Submit your post

Follow Us

ऐपल के कर्मचारी 32 हजार करोड़ के नए ऑफिस में जाने की बजाए इस्तीफा देने की बात क्यों कर रहे हैं?

ऐपल. देसी भाषा में कटा ऐपल. सुनके आपका हाथ जरूर अपने आईफोन पर चला गया होगा. बड़का भौकाली फील कर रहे होंगे. ऐसा ही कुछ भौकाली फीलिंग अपने वर्कर्स को फील कराने की सोची थी एपल के सीईओ टिम कुक ने. 32 हजार करोड़ फूंक डाले कुक साहब ने. कैलिफोर्निया के क्यूपर्टिनो में बड़ा ही आलीशान. बड़ा ही हाईटेक स्पेसशिप की डिजाइन वाला ऑफिस बनवा डाला. सोचा था वर्कर खुश होंगो, शाबाशी देंगे. पर ऐसा बिल्कुल नहीं हो रहा है. कंपनी का इरादा था कि इस साल के अंत तक यहां उसके आधे से ज्यादा वर्कर शिफ्ट हो जाएंगे. पर इस इरादे पर पानी फिरता दिखाई दे रहा है. खबर आ रही है वर्कर नए ऑफिस से खुश नहीं हैं. दुख इतना ज्यादा है कि कई वर्कर्स ने तो कंपनी छोड़ने के ईमेल तक ठोक डाले हैं.

कैलिफोर्निया में बन रहा एपल का नया ऑफिस.
कैलिफोर्निया में बन रहा ऐपल का नया ऑफिस.

काहे बवाल काटे हैं वर्कर

माजरा ये है कि नए ऑफिस का वर्कस्पेस ओपन है. आसान भाषा में खुला-खुला. मल्लब पिंकी, राजू, जिग्नेश, एडम, ईव आदि एक लंबी सी टेबल पर कुर्सी लगाए बैठेंगे. जब वो काम कर रहे होंगे तो बड़ी बात नहीं कि उनकी कोहनियां भी टकरा जाएं. बस इसी बात की जानकारी जब वर्कर्स को मिली तो वो मुंह फुला के बैठ गए. अब तक सबकी आदत थी बढ़िया अपने-अपने केबिन में बैठने की. चौकस सबकी अपनी प्राइवेसी थी. पर ऐपल ने अपने नए स्पेसशिप वाले वर्कस्पेस में इस प्राइवेसी की दीवार को तोड़ दिया है. कंपनी का मानना है इससे पिंकी, राजू, जिग्नेश, एडम, ईव आदि में आपसी सहयोग और लगाव बढ़ेगा. फील गुड वाली फीलिंग आएगी और इनोवेटिव आइ़़डिया निकलेंगे. पर वर्कर्स को ये कहानी रास नहीं आ रही है.

ऐपल के ब्लॉगर ने किया खुलासा

अब ऐपल में काम करने वाले कोई मामूली लोग तो हैं नहीं कि 2-4 हजार के इंक्रीमेंट की लॉलीपॉप मिली और गुस्सा छोड़ बैठ गए. ऐपल पॉडकास्टर और ब्लॉगर जॉन ब्रुगर का दावा है कि कंपनी के कई वर्कर्स ने ई-मेल में धमकी दी है कि नया वर्कप्लेस ठीक नहीं लगा तो वे कंपनी छोड़ देंगे. मैक्यूमर्स की एक रिपोर्ट में ब्रूगर ने कहा ‘ मैंने ऐपल के कुछ लोगों से प्राइवेट फीडबैक भी लिए हैं और मुझे 100 फीसदी यकीन है कि ओपन ऑफिस फ्लोर प्लान से कंपनी में समस्या हो सकती है.’

tim cook

एक वाइस प्रेसिडेंट ने तो अलग ऑफिस ही बना लिया

ग्रुबर ने अपने एक हालिया पॉडकास्ट में ऐपल के एक वाइस प्रेसिडेंट जॉनी सराउजी के ऑफिस को लेकर रिएक्शन के बारे में बताया है. इसमें कहा गया कि जब उनकी टीम को ओपन फ्लोर प्लान दिखाया जा रहा था तो उनका रिएक्शन काफी निराशा भरा था. उन्होंने नाराजगी जताते हुए कहा कि उनकी टीम यहां काम कर ही नहीं सकती. उन्होंने कैंपस के बगल में अलग बिल्डिंग भी बनवा ली है. इसके पीछे का कारण सिक्योरिटी बताया जा रहा है. खैर ऐपल के वर्कर्स को भले ये आइडिया पसंद ना आ रहा हो, मगर सिलिकॉन वैली की कई कंपनियों में ये कल्चर हिट है.

apple-

 ऐपल के स्पेसशिप की खासियत-

# 32 हजार करोड़ रुपए से बन रहे ऐपल के नए हेडक्वार्टर में ऊर्जा की जरूरतों के लिए ग्रीन टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया गया है. यानी पूरी बिल्डिंग में सोलर पैनल लगवाए गए हैं.

ग्रीनरी को बढ़ावा देने के लिए करीब 7000 पेड़ इस ऐपल पार्क में लगाए गए हैं.

# यहां 1 लाख स्क्वेयर फुट का फिटनेस सेंटर भी तैयार हो चुका है, जिसमें कसरत करने के सभी धांसू इंतजाम होंगे.

# 175 एकड़ में बने इस कैंपस में बड़ा गार्डन, लंबी-चौड़ी ग्रासलैंड और तालाब भी है.

# ऐपल के लिए सिलिकॉन वैली में 25 हजार से ज्यादा लोग काम कर रहे हैं. साल के अंत तक नए ऑफिस में 13 हजार वर्कर्स शिफ्ट हो सकते हैं.

# ऐपल सीईओ टिम कुक का भी ऑफिस इसी ऐपल पार्क में चौथे माले पर है.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

राजीव गांधी के हत्यारे को सुप्रीम कोर्ट ने रिहा किया, जानिए किस कानून का इस्तेमाल हुआ?

राजीव गांधी के हत्यारे को सुप्रीम कोर्ट ने रिहा किया, जानिए किस कानून का इस्तेमाल हुआ?

वो पेरारिवलन, जिसने राजीव गांधी की हत्या में इस्तेमाल जैकेट के लिए बैटरी सप्लाई की थी

सुप्रीम कोर्ट में बाबरी मस्जिद वाले जज सुनेंगे ज्ञानवापी मस्जिद वाला केस!

सुप्रीम कोर्ट में बाबरी मस्जिद वाले जज सुनेंगे ज्ञानवापी मस्जिद वाला केस!

मामला सुप्रीम कोर्ट क्यों गया?

LIC-IPO की लिस्टिंग पर लगी 42,500 करोड़ की चपत, अब क्या करें ?

LIC-IPO की लिस्टिंग पर लगी 42,500 करोड़ की चपत, अब क्या करें ?

ऑफर प्राइस से 8% नीचे लिस्ट हुआ देश का सबसे बड़ा IPO

मुंडका अग्निकांड: मृतकों का आंकड़ा 26 तक पहुंचा, बचाव के लिए NDRF को बुलाया गया

मुंडका अग्निकांड: मृतकों का आंकड़ा 26 तक पहुंचा, बचाव के लिए NDRF को बुलाया गया

इस घटना ने दिल्ली के लोगों को हिलाकर रख दिया है.

छत्तीसगढ़ के रायपुर एयरपोर्ट पर सरकारी हेलीकॉप्टर क्रैश, दो पायलटों की मौत

छत्तीसगढ़ के रायपुर एयरपोर्ट पर सरकारी हेलीकॉप्टर क्रैश, दो पायलटों की मौत

क्रैश का कारण अभी साफ नहीं हो सका है.

जम्मू-कश्मीर में एक और कश्मीरी पंडित की हत्या, आतंकियों ने सरकारी दफ्तर में घुसकर गोली मारी

जम्मू-कश्मीर में एक और कश्मीरी पंडित की हत्या, आतंकियों ने सरकारी दफ्तर में घुसकर गोली मारी

मृतक राहुल भट्ट राजस्व विभाग में कार्यरत थे.

क्या क्रिप्टो करंसी के बुरे दिन शुरू हो गए हैं ? छह महीने में आधी हो गईं कीमतें

क्या क्रिप्टो करंसी के बुरे दिन शुरू हो गए हैं ? छह महीने में आधी हो गईं कीमतें

30% इनकम टैक्स के बाद अब 28% जीएसटी लगाने की तैयारी

पेट्रोल के दाम घटाने की मांग कर रहे विपक्षी राज्यों को पीएम मोदी ने नवंबर याद दिला दिया

पेट्रोल के दाम घटाने की मांग कर रहे विपक्षी राज्यों को पीएम मोदी ने नवंबर याद दिला दिया

मुख्यमंत्रियों के साथ वर्चुअल मीटिंग में पीएम मोदी ने नाम ले-लेकर सुनाया.

धार्मिक जुलूस की अनुमति की प्रक्रिया जान लो, जहांगीरपुरी हिंसा की वजह समझ आ जाएगी

धार्मिक जुलूस की अनुमति की प्रक्रिया जान लो, जहांगीरपुरी हिंसा की वजह समझ आ जाएगी

जानकारों ने जहांगीरपुरी में निकले जुलूस पर सवाल उठाए हैं.

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे का सेनाध्यक्ष बनना खास क्यों है?

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे का सेनाध्यक्ष बनना खास क्यों है?

मौजूदा आर्मी चीफ मनोज मुकुंद नरवणे के रिटायर्ड होने पर पदभार संभालेंगे.