Submit your post

Follow Us

द्रविड़ और पुजारा चाहे दो क्रिकेटर हों मगर एक अद्भुत संयोग उन्हें एक बना रहा है

775
शेयर्स

टीम इंडिया से जब राहुल द्रविड़ अलविदा ले रहे थे, चेतेश्वर पुजारा अपनी जगह बना चुके थे. कारण- पुजारा में लोगों ने द्रविड़ को देखा. वही अनुशासन, धैर्य और क्लास. घंटों क्रीज पर डटकर बॉलिंग अटैक का समना करने के लिए पुजारा में वो हर स्किल थी जो उन्हें टीम इंडिया का अगला राहुल द्रविड़ बना रही थी.

पुजारा ने जिस मैदान पर सीरीज के पहले ही मैच में पहले ही दिन 123 रनों की पारी खेली, उस मैदान पर राहुल द्रविड़ 2003 में इंडिया का टेस्ट मैच जिता चुके हैं. पहली पारी में 233 और दूसरी में 76 रनों की पारियों के साथ द्रविड़ ने कंगारुओं को उन्हीं के अंदाज में जवाब दिया था. वो एक टेस्ट इंडिया के हमेशा खास रहेगा क्योंकि इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया के घर में बेहद कम मौकों पर जीत हासिल की है. यहां पुजारा भी एक बार फिर वही करते दिख रहे हैं जो द्रविड़ ने किया है.

Kaif

 

मगर इससे भी खास बात ये कि पुजारा ने यहां 5000 रनों का निशान पार किया और इसके लिए 108 टेस्ट पारियां लीं. क्या आपको पता है राहुल द्रविड़ ने भी इतनी ही पारियों में ये निशान पार किया था. यही नहीं, इसको महज एक अद्भुत संयोग मानें या नहीं कि राहुल द्रविड़ और चेतेश्वर पुजारा ने अपने 3000 और 4000 टेस्ट रन पूरे करने में भी बराबर पारियां ही लीं हैं. दोनों ने 3000 टेस्ट रन 67 पारियों और 4000 रन 84 पारियों में पूरे किए हैं. बस पुजारा को इस बात के लिए घेरा जाता रहा है कि वो विदेशी दौरों पर चल नहीं पाते हैं. ये सच भी है. मगर इस साल विदेशी दौरे पर ये पुजारा का दूसरा शतक है. बीते इंग्लैंड दौरे पर पुजारा ने साउथैंप्टन में शतक लगाया था.

पुजारा ने एडिलेड टेस्ट के पहले दिन 123 रनों की पारी खेलकर इंडिया को इस मैच में फाइट मारने का मौका दिया है. 40 डिग्री तापमान में एक जुझारू पारी खेली जिसे वो खुद अपने बेस्ट 5 पारियों में गिन रहे हैं. उम्मीद है पुजारा आगे भी अपने इस रिकॉर्ड को द्रविड़ के समानांतर चलाते रहेंगे ताकि मुश्किल परिस्थितियों में इंडियन बैटिंग को मजबूती मिलती रहे.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

चंद्रमा पर पहुंचने वाला है चंद्रयान-2, कैसे करेगा काम?

चंद्रयान के एक-एक दिन का हिसाब दे दिया है

विंग कमांडर अभिनंदन को पकड़ने वाला पाकिस्तानी सैनिक मारा गया!

पाकिस्तानी आर्मी की तस्वीर में अभिनंदन को पकड़े हुए दिखा था अहमद खान.

नकली दूध बेचा, पुलिस ने आतंकियों वाला NSA लगा दिया

सरकार ने तो पहले ही कह दिया था.

कांग्रेस और सपा छोड़कर भाजपा में आए नेताओं ने मोदी के बारे में क्या कहा?

वो भी कल लखनऊ में...

कश्मीर में बैन के बाद भी किसकी मेहरबानी से गिलानी इस्तेमाल कर रहे थे फोन-इंटरनेट?

बैन के चार दिन बाद तक गिलानी के पास इंटरनेट और फोन था. प्रशासन को इसकी भनक भी नहीं थी.

पीएम मोदी ने छठवीं बार लाल किले पर फहराया तिरंगा, 92 मिनट के भाषण में नया क्या था?

पीएम मोदी ने अपने कार्यकाल की उपलब्धियां गिनाई.

बीफ़-पोर्क के नाम पर ज़ोमैटो कर्मचारियों को भड़काने वाले लोकल भाजपा नेता निकले!

और एक नहीं, कई हैं ऐसे. देखिए तो...

यूपी के एक और अस्पताल में 32 बच्चों की मौत, डॉक्टरों को कारण का पता नहीं

किसी ने कहा था, "अगस्त में तो बच्चे मरते ही हैं"

भगवान राम के इतने वंशज निकल आए हैं कि आप भी माथा पकड़ लेंगे

अभी राम पर खानदानी बहस हो रही है. खुद ही देखिए...

उन्नाव मामले में भाजपा विधायक कुलदीप सेंगर अब लंबा फंस गए हैं

सीबीआई ने केस में रोचक खुलासे किए हैं