Submit your post

Follow Us

द्रविड़ और पुजारा चाहे दो क्रिकेटर हों मगर एक अद्भुत संयोग उन्हें एक बना रहा है

टीम इंडिया से जब राहुल द्रविड़ अलविदा ले रहे थे, चेतेश्वर पुजारा अपनी जगह बना चुके थे. कारण- पुजारा में लोगों ने द्रविड़ को देखा. वही अनुशासन, धैर्य और क्लास. घंटों क्रीज पर डटकर बॉलिंग अटैक का समना करने के लिए पुजारा में वो हर स्किल थी जो उन्हें टीम इंडिया का अगला राहुल द्रविड़ बना रही थी.

पुजारा ने जिस मैदान पर सीरीज के पहले ही मैच में पहले ही दिन 123 रनों की पारी खेली, उस मैदान पर राहुल द्रविड़ 2003 में इंडिया का टेस्ट मैच जिता चुके हैं. पहली पारी में 233 और दूसरी में 76 रनों की पारियों के साथ द्रविड़ ने कंगारुओं को उन्हीं के अंदाज में जवाब दिया था. वो एक टेस्ट इंडिया के हमेशा खास रहेगा क्योंकि इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया के घर में बेहद कम मौकों पर जीत हासिल की है. यहां पुजारा भी एक बार फिर वही करते दिख रहे हैं जो द्रविड़ ने किया है.

Kaif

 

मगर इससे भी खास बात ये कि पुजारा ने यहां 5000 रनों का निशान पार किया और इसके लिए 108 टेस्ट पारियां लीं. क्या आपको पता है राहुल द्रविड़ ने भी इतनी ही पारियों में ये निशान पार किया था. यही नहीं, इसको महज एक अद्भुत संयोग मानें या नहीं कि राहुल द्रविड़ और चेतेश्वर पुजारा ने अपने 3000 और 4000 टेस्ट रन पूरे करने में भी बराबर पारियां ही लीं हैं. दोनों ने 3000 टेस्ट रन 67 पारियों और 4000 रन 84 पारियों में पूरे किए हैं. बस पुजारा को इस बात के लिए घेरा जाता रहा है कि वो विदेशी दौरों पर चल नहीं पाते हैं. ये सच भी है. मगर इस साल विदेशी दौरे पर ये पुजारा का दूसरा शतक है. बीते इंग्लैंड दौरे पर पुजारा ने साउथैंप्टन में शतक लगाया था.

पुजारा ने एडिलेड टेस्ट के पहले दिन 123 रनों की पारी खेलकर इंडिया को इस मैच में फाइट मारने का मौका दिया है. 40 डिग्री तापमान में एक जुझारू पारी खेली जिसे वो खुद अपने बेस्ट 5 पारियों में गिन रहे हैं. उम्मीद है पुजारा आगे भी अपने इस रिकॉर्ड को द्रविड़ के समानांतर चलाते रहेंगे ताकि मुश्किल परिस्थितियों में इंडियन बैटिंग को मजबूती मिलती रहे.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

दो महीने बाद शुरू हुई हवाई यात्रा, जानिए कैसा रहा पहले दिन का हाल?

दिल्ली में पहले दिन 80 से ज्यादा उड़ानें कैंसिल क्यों करनी पड़ी?

बलबीर सिंह सीनियर: तीन बार के हॉकी गोल्ड मेडलिस्ट, जिन्होंने 1948 में इंग्लैंड को घुटनों पर ला दिया था

हॉकी लेजेंड और भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और कोच बलबीर सिंह सीनियर का 96 साल की उम्र में निधन.

दूसरे राज्य इन शर्तों पर यूपी के मजदूरों को अपने यहां काम करने के लिए ले जा सकते हैं

प्रवासी मजदूरों को लेकर सीएम योगी ने बड़ा फैसला किया है.

ऑनलाइन क्लास में Noun समझाने के चक्कर में पाकिस्तान की तारीफ, टीचर सस्पेंड

टीचर शादाब खनम ने माफी भी मांगी, लेकिन पैरेंट्स ने शिकायत कर दी.

लद्दाख में तकरार बढ़ी, तीन जगह चीनी सेना ने मोर्चा लगाया, तंबू गाड़े

दोनों ओर के सैनिकों ने मोर्चा संभाला.

पाताल लोक वेब सीरीज में फोटो से छेड़छाड़ पर BJP विधायक ने की अनुष्का से माफी की मांग

प्रोड्यूसर अनुष्का शर्मा पर रासुका के तहत कार्रवाई की मांग की.

कानपुर स्टेशन पर ट्रेन रुकी और खाने को लेकर आपस में भिड़ गए प्रवासी मज़दूर

दो कोचों के मज़दूर आपस में झगड़ पड़े. कुछ को खाना मिला, बाकी जमीन पर गिर गया.

दुनिया का सबसे तेज़ इंटरनेट, एक सेकेंड में 1000 एचडी मूवी डाउनलोड का दावा

ऑस्ट्रेलिया की तीन यूनिवर्सिटी के टेक रिसर्चर्स ने मिलकर ये कनेक्शन तैयार किया है.

केंद्र से अक्सर लड़ने वाली ममता बनर्जी की पीएम मोदी ने किस बात पर तारीफ की?

पश्चिम बंगाल दौरे पर पीएम मोदी ने 'अमपन' को लेकर एक हज़ार करोड़ रुपए की मदद का ऐलान किया.

रिज़र्व बैंक ने एक बार फिर रेपो रेट घटाया, EMI से तीन महीने और छुटकारा

मार्च और अप्रैल महीने में रिज़र्व बैंक ने रेपो रेट और रिवर्स रेपो रेट घटाया था.