Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

क्या खाकर अमित शाह ने एक साल में 20 किलो वजन कम कर लिया?

2.18 K
शेयर्स

गुजरात के दो लड़के देश में धूम मचाए हुए हैं. एक हैं हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और दूसरे हैं बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह. दोनों के ही बारे में तरह-तरह के किस्से-कहानियां मार्केट में चलते रहते हैं. वो चार-पांच घंटे सोते हैं. लगातार काम करते हैं. छुट्टी नहीं लेते हैं… वगैरह, वगैरह… ये सब कितना सच्चा है और कितना झूठा, ये तो नहीं पता. लेकिन इतनी बड़ी पार्टी और सरकार चलाने के लिए जमकर काम तो करना ही पड़ेगा. और ये करने के लिए जरूरी है अच्छी सेहत. अब पीएम नरेंद्र मोदी पर बहुत बात हुई कि वो योग करते हैं (उनकी तस्वीरों पर तो मीम तक बने हैं) और खाने में गुजराती खिचड़ी पसंद है. मगर फिलहाल ट्रेंड में हैं अमित शाह. हर तरफ चर्चे हैं कि उन्होंने पिछले एक साल के अंदर 20 किलो वजन कम कर लिया. वो भी बिना किसी सर्जरी के. एकदम देसी उपायों से. आपको भी इन उपायों के बारे में जानना चाहिए-

नहीं, नहीं...क्रिकेट नहीं खेल रहे हैं.
नहीं, नहीं… क्रिकेट खेलकर नहीं घटाया है.

1. पहला काम है चलना-फिरना. रोजाना उठकर शाह मॉर्निंग वॉक पर जाते हैं. जो लोग जाते हैं, वो इसका फायदा समझ जाएंगे. और जो नहीं जाते हैं, जाकर देखें. कोई नुकसान नहीं होगा. गारंटी है.

2. ब्रेकफास्ट के रोल के बारे में अकसर डायटीशियन बताते रहते हैं. आपने भले ना सुना हो. पर शाह ने सुन लिया है. वो चांपकर ब्रेकफास्ट करते हैं. और पूरी कोशिश रहती है कि ये स्किप ना हो.

3. शक्कर उर्फ चीनी. इसको तो समझिए ना ही बोल दिए हैं शाह. मतलब चीनी को कांग्रेस समझते हैं अमित शाह.

4. डिनर की बात करें तो धरती-पाताल एक हो जाए, शाह 7.30 बजे से पहले ही डिनर कर लेते हैं. उनका मानना है कि देर रात खाना खाने से वजन बढ़ता है. बताया जाता है कि जब वो कहीं इलेक्शन कैंपेन के लिए गए होते हैं, तो खाना गाड़ी में लेकर ही चलते हैं. और शाम 7.30 से पहले उसे निपटा कर ही प्रचार के लिए जाते हैं. 

5. आखिर में सबसे जरूरी बात. द प्रिंट की रिपोर्ट के मुताबिक शाह रोजाना सुबह पतंजलि का आंवला जूस पीते हैं. और इससे उन्हें कस के फायदा हुआ है. आंवला तो वैसे भी पेट के लिए फायदेमंद होता है.

6. बाबा रामदेव की पारखी नजरों ने इस बदलाव को 6 महीने पहले ही पकड़ लिया था और कैश भी करा लिया था. 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के दिन ही बाबा ने दुनिया को बता दिया था कि अमित शाह का वजन काफी घट गया है. रामदेव ने कहा था- उनके बताए कई योग क्रियाओं से शाह की काया बदल रही है. विश्वास न हो तो ये देखो-

खैर, अमित शाह का ये बदलाव इसलिए भी जरूरी था क्योंकि वो कार्यकर्ताओं को अकसर सभाओं और मीटिंग्स में स्वस्थ रहने की अपील करते हैं. वो कहावत तो सुनी ही होगी- चैरिटी बिगिन्स ऐट होम. माने पहले खुद पहल करो, फिर दूसरों को ज्ञान दो. पक्का इस कहावत को अमित शाह ने सुना होगा. तभी तो वो पहले खुद को ही फिट करने में लग गए. और इस फिटनेस का असर उनकी पार्टी के काम पर दिखता है.


ये भी पढ़ें-

योगी आदित्यनाथ गाड़ी के किन नंबरों पर जान छिड़कते हैं?

क्विज: अरविंद केजरीवाल के बारे में कितना जानते हैं आप?

भारत की सबसे बड़ी राजनीतिक हत्या पर बनने जा रही है फिल्म

लालू यादव ने की सीबीआई जज को ‘घूस’ की पेशकश!

PM मोदी नहीं, त्रिपुरा में BJP को बस ये आदमी जिता सकता है

लल्लनटॉप वीडियो देखें-

लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
BJP president Amit shah has lost 20 kilogram weight in a year and these are the tricks behind it

टॉप खबर

बुलंदशहर: एडीजी इंटेलिजेंस की रिपोर्ट में पुलिस की लापरवाही सामने आई

गुरुवार को ये रिपोर्ट सौंप दी गई.

बुलंदशहर: खेत में जिस गाय के अवशेष मिले, वो कब काटी गई?

योगेश राज ने FIR में लिखवाया कि उसने कटते देखा, लेकिन ये सच नहीं माना जा रहा है...

बार-बार बयान बदल रहा है बुलंदशहर का मुख्य आरोपी योगेश राज

योगेश राज सच बोल रहा है या उसके घरवाले?

फ़ेक न्यूज़ फैक्ट्री सुरेश चव्हाणके के खिलाफ एक्शन लेने में क्यों कांपता है सिस्टम?

बुलंदशहर मामले में झूठी खबर फैलाने वाले सुरेश चव्हाणके का फ़ेक न्यूज से पुराना रिश्ता है.

हत्यारी भीड़ के हाथों मारे गए SHO सुबोध के बेटे की बात सुनने के लिए हिम्मत चाहिए

हर मां बाप की तरह सुबोध कुमार सिंह का भी सपना था.

बुलंदशहर में SHO सुबोध कुमार सिंह के मारे जाने की पूरी कहानी

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में भीड़ ने कैसे एक दरोगा को मार डाला...

750 किलो प्याज की कमाई किसान ने पीएम को भेजी, ये गर्व की नहीं शर्म की बात है

यही किसान 2010 में ओबामा के सामने खेती की मिसाल देने के लिए पेश किया गया था.

खराब फैक्स से आगे की कहानी: राज्यपाल ने बताया, कैसे BJP की मनमानी नहीं होने दी

राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने जो कहा, उससे पता चला कि कश्मीर में असल में क्या होने वाला था...

मोहम्मद अज़ीज़ नहीं रहे, करोड़ों लोगों को उनके जाने से अफसोस होगा

उन्होंने इतने गाने गाए थे जितने आज के सारे गायकों ने मिलकर नहीं गाए होंगे.

अयोध्या में राम की जो सबसे ऊंची मूर्ति बनने वाली है उसका ये नमूना फाइनल हुआ है

वर्ल्ड की इस "सबसे ऊंची स्टेच्यू" की वो बातें जो आप जानना चाहेंगे.