Submit your post

Follow Us

महीनों स्पेस में रहने के बाद धरती पर आ रहे हैं ये एस्ट्रोनॉट, पढ़ें कोरोना को लेकर क्या कहा?

नासा. अमेरिका की स्पेस एजेंसी. उसके अंतरिक्ष यात्री अगले सप्ताह धरती पर आने वाले हैं. कई महीने अंतरिक्ष में इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन यानी ISS में गुज़ारने के बाद. उन्होंने 10 अप्रैल को ISS से पत्रकारों से बात की. धरती पर आने के बारे में उन्होंने कहा कि दुनिया पूरी तरह बदली हुई है. ऐसे में वापस आकर इसमें एडजस्ट करना उनके लिए मुश्किल होगा.

‘पृथ्वी के हालात को समझना बहुत मुश्किल’

एंड्र्यू मॉर्गन नाम के एस्ट्रोनॉट ने कहा कि उनके साथियों ने कोरोना की खबर से खुद को दूर रखने की कोशिश की. लेकिन जो कुछ हो रहा है और जो कुछ होने को है उससे बचना मुश्किल है. मॉर्गन ने कहा कि पृथ्वी के हालात को समझना बहुत मुश्किल होगा.

मॉर्गन की साथी जेसिका मेर ने कहा,

“धरती पर जो कुछ हो रहा है वह किसी सपने जैसा है. हम आपको बता दें कि ऊपर से पृथ्वी अभी भी हमेशा की तरह गजब की दिखती है. इसलिए हमारे ऊपर आने के बाद जो कुछ भी बदला है उस पर भरोसा करना मुश्किल है.”

‘धरती पर ज्यादा अकेलापन होगा’

मेर ने आगे कहा कि धरती से सात महीने दूर रहने के बाद भी परिवार और दोस्तों को गले नहीं लगा पाएंगी. यह उनके लिए काफी कठिन होगा. उन्होंने कहा कि अंतरिक्ष की तुलना में धरती पर ज्यादा अकेलापन महसूस होगा. लेकिन फिर भी परिवार और दोस्तों को देखना शानदार होगा. भले ही उन्हें दूर से देखना पड़े.

एंड्र्यू मॉर्गन पिछले साल जुलाई में स्पेस स्टेशन गए थे. वहीं मेर सितंबर में गई थीं. ये दोनों सोयूज कैप्सूल में रूस के अंतरिक्ष यात्री ओलेग स्क्रीपोचका के साथ आएंगे. इनकी लैंडिंग कजाकिस्तान में होगी. इनके आने के बाद स्पेस स्टेशन में तीन ही अंतरिक्ष यात्री रह जाएंगे.

संयोग से जिस दिन ये लोग आएंगे, उसी दिन अपोलो 13 मिशन को 50 साल होंगे. अपोलो 13 मिशन चांद के लिए भेजा गया था. लेकिन एक ऑक्सीजन टैंक के फटने के चलते मिशन रोकना पड़ा था. इस बारे में मॉर्गन ने कहा-

एक बार फिर से समस्या हो गई. और अबकी बार समस्य़ा धरती पर है.

भारत में कोरोना वायरस के मामलों का स्टेटस


Video: कोरोना वायरस के डर से मुंबई में कई कोरोना मरीज की अस्थियां परिवारवाले नहीं ले रहे हैं!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

रेलवे ने टिकट कटा चुके लोगों को बड़ा झटका दिया है

इसका श्रमिक और स्पेशल ट्रेनों पर क्या असर पड़ेगा?

20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज में से पहले दिन वित्त मंत्री ने क्या-क्या ऐलान किया?

20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज की डिटेल दी.

पीएम मोदी ने जिस Y2K क्राइसिस का ज़िक्र किया, वो क्या था?

पीएम ने 12 मई को देश को संबोधित किया.

अपने भाषण में नरेंद्र मोदी ने अगले लॉकडाउन के बारे में ये हिंट दे दिया है

मोदी के 34 मिनट के भाषण में काम की बात क्या थी?

ट्रेन के बाद अब फ़्लाइट शुरू होगी तो यात्रा के क्या नियम होंगे?

केबिन लगेज, जांच और बैठने की व्यवस्था को लेकर क्या नियम हैं?

गुजरात: CM बदलने की संभावना पर खबर चलाई, पुलिस ने राजद्रोह का केस लिख लिया

इस मामले में गुजरात सरकार की किरकिरी हो रही है.

किसी को सही-सही पता ही नहीं कि दिल्ली में कोरोना से कितनी मौतें हुईं!

सरकार और नगर निगम के आंकड़े अलग-अलग.

चीन से ठगे जाने के बाद इंडिया ने अपनी टेस्टिंग किट बनाई, कैसे काम करेगी?

किसने बनाई ये टेस्टिंग किट?

कॉन्स्टेबल साब ने दिल्ली में शराब वितरण का लेटेस्ट तरीका निकाला था, नप गए

दिल्ली में शराब की दुकानों पर भीड़ बहुत ज़्यादा है.

12 मई से चलने वाली ट्रेनों के स्टॉपेज, टाइम टेबल और नियम क़ानून की जानकारी यहां देखिए

किस-किस दिन चलेंगी ट्रेनें?