Submit your post

Follow Us

स्क्रैप पॉलिसी की ये बात न समझी तो दो साल बाद गाड़ी सड़क पर नहीं निकाल पाएंगे!

ऑटोमोबाइल स्क्रैपिंग पॉलिसी, यानी अनफिट पुराने वाहनों को सड़क से हटाकर कबाड़खाने में भेजने की नीति. काफी टाइम से अलग अलग स्तर पर इसकी बात हो रही थी. आज पीएम मोदी ने स्क्रैपिंग पॉलिसी लॉन्च कर दी है. गुजरात में इंवेस्टर्स समिट था, जिसमें वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के ज़रिए हिस्सा लेते हुए पीएम स्क्रैपिंग वाली पॉलिसी लॉन्च की. समिट में पीएम मोदी के अलावा, केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी और गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी भी शामिल थे. स्क्रैपिंग पॉलिसी लॉन्च करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि अनफिट वाहनों को वैज्ञानिक तरीके से हटाने में ये नीति बड़ी भूमिका निभाएगी. वो बोले –

“सबसे पहला लाभ ये होगा कि पुरानी गाड़ी को स्क्रैप करने पर एक सर्टिफिकेट मिलेगा. ये सर्टिफिकेट जिसके पास होगा, उसे नई गाड़ी की खरीद पर रजिस्ट्रेशन के लिए कोई पैसा नहीं देना होगा. इसके साथ ही उसे रोड टैक्स में भी कुछ छूट दी जाएगी. दूसरा लाभ ये होगा कि पुरानी गाड़ी की मेंटिनेंस कॉस्ट, रिपेयर कॉस्ट और ईंधन क्षमता (यानी Fuel Efficiency) में भी बचत होगी. तीसरा लाभ सीधा जीवन से जुड़ा है. पुरानी गाड़ियों, पुरानी टेक्नॉलॉजी के कारण रोड एक्सीडेंट का खतरा बहुत अधिक रहता है, जिससे मुक्ति मिलेगी. चौथा, इससे हमारे स्वास्थ्य पर प्रदूषण के कारण जो असर पड़ता है, उसमें कमी आएगी.”

वाहन सस्ते होंगे!

सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि स्क्रैपिंग पॉलिसी से नए वाहन 40 फीसदी तक सस्ते हो जाएंगे. क्योंकि पुरानी गाड़ियों से निकलने वाले कबाड़ से 99 फीसदी मेटल को रिकवर किया जा सकता है. गडकरी ने ये भी कहा कि –

“स्क्रैपिंग उद्योग को बढ़ावा मिलेगा तो नई नौकरियां आएंगी. नए वाहनों की सेल से सरकार को GST के तौर पर 30,000-40,000 करोड़ रुपये रेवेन्यू आएगा. इससे देश में रोड सेफ्टी बढ़ेगी और प्रदूषण भी कम होगा.”

Scrap Policy Launch
PM मोदी ने 13 अगस्त को स्क्रैप पॉलिसी लॉन्च की. (फोटो- PTI)

ये स्क्रैप पॉलिसी है क्या

स्क्रैप पॉलिसी के तहत कमर्शियल गाड़ियों को 15 साल और प्राइवेट वाहनों को 20 साल बाद फिटनेस का सर्टिफिकेट लेना पड़ेगा. अनफिट वाहनों को स्क्रैप किया जाएगा यानी कबाड़ी खाने में भेज दिया जाएगा. स्क्रैप पॉलिसी के तहत डीज़ल और पेट्रोल के निजी वाहनों को 20 साल तक चलने की इजाज़त दी है. जो निजी वाहन 20 साल से ज्यादा पुराने हैं उन्हें फिटनेस टेस्ट से गुज़रना पड़ेगा. अगर वो फिटनेस टेस्ट में फेल हो जाते हैं तो उनका रजिस्ट्रेशन रद्द हो जाएगा. अब आप पूछेंगे कि अगर वाहन का फिटनेस टेस्ट कराएं ही ना, तो क्या होगा. तो भी रजिस्ट्रेशन रद्द हो जाएगा. अगर आपके वाहन को 20 साल हो गए हैं, और आपने फिटनेस सर्टिफिकेट नहीं लिया है, तो 1 जून 2024 के बाद अपने आप रजिस्ट्रेशन खत्म हो जाएगा. 15 साल से पुराने कमर्शियल वाहनों के लिए ये डेडलाइन 1 अप्रैल 2023 है. इस पॉलिसी के दायरे में 20 साल से ज्यादा पुराने 51 लाख निजी वाहन आएंगे. गाड़ी स्क्रैप कराने पर इसके मालिक को सर्टिफिकेट दिया जाएगा. वो सर्टिफिकेट नई गाड़ी खरीदते वक्त शोरूम में दिखाएंगे तो कीमत में 5 फीसदी की छूट मिलेगी. इसके अलावा रजिस्ट्रेशन फीस माफ कर दी जाएगी. नई गाड़ी लेने पर रोड टैक्स में 3 साल के लिए 25 फीसदी तक का भी प्रावधान है.

गुजरात के भावनगर में देश का पहला व्हीकल स्क्रैपिंग पार्क तैयार होगा. इसके लिए आज के समिट में करार साइन हुए हैं. स्क्रैपिंग के लिए कुल 7 कंपनियों ने सरकार के साथ MoU साइन किया है. इनमें गुजरात की 6 और असम की एक कंपनी शामिल है. इस पॉलिसी से पुरानी गाड़ियां सड़कों से हटेंगी तो नई गाड़ियों की डिमांड बढ़ेगी. और नई गाड़ियां खरीदी जाएंगी तो सरकार की कमाई भी बढ़ेगी. जीएसटी कमाई करीब 40 हजार करोड़ बढ़ने का अनुमान है. इसके अलावा पुरानी गाड़ियों की जगह नई गाड़ी लेंगी तो पेट्रोल-डीज़ल की खपत भी कम होगी, पर्यावरण के लिहाज से भी ये अच्छा फैसला रहेगा.


बजट-2021: सरकार की स्क्रैप पॉलिसी क्या है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

दिल्ली में पाकिस्तानी आतंकी गिरफ्तार, पूछताछ में डराने वाली जानकारी दी

दिल्ली में पाकिस्तानी आतंकी गिरफ्तार, पूछताछ में डराने वाली जानकारी दी

पुलिस ने संदिग्ध आतंकी के पास से एके-47, हैंड ग्रेनेड और कई कारतूस मिलने का दावा किया है.

Urban Company की महिला 'पार्टनर्स' ने इसके खिलाफ मोर्चा क्यों खोल दिया है?

Urban Company की महिला 'पार्टनर्स' ने इसके खिलाफ मोर्चा क्यों खोल दिया है?

ये महिलाएं अर्बन कंपनी के लिए ब्यूटिशियन या स्पा वर्कर का काम करती हैं.

लखीमपुर केस में आशीष मिश्रा 12 घंटे की पूछताछ के बाद गिरफ्तार

लखीमपुर केस में आशीष मिश्रा 12 घंटे की पूछताछ के बाद गिरफ्तार

जांच में सहयोग नहीं करने का आरोप.

नवाब मलिक ने कहा-NCB ने 11 को हिरासत में लिया था फिर 3 को छोड़ क्यों दिया?

नवाब मलिक ने कहा-NCB ने 11 को हिरासत में लिया था फिर 3 को छोड़ क्यों दिया?

NCB की रेड को फर्जी बताया, ज़ोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े की कॉल डिटेल की जांच की मांग की

आशीष मिश्रा लखीमपुर में हैं या नहीं? पिता अजय मिश्रा और रिश्तेदारों के जवाबों ने सिर घुमा दिया

आशीष मिश्रा लखीमपुर में हैं या नहीं? पिता अजय मिश्रा और रिश्तेदारों के जवाबों ने सिर घुमा दिया

अजय मिश्रा कुछ और कह रहे, परिवारवाले कुछ और कह रहे.

RBI ने ऑनलाइन पैसा ट्रांसफर करने वालों को बड़ी खुशखबरी दी है

RBI ने ऑनलाइन पैसा ट्रांसफर करने वालों को बड़ी खुशखबरी दी है

RBI की मॉनिटरी पॉलिसी कमिटी (MPC) की बैठक आज खत्म हो गई.

लखीमपुर: SC ने यूपी सरकार से रिपोर्ट मांगते हुए ऐसी बात पूछी है कि जवाब देना मुश्किल हो सकता है

लखीमपुर: SC ने यूपी सरकार से रिपोर्ट मांगते हुए ऐसी बात पूछी है कि जवाब देना मुश्किल हो सकता है

विस्तृत रिपोर्ट दाखिल करने के लिए यूपी सरकार को एक दिन का वक्त दिया है.

छत्तीसगढ़: कवर्धा में किस बात पर ऐसी हिंसा हुई कि इंटरनेट बंद करना पड़ गया?

छत्तीसगढ़: कवर्धा में किस बात पर ऐसी हिंसा हुई कि इंटरनेट बंद करना पड़ गया?

रविवार 3 अक्टूबर की शाम से यहां कर्फ्यू लगा है.

पैंडोरा पेपर्स: लक्ष्मी निवास मित्तल के भाई प्रमोद मित्तल पर बड़ी टैक्स चोरी और धोखाधड़ी का आरोप

पैंडोरा पेपर्स: लक्ष्मी निवास मित्तल के भाई प्रमोद मित्तल पर बड़ी टैक्स चोरी और धोखाधड़ी का आरोप

ब्रिटेन की अदालतों में इन दोनों ने अपनी आय शून्य बताई थी.

लखीमपुर का रोंगटे खड़े करने वाला वीडियो, प्रदर्शन कर रहे किसानों पर पीछे से कैसे चढ़ा दी गाड़ी!

लखीमपुर का रोंगटे खड़े करने वाला वीडियो, प्रदर्शन कर रहे किसानों पर पीछे से कैसे चढ़ा दी गाड़ी!

घटना में घायल शख्स ने 'दी लल्लनटॉप' को बताई पूरी कहानी.