Submit your post

Follow Us

दिल्ली में जीत वाले दिन ही AAP MLA पर गोली चली, पार्टी कार्यकर्ता की मौत

11 फरवरी को दिल्ली विधानसभा चुनाव का नतीजा आया. इसी दिन आम आदमी पार्टी (AAP) के एक विजयी उम्मीदवार नरेश यादव पर गोलियां चलीं. इस हमले में पार्टी के एक कार्यकर्ता की मौत हो गई.

दिल्ली की महरौली विधानसभा सीट से जीते आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार नरेश यादव. चुनाव के नतीजे आने के बाद अपने समर्थकों के साथ मंदिर गए. मंदिर से बाहर निकलने के बाद वो अपने समर्थकों के साथ घर लौट रहे थे. ख़बरों के मुताबिक, नरेश अपने कुछ समर्थकों के साथ खुली कार में बैठे थे. पीछे उनके कुछ समर्थक भी दो गाड़ियों में सवार थे. एक ट्रैफिक सिग्नल पर इनकी गाड़ी रुकी. इसी वक़्त एक कार में आए हमलावरों ने नरेश यादव के काफिले की तरफ गोलियां चलाईं. इस हमले में नरेश यादव तो बच गए, मगर उनके पीछे की कार में बैठे AAP के एक कार्यकर्ता की गोली लगने से मौत हो गई.

एक और कार्यकर्ता जख़्मी भी हुआ. हमले के बाद अपराधी मौके से भाग गए.

‘आम आदमी पार्टी’ की ओर से क्या बताया गया?
AAP ने देर रात 12.20 बजे एक ट्वीट कर इस वारदात की जानकारी दी. ट्वीट के मुताबिक-

मंदिर से लौटकर आते समय AAP के विधायक नरेश यादव और पार्टी कार्यकर्ताओं पर गोलियां चलीं. कम-से-कम एक कार्यकर्ता की गोली लगने से मौत हुई है. एक अन्य कार्यकर्ता जख़्मी है.

ट्वीट में आगे लिखा है-

AAP विधायक नरेश यादव पर हुए हमले में पार्टी के कार्यकर्ता अशोक मान की मौत हो गई. आज हमने अपने परिवार के एक सदस्य को खोया है. उनकी आत्मा को शांति मिले.

AAP के विधायक ने क्या कहा?
नरेश यादव ने इस बारे में न्यूज़ एजेंसी ANI से कहा-

ये बेहद दुर्भाग्यपूर्ण घटना है. मुझे इस हमले के पीछे की वजह नहीं मालूम, लेकिन हमला एकाएक हुआ. तकरीबन चार राउंड गोलियां चलीं. मैं जिस गाड़ी में था, उस पर ही निशाना लगाया गया. मुझे यकीन है कि अगर पुलिस अच्छी तरह से तफ़्तीश करती है, तो वो हमलावरों की शिनाख़्त कर लेगी.

पुलिस क्या बता रही है?
पुलिस ने इस मामले में शिकायत दर्ज कर ली है. वारदात की जगह से पुलिस को छह-सात खोखे मिले हैं. न्यूज़ एजेंसी ANI के मुताबिक, इस मामले में एक आदमी को गिरफ़्तार किया है. पुलिस का कहना है कि ये निजी दुश्मनी का मामला है. पुलिस को इस मामले में फिलहाल कोई चुनावी ऐंगल या राजनीतिक प्रतिस्पर्धा जैसा कुछ नज़र नहीं आ रहा. आगे की जांच चल रही है.

क्या गैंगवॉर का मामला है ये?
‘इंडिया टुडे’ की ख़बर के मुताबिक, पुलिस सूत्रों का मानना है कि नरेश यादव के काफिले में शामिल दो लोगों पर निशाना लगाया गया था. पुलिस सूत्रों का कहना है कि ये दो गुटों की आपसी मुठभेड़ या निजी रंज़िश का मामला हो सकता है. कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, ये मुमकिन है कि हमलावर नरेश यादव को ही निशाना बनाने आए हों. मगर उन्हें मालूम न रहा हो कि नरेश किस गाड़ी में बैठे हैं.

पुलिस सूत्रों का कहना है कि अशोक मान नाम के जिस पार्टी कार्यकर्ता की मौत हुई, वो ख़ुद भी कुछ आपराधिक मामलों में शामिल थे. कहा जा रहा है कि अशोक ने भी पहले किसी दूसरे समूह पर गोली चलाई थी. ये लोग वही माने जा रहे हैं, जिन्होंने 11 फरवरी की देर रात नरेश यादव के काफिले पर गोलियां चलाईं.

महरौली सीट का नतीजा, जहां से नरेश MLA बने

नरेश यादव महरौली सीट से विधायक चुने गए हैं. 8 फरवरी को दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए वोटिंग हुई थी. 11 फरवरी को वोटों की गिनती के बाद नतीजों का ऐलान हुआ. नरेश यादव ने BJP की प्रत्याशी कुसुम खत्री को 18,000 से ज़्यादा वोटों से हराकर महरौली की सीट जीती. 70 सीटों की दिल्ली विधानसभा में AAP को कुल 62 सीटें मिली हैं. BJP ने बाकी की आठ सीटें जीती हैं. कांग्रेस और अन्य के हिस्से एक भी जीत नहीं आई.


अरविंद केजरीवाल की दिल्ली जीत का फॉर्मूला क्या है, क्या अमित शाह हार से सबक लेंगे?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

सबके लिए कब से चलेंगी बस, ट्रेन और फ्लाइट, नितिन गडकरी ने बताया

नई गाइडलाइन के साथ जल्द ही सार्वजिनक परिवहन शुरू हो सकता है.

'मुक्काबाज़' एक्टर विनीत कुमार की नई फिल्म ने ये इंटरनेशनल अवॉर्ड जीता है

इस फिल्म के ख़ूब चर्चे हैं. जानिए क्यों?

लखनऊ में मजदूरों को वैसे ही सेनेटाइज कर दिया गया, जिस पर पहले हंगामा हो चुका है

लखनऊ में चारबाग रेलवे स्टेशन का मामला है.

बिहार: कोरोना के डर की वजह से इस ऑटो ड्राइवर को नुकसान होते-होते रह गया!

बिहार के सहरसा जिले का मामला है.

NEET, JEE वाले ध्यान दें, एग्जाम की नई डेट आ गई है

HRD मिनिस्टर ने बताया, कब होंगे NEET और JEE 2020 के एग्जाम.

किशोर कुमार कितने ख़ुराफ़ाती आदमी थे इस पुरानी फोटो के जरिए सोनू निगम ने बताया है

इसमें उनके साथ बेहद यंग अलका याग्निक और साधना सरगम जैसी सिंगर्स नज़र आ रही हैं.

टीचर से हिज़बुल आतंकी बना रियाज़ नाइकू मुठभेड़ में मारा गया

12 लाख रुपये का इनाम था इस आतंकी पर.

कोरोना संक्रमण के दौर में भी इस राज्य के सैकड़ों डॉक्टर और मेडिकल स्टाफ नदारद पाए गए!

गायब रहने वालों पर होगी कार्रवाई.

दूरदर्शन 'रामायण' के नाम पर हम सब से इतना बड़ा झूठ क्यों बोल रहा है?

इस बार दूरदर्शन का फर्जीवाड़ा सबूत के साथ पकड़ा गया है.

दिल्ली के आर्मी अस्पताल में कैंसर के 24 मरीज कोरोना पॉज़िटिव पाए गए

अब डॉक्टर इनके संपर्क में आए लोगों को क्वारंटीन कर रहे हैं