. इस पर निर्मल सिंह ने नगरोटा पुलिस स्टेशन में एडवोकेट शेख शकील के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई. उन्होंने कहा कि एडवोकेट शेख बिना किसी सुबूत के उन पर झूठा आरोप लगा रहे हैं. उन्होंने बिना इजाजत उनकी संपत्ति में घुसकर, वहां की तस्वीरें लेकर सोशल मीडिया पर अपलोड करके उनके निजी जीवन में हस्तक्षेप किया है. निर्मल सिंह ने एडवोकेट शेख शकील के खिलाफ एफआइआर दर्ज करने की मांग की थी.


ये वीडियो भी देखें:

मुंबई का यह क्रिकेटर IPL में सलेक्शन न होने से डिप्रेशन में था, फांसी लगाकर जान दे दी

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

गुजरात सरकार ने पीएम मोदी की फसल बीमा योजना को सस्पेंड क्यों कर दिया?

मोदी सरकार इस योजना की खूब बातें करती थीं.

कांग्रेस प्रवक्ता राजीव त्यागी की हार्ट अटैक से मौत

राजीव त्यागी टीवी का जाना माना चेहरा बन चुके थे.

बेंगलुरु में फेसबुक पोस्ट को लेकर हिंसा, कांग्रेस विधायक का घर और थाने में गाड़ियां फूंकी

तीन लोगों की मौत, 60 से ज्यादा पुलिसवाले घायल.

मशहूर शायर राहत इंदौरी नहीं रहे, कोरोना पॉज़िटिव थे

अलविदा!

आ गयी कोरोना की पहली वैक्सीन, इस लड़की ने लगवाया पहला डोज़

कैसे बनाई गयी है?

सुप्रीम कोर्ट में अपनी नई याचिका में रिया ने आरुषि मर्डर केस का जिक्र क्यों किया?

कहा- मीडिया में इस मुद्दे को लगातार सनसनीखेज़ बनाकर दिखाया जा रहा है.

दिल्ली दंगा : "अरेस्ट से हिंदुओं में नाराज़गी" वाले आदेश पर कोर्ट ने दिल्ली पुलिस को क्लीन चिट दी

मीडिया पर क्या टिप्पणी की कोर्ट ने?

रूस की जिस कोरोना वैक्सीन का हल्ला मचा हुआ है, उसमें एक बहुत चिंता की बात है

पहले भी बवाल हुआ था, और अब फिर से हुआ है.

बादशाह ने यूट्यूब पर व्यूज चोरी कर अपना गाना हिट बनाया!

पुलिस के हत्थे चढ़े, 10 घंटे हुई पूछताछ.

दिल्ली दंगा : मरा है या नहीं, ये चेक करने के लिए ज़िंदा शाहबाज़ पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी गयी!

कोर्ट में सुनवाई में दिल्ली पुलिस ने क्या बताया