Submit your post

Follow Us

आप भी बुखार को कोविड का सबसे बड़ा लक्षण मान रहे हैं तो ये पढ़ लीजिए!

आज-कल किसी भी दुकान में जाइए, सलून में जाइए या कहीं भी..गेट पर ही सबसे पहले होती है थर्मल स्क्रीनिंग. जिसके घर में अब तक थर्मामीटर नहीं था, वो भी अब खरीद रहे हैं. क्यों? क्योंकि बुखार को माना जा रहा है कोविड-19 का सबसे बड़ा लक्षण.

आइए आपकी गफलत दूर करें.

AIIMS-झज्जर में 144 कोविड मरीजों पर एक अध्ययन किया गया. इससे जो नतीजे आए, उसे ICMR ने प्रकाशित किया. और क्या कहते हैं नतीजे?

बुखार ही कोविड-19 का बड़ा और अनिवार्य लक्षण नहीं है. जिन मरीजों पर अध्ययन किया गया, उनमें से तो सिर्फ 17 फीसदी को ही बुखार था. बाकियों को कोविड तो था, मगर बुखार नहीं. जबकि 44 फीसदी तो ऐसे थे, जिनमें कोविड डिटेक्ट हुआ. डिटेक्ट होकर ठीक भी हो गया. लेकिन उनमें कोई लक्षण दिखा ही नहीं. यानी कम्प्लीट एसिंप्टोमेटिक.

वैसे ये बात तो पहले भी आती रही है कि कोविड के जितने पेशेंट सिंप्टोमेटिक (जिनमें बीमारी के लक्षण दिखते हैं) हैं, उतने या उससे भी ज़्यादा एसिंप्टोमेटिक हो सकते हैं. यानी उनमें कोई लक्षण नहीं दिखता. लेकिन वे इंफेक्टेड भी होते हैं और दूसरों को इंफेक्टेड भी कर सकते हैं.

रिपोर्ट के मुताबिक-

44 फीसदी मरीज एसिंप्टोमेटिक थे

34.7 फीसदी मरीजों को कफ था

17.4 फीसदी मरीजों को ही फीवर

जब हम चीन से तुलना करते हैं- जहां से कोविड शुरू हुआ- तो कोविड मरीजों में बुखार जैसा बड़ा लक्षण न दिखना और भी चिंताजनक लगता है. चीन में हॉस्पिटल में एडमिट होने के वक्त 44 फीसदी मरीजों में बुखार का लक्षण अनिवार्य रूप से देखा गया था. वहीं तमाम मरीज ऐसे भी थे, जिन्हें एडमिट होने के बाद बुखार आया. यानी मरीजों को किसी न किसी स्टेज पर बुखार ज़रूर आया.

ख़ैर, चलते-चलते आपको कोविड के वो सारे लक्षण बताते चलें जो सेंटर फॉर डिसीज़ कंट्रोल (CDC) ने बताए हैं.

# बुखार

# कफ

# सांस लेने में दिक्कत

शरीर, मसल्स या सिर में दर्द

स्वाद या सूंघने की क्षमता कम होना/खत्म होना

गले में ख़राश/दर्द

नाक बहना

उल्टी आना/जी मिचलाना

# लूज़ मोशन

वायरस के संपर्क में आने के 2 से 14 दिन के भीतर ये लक्षण दिख सकते हैं.


कोरोना के बाद भारतीय अर्थव्यवस्था में मंदी के लिए मध्यम वर्ग ज़िम्मेदार है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

मास्क बांटने के बहाने बच्चे को किडनैप किया, चार करोड़ मांगे, पुलिस ने 24 घंटे में पकड़ लिया

यूपी के गोंडा का मामला, पांच आरोपी भी गिरफ्तार.

चुनाव आयोग ने बीजेपी IT सेल से जुड़ी कंपनी से चुनावी कामधाम करवाया!

ये कम्पनी पूर्व महाराष्ट्र सरकार और दूसरे सरकारी विभागों का भी काम देख रही थी.

इंडिया में कोरोना की वैक्सीन का दाम पता चल गया है, लेकिन पैसे आपको नहीं देने होंगे!

क्या कहा बनाने वाले आदर पूनावाला ने?

बाइक चला रहे CJI बोबड़े पर ट्वीट करने पर twitter और वकील प्रशांत भूषण पर अवमानना का केस हो गया!

सुनवाई में ट्वीट डिलीट करने की बात पर कोर्ट ने क्या कहा?

जाटों-पंजाबियों को बिना बुद्धि का बोलकर माफ़ी मांगने लगे बीजेपी के सीएम

और कौन? वही त्रिपुरा के सीएम बिप्लब देब.

इन तीन परिवारों के उजड़ने की कहानी से समझिए कि कोरोना से बचाव कितना ज़रूरी है

पहले मां की मौत, फिर एक के बाद एक 5 बेटों की मौत

दिशा सालियान की मौत के बाद क्या सुशांत सिंह ने डिप्रेशन की दवाइयां लेनी बंद कर दी थीं?

डॉक्टर ने पुलिस द्वारा की गई पूछताछ में बताया

मध्य प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन नहीं रहे

वो 85 बरस के थे, कई दिनों से अस्पताल में भर्ती थे.

उत्तर बिहार में हर साल क्यों आती है बाढ़, अभी कैसे हैं हालात

भौगोलिक स्थिति समझना बहुत जरूरी है.

बिहार महादलित विकास मिशन घोटाला: 'स्पोकन इंग्लिश' के नाम पर कैसे हुई हेरा-फेरी

एक निलंबित और तीन रिटायर्ड IAS अधिकारियों समेत 10 लोगों पर FIR.