Submit your post

Follow Us

राम रहीम को 10-10 साल कैद की कैद, अलग-अलग चलेगी सजा

अपने डेरे की दो शिष्याओं के साथ बलात्कार के दोषी गुरमीत राम रहीम को 10-10 साल सश्रम कैद और 15-15 लाख जुर्माने की सजा सुनाई गई है. ये 10-10 साल की कैद अलग-अलग मामलों में है, जो गुरमीत राम रहीम को अलग-अलग ही काटनी होंगी. साथ ही, दोनों मामलों में जो 15-15 लाख का जुर्माना लगाया गया है, उसमें से 14-14 लाख रुपए पीड़ित महिलाओं को दिए जाएंगे.

गुरमीत रोहतक की सुनारिया जेल में बंद था, जहां CBI की विशेष अदालत के जज जगदीप सिंह खुद सजा सुनाने के लिए पहुंचे थे. इससे पहले 25 अगस्त को जज जगदीप सिंह ने ही राम रहीम को 15 साल पुराने बलात्कार के मामले में दोषी करार दिया था. इसके बाद गुरमीत के हजारों समर्थकों ने हरियाणा को आग और हिंसा के हवाले कर दिया था और गुरमीत को हेलिकॉप्टर से जेल भेजना पड़ा था. जहां गुरमीत कोर्ट में रोता रहा, वहीं जज जगदीप सिंह सजा सुनाने के तुरंत बाद जेल से निकल गए.

28 अगस्त को फैसले वाले दिन पूरा हरियाणा और पंजाब हाई अलर्ट पर रहा. जिस समय राम रहीम को सजा सुनाई जा रही थी, उस दौरान सिरसा में डेरा-समर्थक आगजनी कर रहे थे, जहां डेरा सच्चा सौदा का मुख्यालय है. इसके बाद पुलिस ने पूरे इलाके को घेर लिया और हिंसा की जानकारी कोर्ट में मौजूद जज तक पहुंचाई गई. ये अस्थायी अदालत सुनारिया जेल की लाइब्रेरी में बनाई गई थी, जहां फैसले के तुरंत बाद गुरमीत को कैदी नंबर 1997 देकर जेल भेज दिया गया. अदालत का फैसला आने के बाद हरियाणा सीएम  मनोहर लाल खट्टर ने मीटिंग बुलाई.

कोर्ट रूम के अंदर क्या-क्या हुआ

28 अगस्त को दोनों पक्षों के वकीलों के बीच इस बात पर बहस होनी थी कि राम रहीम को कितनी सजा दी जाए. ज़िरह के लिए जज ने दोनों वकीलों को 10-10 मिनट का वक्त दिया था. CBI के वकील ने राम रहीम के लिए उम्रकैद की मांग की. इस दौरान राम रहीम कठघरे में खड़ा रोता रहा. जब गुरमीत के वकील की बारी आई, तो उन्होंने कहा, ‘बाबा राम रहीम समाजसेवी हैं. उन्होंने लोगों की भलाई के लिए काम किया. रक्तदान के कैंप लगवाए, इसलिए कोर्ट को उनके साथ नरमी बरती जानी चाहिए.’ सिर पर सफेद कपड़ा बांधे कोर्ट में आए राम रहीम ने खुद दलील दी, ‘मैंने लोगों की भलाई का काम किया है, मुझे माफ कर दीजिए.’

CBI ने अपनी दलील में ये भी कहा था कि गुरमीत ने जिन दो लड़कियों के साथ रेप किया, उसमें से एक नाबालिग थी, ऐसे में उस पॉक्सो की धारा भी लगनी चाहिए. फैसला सुनने के बाद गुरमीत जमीन पर बैठ गया. उसकी हालत ऐसी हो गई थी कि आखिर में कोर्ट के कर्मचारियों को उसे लगभग घसीटते हुए कोर्ट के बाहर ले जाना पड़ा. वो कोर्ट में बैठकर रोते-रोते कहने लगा, ‘मैं कहीं नहीं जाऊंगा.’ सजा के बाद राम रहीम का मेडिकल किया गया, जिसमें उसकी हाई बीपी की शिकायत फर्जी मिली. फैसला सुनाने के बाद जज ने गुरमीत का बैग उठाने वाले पूर्व डिप्टी एडवोकेट जनरल समेत पुलिस और प्रशासन को फटकार भी लगाई.

रेप केस में दोषी करार दिए जाने के बाद जेल ले जाए जाते समय गुरमीत राम रहीम
रेप केस में दोषी करार दिए जाने के बाद जेल ले जाए जाते समय गुरमीत राम रहीम

गुरमीत राम रहीम को तीन धाराओं 506, 509 और 376 के तहत दोषी करार दिया गया था. धारा 506 जान से मारने की धमकी देने पर और धारा 376 बलात्कार करने पर लगाई जाती है. इन दोनों में अपराधी को सात से 10 साल कैद और रेयरेस्ट मामलों में अधिकतम उम्रकैद की सजा हो सकती है. धारा 509 महिला का अपमान करने पर लगाई जाती है, जिसमें दो से सात साल कैद की सजा हो सकती है.

राम रहीम को सजा के एलान से पहले सोनीपत के बहलगढ़ डेरा में 100 से ज्यादा हिंसक हथियार बरामद किए गए थे. राजस्थान में उसकी पैदाइश वाले जिले श्रीगंगानगर में भी उसके पांच समर्थकों को अरेस्ट किया गया था, जो हिंसा भड़काने की साजिश रच रहे थे. पंजाब के संगरूर से भी डेरा के 23 अनुयायियों को अरेस्ट किया गया. जिस समय राम रहीम पर फैसला सुनाया जा रहा था, उस समय पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह भी सुरक्षा इंतजामों पर मीटिंग ले रहे थे.

रोहतक रेंज के IGP नवदीप सिंह ने पहले ही साफ कर दिया था कि सुनारिया जेल के 10 किमी के दायरे में किसी भी संदिग्ध हरकत पर गोली मार दी जाएगी. पंजाब और हरियाणा में 29 अगस्त की सुबह 11:30 तक इंटरनेट सर्विस बंद रहेगी. इससे पहले राम रहीम के समर्थकों से दो AK47, कुछ पिस्तौल और पेट्रोल बम बरामद हुए थे.

सुनारिया जेल के बाहर तैनात पैरामिलिट्री फोर्स
सुनारिया जेल के बाहर तैनात पैरामिलिट्री फोर्स

गुरमीत को सजा का एलान होने से किसी तरह की हिंसा न भड़क जाए, इसलिए NCR के सभी डेरों की निगरानी बढ़ा दी गई थी और यूपी बॉर्डर पर हाई अलर्ट जारी कर दिया गया था. पंजाब के बरनाला और दिल्ली में पुलिस का फ्लैग मार्च हुआ. फैसले से पहले केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने एक हाई-लेवल मीटिंग बुलाई थी, जिसमें सुरक्षा इंतजामों पर चर्चा हुई थी. राम रहीम समर्थकों द्वारा फैलाई गई हिंसा रोकने में नाकाम रहने पर केंद्र सरकार को पहले ही कोर्ट से फटकार पड़ी थी.

CBI कोर्ट से सजा का एलान होने के बाद अंदाजा लगाया जा रहा है कि गुरमीत राम रहीम हाई कोर्ट में अपील करेगा. सजा के एलान से पहले गुरमीत के वकील एसके गर्ग नरवाना ने कहा था कि उन्हें सुनारिया जेल तक ही केस लड़ने की फीस मिली है. आगे की फीस मिलने पर ही वो हाई कोर्ट में अपील करेंगे. हालांकि, सजा मिलने के बाद की रिपोर्ट के मुताबिक राम रहीम हाई कोर्ट में अपील करेगा.

सितंबर 2008 में जब राम रहीम पर आरोप तय हुए थे, तब से अब तक वो हर तीन महीने में एक बार वो पंजाब-हरियाणा हाई कोर्ट में समीक्षा याचिका डालता आ रहा है. सितंबर 2008 में ये मामला CBI कोर्ट में चला गया था और राम रहीम की अधिकांश याचिकाएं खारिज हो गई थीं. अकेले 2017 में राम रहीम की तरफ से छ: याचिकाएं दायर की जा चुकी हैं. 5 जुलाई 2017 को अपने एक आदेश में हाई कोर्ट ने कहा कि इस हरकत से राम रहीम ट्रायल को लंबा खींचने की कोशिश कर रहा है. इसी दिन हाई कोर्ट ने CBI कोर्ट को मामले की सुनवाई जल्द से जल्द निपटाने का निर्देश दिया था.


पढ़िए राम रहीम के बारे में और भी बहुत कुछ:

भीड़ जिसके नाम पर उत्पात मचा रही थी, ये सरकारी अधिकारी उसका बैग ढो रहा था

रेपिस्ट राम रहीम पर सियासी जमात में सन्नाटा क्यों है? वजह हम बताते हैं

पंचकुला में हिंसा के बाद ऐसा था अस्पताल के मुर्दाघर का नज़ारा

छह बाबाओं की कहानी, जो रेप के आरोप में जेल में हैं

क्या गुरमीत सिंह को उसी हेलिकॉप्टर से ले जाया गया, जिससे पीएम मोदी घूमते थे

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

रिया ने कहा- सुशांत की बहन ने ग़लत हरकतें कीं, तभी उसके परिवार से खटक गई

रिया चक्रवर्ती ने लंबा-चौड़ स्टेटमेंट जारी किया है.

नसीरुद्दीन शाह ने जो 'आधे ज्ञान वाली स्टार' जैसी बात कही थी, उस पर कंगना रनौत ने जवाब दे दिया

नसीरुद्दीन शाह ने बिना नाम लिए कहा था, जवाब कंगना ने दिया है.

क्या है ये वर्चुअल प्रॉडक्शन तकनीक, जिससे इंडिया की पहली फिल्म शूट होने जा रही है?

'अवतार' और 'द लायन किंग' भी इसी तकनीक से शूट हुई थीं.

मुंबई में बिजनेसमैन नमाज पढ़ने गए थे, मस्जिद के बाहर 15 बार चाकू घोंपकर हत्या

दो साल से मिल रही थीं धमकियां. पुलिस को भी बताया था, पर सुनवाई नहीं हुई

कभी कंगना ने ही कहा था करण जौहर पद्मश्री डिज़र्व करते हैं, अब कह रही हैं इनसे ये अवॉर्ड वापस ले लो

कंगना-करण युद्ध का नया अध्याय.

बेंगलुरु के अस्पताल में ख़त्म हुई ऑक्सीजन, रातों-रात शिफ्ट किए गए कोरोना के मरीज़

अस्पताल ने इस मामले पर अपना पक्ष रखा है.

प्रभास की 'आदिपुरुष' का पोस्टर देखकर लोगों को उम्मीद हो रही कि बाहुबली से ज़्यादा कमाल फिल्म होगी

अपनी 22वीं फिल्म का पोस्टर रिलीज़ किया प्रभास ने. कहते हैं फिल्म रामायण पर बेस्ड है.

सचिन तेंडुलकर ने बताया- IPL 2020 से देश में क्या बदलेगा

किसके लिए हमेशा खुले हैं सचिन के दरवाज़ें?

नारायण मूर्ति ने बताया कि धोनी से बिज़नेस लीडर्स क्या सीख सकते हैं?

इंफोसिस और धोनी में क्या समानता है?

लोग अटकलें ही लगाते रहे और ये कंपनी IPL 2020 की टाइटल स्पॉन्सर बन गई

222 करोड़ रुपए में हासिल की स्पॉन्सरशिप.