Submit your post

Follow Us

अधिकारी ने विदेश से आए कुत्ते के स्वागत की फोटो ट्वीट की, लोगों ने रगेदा

लॉकडाउन के बीच भारत सरकार विदेश में फंसे भारतीयों को वापस ला रही है. 7 मई से इसको लेकर अभियान शुरू किया गया. कई देशों से लोग अब भारत आ रहे हैं. ऐसे में उज़्बेकिस्तान से भी लोग वापस लौटे हैं. नई दिल्ली के डीएम के ट्विटर पेज से इसको लेकर एक ट्वीट किया गया. कहा-

वंदे भारत मिशन के तहत उज्बेकिस्तान से सबसे युवा पैसेंजर का स्वागत किया गया. एक साल का यॉर्कशायर टेरियर प्रजाति का पपी ओरियो का स्वागत नई दिल्ली जिला प्रशासन की ओर से पीयूष रोहनकर ने किया.

ट्वीट में दिल्ली के लेफ्टिनेंट गवर्नर, दिल्ली मुख्यमंत्री कार्यालय, प्रधानमंत्री कार्यालय आदि को भी टैग किया गया. ट्वीट में देख सकते हैं कि पपी का स्वागत  बिस्कुट और चिप्स आदि के साथ किया गया. यह पेज वेरीफाईड नहीं है लेकिन पेज से किए गए पोस्ट्स को देखकर लगता है कि आधिकारिक पेज है. पेज पर भी कहा गया है कि यह नई दिल्ली जिला प्रशासन और जिला निर्वाचन अधिकारी का आधिकारिक अकाउंट है.

Delhi Dm Deleted Tweet
दिल्ली प्रशासन ने बाद में उस ट्वीट को डिलीट कर दिया. (फोटो: Twitter | DMNewDelhi)

लोगों ने जम कर लताड़ा

इसे पोस्ट किए जाने के बाद ट्विटर पर लोगों ने नई दिल्ली प्रशासन को खूब खरी-खोटी सुनाई. रगेद दिया एकदम. लोगों का कहना था कि सरकार प्रवासी मजदूरों के लिए कुछ नहीं कर रही है. मजदूरों को पैदल सैकड़ों किलोमीटर चलकर घर जाना पड़ रहा है. ट्रैक पर लोगों की मौत हो रही है. मजदूर बेरोजगार हैं, फिर भी उन्हें घर पहुंचाने के लिए सरकार पैसे ले रही है. और दूसरी ओर विदेश से भारत लाए पपी का फोटोशूट चल रहा है.

कुछ लोगों ने कहा कि यह ट्वीट सरकार की प्राथमिकताओं को दिखाता है. यकीन नहीं होता कि प्रवासी मजदूरों का ध्यान नहीं रख पा रही है और इधर फोटो सेशन चल रहा है. यह शर्मनाक है. लोगों के तीखे कमेंट के साथ ही ट्वीट वायरल होने लगा. बाद में ट्वीट को डिलीट कर दिया गया.


विडियो- मध्य प्रदेश में आम के ट्रक में छिपकर आ रहे मज़दूरों की ट्रक पलटने से मौत

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

12 मई से चलने वाली ट्रेनों के स्टॉपेज, टाइम टेबल और नियम क़ानून की जानकारी यहां देखिए

किस-किस दिन चलेंगी ट्रेनें?

कोरोना: सुपर स्प्रेडर क्या होते हैं और ये इतने खतरनाक क्यों हैं कि अहमदाबाद में सब कुछ बंद करना पड़ा

अहमदाबाद में 14 हजार सुपर स्प्रेडर होने की आशंका जताई जा रही है.

प्रवासी मजदूरों को लेकर यूपी और राजस्थान की पुलिस में पटका-पटकी हो गई है!

डीएम और एसपी मौके पर पहुंचे तब मामला शांत हुआ.

मंत्री मुख़्तार अब्बास नकवी बोले-तबलीगी जमात की वजह से लॉकडाउन बढ़ाना पड़ा

ये भी कहा-तबलीग़ियों का गुनाह हिंदुस्तान के मुसलमानों का का गुनाह नहीं है.

कोरोना का नियम बदला, अब बिना टेस्ट ही घर भेजे जाएंगे कम बीमार मरीज

जानिए क्या है सरकार की नई गाइडलाइंस.

दवा बेची, समाजसेवा की, फिर पता चला ख़ुद ही कोरोना पॉज़िटिव हैं, अब जेल हो गई

बनारस के दवा व्यापारी ने कई लोगों को बांटा कोरोना.

क्या सोशल डिस्टेंसिंग से चूकने की इतनी बुरी सज़ा देगी पुलिस?

किसी एक पुलिसवाले का ऐसा करना बाकियों की मेहनत पर पानी फेर देता है.

उदयपुर में एक ही दिन में कोरोना वायरस के 58 केस सामने आए

राजस्थान में मरीज़ों की संख्या तीन हज़ार से ऊपर पहुंच चुकी है.

सूरत: BJP कार्यकर्ता पर आरोप, घर पहुंचाने के नाम पर मजदूरों से पैसे लिए, टिकट मांगने पर पीटा!

एक अन्य वीडियो में BJP पार्षद के भाई टिकट के ज्यादा पैसे लेते दिखे.

जिस फ़ैक्टरी से निकली गैस ने तबाही मचाई, उसे क्लीयरेंस ही नहीं मिला था!

आबादी के बीच बना रहे थे स्टायरीन प्रोडक्ट.