Submit your post

Follow Us

क्या है अयोध्या में 'बीच वाले गुम्बद' के नीचे?

देश के सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या मसले पर अपना फ़ैसला सुना दिया है. अयोध्या में विवादित ज़मीन पर मंदिर बनेगा. कोर्ट ने इस फैसले में विवादित जमीन रामजन्मभूमि न्यास को देने का फैसला किया है. मुस्लिम पक्ष को एक अलग ज़मीन मुहैया करवाई जायेगी. 16 अक्टूबर, 2019 को इस केस की सुनवाई पूरी हुई थी, जिसके बाद फैसला सुरक्षित रख लिया गया था.

बाबरी मस्जिद की तस्वीरें जब भी देखने को मिलती हैं, 3 गुम्बद दिखाई देते हैं. ख़बर इसी बारे में है. उन तीन गुम्बदों को जब साल 1992 में गिरा दिया गया था, तो वहां अब क्या मौजूद है? यहां ये भी बता दिया जाए कि बाबरी मस्जिद के 3 गुम्बदों में जो बीच वाला गुम्बद है उसे ‘मुख्य गुम्बद’ कहा जाता है. इसी मुख्य गुम्बद की जगह पर फ़िलहाल क्या है? इसका जवाब है एक तिरपाल, मिट्टी का ढेर और उसपर रखी हुई मूर्तियां. अयोध्या में ‘दर्शन’ को जाने वाले लोगों को जो देखने को मिलता है, वो यही मूर्तियां होती हैं. ये मूर्तियां ठीक मुख्य गुम्बद की जगह पर ही मौजूद हैं.

Babri Masjid Central Dome
वो जगह जहां मुख्य गुम्बद हुआ करता था.

ये वही जगह है जहां 22-23 दिसंबर 1949 की दरमियानी रात को हनुमानगढ़ी के महंत अभिराम दास (जो कि एफआईआर के मुताबिक मुख्य आरोपी थे) की अगुवाई में मूर्तियां रखी गयी थीं. 1950 से इस ज़मीन के लिए अदालती लड़ाई का दौर शुरू हुआ. 6 दिसंबर 1992 को जब बाबरी मस्जिद तोड़ी गयी, तब कहा जाता है कि मंदिर के पुजारी उन मूर्तियों को उठाकर कहीं चले गए. मस्जिद टूटने के बाद वहां मौजूद मिट्टी के ढेर पर मूर्तियां एक दफ़ा फिर से रख दी गयीं.

फ़िलहाल 5 जजों की बेंच ने अपना फ़ैसला सुना दिया है. उन्होंने कहा कि आस्था और विश्वास पर कोई विवाद नहीं हो सकता है. एक ट्रस्ट बनाने को कहा है जो कि मंदिर निर्माण से जुड़ी चीज़ों की देख-रेख करेगा. इस ट्रस्ट को बनाने के लिए 3 महीने का वक़्त दिया गया है.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

एंटी-CAA प्रोटेस्ट को उकसाने के आरोप में कपल गिरफ्तार, पुलिस ने कहा- ISIS से लिंक हो सकता है

दिल्ली के शाहीन बाग में 15 दिसंबर से प्रोटेस्ट चल रहा है.

सबसे ज्यादा रणजी मैच और सबसे ज्यादा रन, इस खिलाड़ी ने 24 साल बाद लिया संन्यास

42 की उम्र तक खेलते रहे, अब बल्ला टांगा.

लखनऊ में CAA विरोधी प्रदर्शन के दौरान 'तोड़फोड़ करने वाले' 57 लोगों के होर्डिंग लगाए

होर्डिंग पर पूर्व IPS एसआर दारापुरी और कांग्रेस कार्यकर्ता सदफ ज़फर जैसे लोगों का नाम.

दिल्ली दंगे के 'हिन्दू पीड़ितों' की मदद के लिए कपिल मिश्रा ने जुटाये 71 लाख, खुद एक पईसा नहीं दिया

अब भी कह रहे हैं, 'आप धर्म को बचाइये, धर्म आपको बचायेगा'

कांग्रेस सांसद का आरोप : अमित शाह का इस्तीफा मांगा, तो संसद में मुझ पर हमला कर दिया गया

कांग्रेस सांसद ने कहा, 'मैं दलित महिला हूं, इसलिए?'

निर्भया केस: चार दोषियों की फांसी से एक दिन पहले कोर्ट ने क्या कहा?

राष्ट्रपति ने पवन गुप्ता की दया याचिका खारिज कर दी है.

कश्मीर : हथियारों के फर्जी लाइसेंस बनवाने वाला IAS अधिकारी कैसे धरा गया?

हर लाइसेंस पर 8-10 लाख रूपए लेता था!

गृहमंत्री अमित शाह की रैली में आई भीड़ ने लगाया देश के गद्दारों को गोली मारो... का नारा!

ये नारा डरावना है, उससे भी डरावना है इसका गृहमंत्री की रैली में लगाया जाना.

दिल्ली के बाद मेघालय में भी हिंसा भड़की, दो की मौत, कई जिलों में इंटरनेट बंद

मामला CAA प्रोटेस्ट से जुड़ा है.

एक्टिंग छोड़ बीजेपी जॉइन की थी, अब कपिल मिश्रा और अनुराग ठाकुर की वजह से पार्टी छोड़ दी

बीजेपी नेता ने अपनी पार्टी के नेताओं पर बड़ा बयान दिया है.