Submit your post

Follow Us

BBL 10: सिडनी सिक्सर्स बनी चैम्पियन, इस तरह से जीत लिया फाइनल

पर्थ स्कॉरचर्स को BBL 10 के फाइनल में हराकर सिडनी सिक्सर्स की टीम ने इतिहास रच दिया है. सिडनी सिक्सर्स ने शानदार तरीके से 28 रनों से जीत के साथ BBL 10 के फाइनल पर अपना कब्ज़ा जमा लिया है.

2011-12, 2019-20 के बाद लगातार दूसरे साल सिडनी सिक्सर्स ने BBL की ट्रॉफी को अपने पास बरकरार रखा है.

इस जीत में सिडनी सिक्सर्स के सबसे बड़े स्टार रहे जेम्स विंस. जेम्स विंस ने बल्ले से 60 गेंदों में 95 रनों की बेहतरीन पारी खेली और अपनी टीम को 188 रनों का बड़ा स्कोर दे दिया.

इस मुकाबले में पर्थ स्कॉरचर्स के कप्तान एश्टन टर्नर ने टॉस तो जीता लेकिन फैसला गलत कर लिया. उन्होंने पहले फील्डिंग चुनी और सिडनी के बल्लेबाज़ों ने बोर्ड पर 188 रन लगा दिए.

विंस के अलावा बाकी बल्लेबाज़ खास बड़ी पारी नहीं खेल सके. लेकिन विंस की 95 रनों की पारी अकेले इतनी बड़ी थी कि फाइनल में टीम ने इतना बड़ा स्कोर खड़ा कर दिया.

एंड्र्यू टाय और झाय रिचर्डसन ने स्कॉरचर्स के लिए दो-दो विकेट ज़रूर चटकाए. लेकिन झाय रिचर्डसन और जेसन बेहरनडॉर्फ का महंगा साबित होना स्कॉरचर्स को भारी पड़ गया.

गेंदबाज़ी में स्कॉरचर्स की नहीं चली. लेकिन अब बल्लेबाज़ों पर टीम का दारोमदार था.

पर्थ की टीम को फाइनल में पहुंचाने वाले हीरो लियाम लिविंग्स्टन और कैमरन बैनक्रॉफ्ट मैदान पर इस टार्गेट का पीछा करने उतरे. दोनों ने टीम को वैसी ही शुरुआत दी, जैसी फाइनल में किसी भी टीम को चाहिए होती है.

पहली 28 गेंदों में टीम का स्कोर 45 रन हो गया. लेकिन इसके बाद सिक्सर्स की मैच में वापसी हुई. फाइनल में विंस का बल्ला चलना था तो जैक्सन बर्ड की गेंद. बर्ड ने पांचवें ओवर में बैनक्रॉफ्ट को आउट करवा दिया.

इसके बाद मैदान पर आए कोलिन मुनरो तो आए गए रहे. वो सिर्फ दो रन बनाकर एबॉट का शिकार बन गए.

पहले दो विकेट गिरने के बाद भी लिविंग्स्टन क्रीज़ पर डटे रहे. स्कोर 95 तक पहुंचा था कि 11वें ओवर में बर्ड ने लियाम लिविंग्स्टन का विकेट लेकर स्कॉरचर्स को बड़ी मुसीबत में डाल दिया. बर्ड ने अपने तीन ओवर के स्पेल में सिर्फ 14 रन दिए और सिडनी की टीम को प्रेशर में डाले रखा.

लिविंग्स्टन के आउट होने के बाद तो बेन ड्वारशिस ने स्कॉरचर्स के किसी भी बल्लेबाज़ को जमने नहीं दिया. उन्होंने एक के बाद एक इंग्लिस, मार्श और हार्डी के विकेट लेकर मैच का नतीजा तय कर दिया.

स्कॉरचर्स की पूरी टीम 20 ओवर में 161 रन ही बना सकी और आखिर में सिडनी की टीम ने खिताब जीतकर इतिहास रच दिया.

बर्ड, ड्वारशिस के अलावा डेन क्रिस्चयन और सीन एबट ने भी 2-2 विकेट निकाले.

मोएसिज़ हेनरिकेज़ ने पूरे टूर्नामेंट में टीम की बेहतरीन कप्तानी की और आखिर में ट्रॉफी उठाकर इस जीत का जश्न मनाया.


किसान प्रदर्शन वाले मामले पर सचिन के ट्वीट के बाद लोगों ने राहुल द्रविड़ को क्यों ट्रेंड करवा दिया? 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

ट्रैवल हिस्ट्री नहीं होने के बाद भी डॉक्टर के ओमिक्रॉन से संक्रमित होने पर डॉक्टर्स क्या बोले?

ट्रैवल हिस्ट्री नहीं होने के बाद भी डॉक्टर के ओमिक्रॉन से संक्रमित होने पर डॉक्टर्स क्या बोले?

बेंगलुरु में 46 साल के एक डॉक्टर कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन से संक्रमित पाए गए हैं.

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

क्या BYJU'S अच्छी शिक्षा देने के नाम पर लोगों को अनचाहा लोन तक दिलवा रही है?

ये रिपोर्ट कान खड़े कर देगी.

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

Jack Dorsey ने Twitter का CEO पद छोड़ा, CTO पराग अग्रवाल को बताया वजह

इस्तीफे में पराग अग्रवाल के लिए क्या-क्या बोले जैक डोर्से?

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

पेपर लीक होने के बाद UPTET परीक्षा रद्द, दोबारा कराने पर सरकार ने ये घोषणा की

UP STF ने 23 संदिग्धों को गिरफ्तार किया.

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

26 नए बिल कौन-कौन से हैं, जिन्हें सरकार इस संसद सत्र में लाने जा रही है

संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर तक चलेगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.