Submit your post

Follow Us

अनुराग कश्यप ने अभय देओल के बारे में ऐसी बातें कह दी कि अभय के फैंस निराश हो सकते हैं

फिल्म देव डी. अभय देओल के करियर की सर्वश्रेष्ठ फिल्मों में से एक. 44 साल के अभय ने अनुराग कश्यप के निर्देशन में इकलौती फिल्म ‘देव डी’ (2009) में काम किया था. यह फिल्म ‘देवदास’ का मॉडर्न वर्जन थी. लोगों को फिल्म बहुत पसंद भी आई लेकिन अनुराग कश्यप की मानें तो अभय के साथ काम करने का उनका अनुभव अच्छा नहीं रहा था. अभय को लेकर HuffPost India को दिए एक इंटरव्यू में अनुराग ने ये बातें कहीं.

शूटिंग खत्म होने के बाद ज्यादा बात नहीं की

अनुराग ने अपनी बातचीत में बताया कि अभय और उनकी बातचीत बहुत नहीं होती थी. अनुराग ने कहा,

उनके साथ काम करना वाकई बहुत मुश्किल था. मेरे पास उनके साथ काम करने की अच्छी यादें नहीं हैं. इस फिल्म की शूटिंग पूरी होने के बाद मैंने कभी उनसे ज्यादा बात नहीं की.

प्रमोशन पर साथ नहीं आए अभय

अनुराग ने अभय के व्यवहार पर भी टिप्पणी की. अनुराग के मुताबिक अभय फिल्म के प्रमोशन में भी साथ नहीं थे. अनुराग इस बात को याद करते हुए कहते हैं,

उन्होंने ‘देव डी’ का प्रमोशन नहीं किया. फिल्म और क्रू का बहुत अपमान किया. यह शायद इसलिए था, क्योंकि वे भावनात्मक और व्यक्तिगत रूप से कहीं जूझ रहे थे, जिसके बारे में उन्होंने कभी बताया नहीं. उन्हें लगता था कि मैंने उन्हें धोखा दिया, जिसे लेकर उन्होंने कभी मुझसे बात नहीं की.

हालांकि, अनुराग ने अभय को शानदार अभिनेता बताया और कहा कि वे इंडस्ट्री में और भी बहुत कुछ डिजर्व करते हैं.

‘देओल’ होने का फायदा उठाते थे अभय

अनुराग के अनुसार अभय शुरुआती दिनों में जब वे फिल्म की शूटिंग कर रहे थे, तब कन्फ्यूज रहते थे. वह आर्ट और कामर्शियल फिल्मों, दोनों का फायदा लेना चाहते थे. साथ ही वह शूटिंग के दौरान फाइव स्टार होटल में ही रुकते थे. अनुराग कहते हैं,

वे आर्टिस्टिक फिल्में करना चाहते थे, लेकिन उन्हें मेनस्ट्रीम बेनिफिट्स भी चाहिए थे. देओल होने की लग्जरी और बेनिफिट्स. वह अलग से फाइव स्टार होटल में रुकते थे जबकि फिल्म के बजट के हिसाब से बाकी सभी क्रू के लोग पहाड़गंज में. एक वजह यह भी है कि उनके साथ काम कर चुके ज्यादातर डायरेक्टर्स उनसे दूर हो गए.

अभय इंस्टाग्राम पर लगातार एक्टिव रहते हैं. बीते दिनों अमेरीका में चल रहे अश्वेतों के लिए आंदोलन में उन्होंने इंस्टाग्राम पर इंडियन सेलिब्रेटिज़ के मुखरता पर सवाल उठाते हुए पोस्ट किये थे. दरअसल कुछ इंडियन सेलेब्रिटी ने ‘#ब्लैक लाइव्ज़ मैटर’ हैशटैग का इस्तेमाल कर इस मूवमेंट से संवेदना व्यक्त की.  इन सेलेब्रिटीज़ पर अभय देओल का गुस्सा फूटा था. आप वो पूरी खबर यहां क्लिक करके पढ़ सकते हैं.


वीडियो देखें: अनुराग कश्यप ने जिस फिल्म में नरेंद्र मोदी को दिखाया, उसके बारे में ये बताया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

बिहार: अमित शाह ने वर्चुअल रैली में तेजस्वी को घेरा, कहा-लालटेन राज से एलईडी युग में आ गए

तेजस्वी यादव ने रैली पर 144 करोड़ खर्च करने का आरोप लगाया.

गर्भवती ने 13 घंटे तक आठ अस्पतालों के चक्कर लगाए, किसी ने भर्ती नहीं किया, मौत हो गई

महिला की मौत के बाद अब जिला प्रशासन जांच की बात कर रहा है.

दिल्ली के सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों में अब सिर्फ दिल्ली वालों का इलाज होगा

दिल्ली के बॉर्डर खोले जाने पर भी हुआ फैसला.

लद्दाख में तनाव: भारत-चीन सेना के कमांडरों की मीटिंग में क्या हुआ, विदेश मंत्रालय ने बताया

6 जून को दोनों देशों के सेना के कमांडरों की मीटिंग करीब 3 घंटे तक चली थी.

पहले से फंसी 69000 शिक्षक भर्ती में अब पता चला, रुमाल से हो रही थी नकल!

शुरू से विवादों में रही 69 हजार शिक्षक भर्ती में जुड़ा एक और विवाद

'निसर्ग' चक्रवात क्या है और ये कितना ख़तरनाक है?

'निसर्ग' नाम का मतलब भी बता रहे हैं.

कोरोना काल में क्रिकेट खेलने वाले मनोज तिवारी ‘आउट’

दिल्ली में हार के बाद बीजेपी का पहला बड़ा फैसला.

1 जून से लॉकडाउन को लेकर क्या नियम हैं? जानिए इससे जुड़े सवालों के जवाब

सरकार ने कहा कि यह 'अनलॉक' करने का पहला कदम है.

3740 श्रमिक ट्रेनों में से 40 प्रतिशत ट्रेनें लेट रहीं, रेलवे ने बताई वजह

औसतन एक श्रमिक ट्रेन 8 घंटे लेट हुई.

कंटेनमेंट ज़ोन में लॉकडाउन 30 जून तक बढ़ाया गया, बाकी इलाकों में छूट की गाइडलाइंस जानें

गृह मंत्रालय ने कंटेनमेंट ज़ोन के बाहर चरणबद्ध छूट को लेकर गाइडलाइंस जारी की हैं.