Submit your post

Follow Us

दिल्ली में जीत वाले दिन ही AAP MLA पर गोली चली, पार्टी कार्यकर्ता की मौत

11 फरवरी को दिल्ली विधानसभा चुनाव का नतीजा आया. इसी दिन आम आदमी पार्टी (AAP) के एक विजयी उम्मीदवार नरेश यादव पर गोलियां चलीं. इस हमले में पार्टी के एक कार्यकर्ता की मौत हो गई.

दिल्ली की महरौली विधानसभा सीट से जीते आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार नरेश यादव. चुनाव के नतीजे आने के बाद अपने समर्थकों के साथ मंदिर गए. मंदिर से बाहर निकलने के बाद वो अपने समर्थकों के साथ घर लौट रहे थे. ख़बरों के मुताबिक, नरेश अपने कुछ समर्थकों के साथ खुली कार में बैठे थे. पीछे उनके कुछ समर्थक भी दो गाड़ियों में सवार थे. एक ट्रैफिक सिग्नल पर इनकी गाड़ी रुकी. इसी वक़्त एक कार में आए हमलावरों ने नरेश यादव के काफिले की तरफ गोलियां चलाईं. इस हमले में नरेश यादव तो बच गए, मगर उनके पीछे की कार में बैठे AAP के एक कार्यकर्ता की गोली लगने से मौत हो गई.

एक और कार्यकर्ता जख़्मी भी हुआ. हमले के बाद अपराधी मौके से भाग गए.

‘आम आदमी पार्टी’ की ओर से क्या बताया गया?
AAP ने देर रात 12.20 बजे एक ट्वीट कर इस वारदात की जानकारी दी. ट्वीट के मुताबिक-

मंदिर से लौटकर आते समय AAP के विधायक नरेश यादव और पार्टी कार्यकर्ताओं पर गोलियां चलीं. कम-से-कम एक कार्यकर्ता की गोली लगने से मौत हुई है. एक अन्य कार्यकर्ता जख़्मी है.

ट्वीट में आगे लिखा है-

AAP विधायक नरेश यादव पर हुए हमले में पार्टी के कार्यकर्ता अशोक मान की मौत हो गई. आज हमने अपने परिवार के एक सदस्य को खोया है. उनकी आत्मा को शांति मिले.

AAP के विधायक ने क्या कहा?
नरेश यादव ने इस बारे में न्यूज़ एजेंसी ANI से कहा-

ये बेहद दुर्भाग्यपूर्ण घटना है. मुझे इस हमले के पीछे की वजह नहीं मालूम, लेकिन हमला एकाएक हुआ. तकरीबन चार राउंड गोलियां चलीं. मैं जिस गाड़ी में था, उस पर ही निशाना लगाया गया. मुझे यकीन है कि अगर पुलिस अच्छी तरह से तफ़्तीश करती है, तो वो हमलावरों की शिनाख़्त कर लेगी.

पुलिस क्या बता रही है?
पुलिस ने इस मामले में शिकायत दर्ज कर ली है. वारदात की जगह से पुलिस को छह-सात खोखे मिले हैं. न्यूज़ एजेंसी ANI के मुताबिक, इस मामले में एक आदमी को गिरफ़्तार किया है. पुलिस का कहना है कि ये निजी दुश्मनी का मामला है. पुलिस को इस मामले में फिलहाल कोई चुनावी ऐंगल या राजनीतिक प्रतिस्पर्धा जैसा कुछ नज़र नहीं आ रहा. आगे की जांच चल रही है.

क्या गैंगवॉर का मामला है ये?
‘इंडिया टुडे’ की ख़बर के मुताबिक, पुलिस सूत्रों का मानना है कि नरेश यादव के काफिले में शामिल दो लोगों पर निशाना लगाया गया था. पुलिस सूत्रों का कहना है कि ये दो गुटों की आपसी मुठभेड़ या निजी रंज़िश का मामला हो सकता है. कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, ये मुमकिन है कि हमलावर नरेश यादव को ही निशाना बनाने आए हों. मगर उन्हें मालूम न रहा हो कि नरेश किस गाड़ी में बैठे हैं.

पुलिस सूत्रों का कहना है कि अशोक मान नाम के जिस पार्टी कार्यकर्ता की मौत हुई, वो ख़ुद भी कुछ आपराधिक मामलों में शामिल थे. कहा जा रहा है कि अशोक ने भी पहले किसी दूसरे समूह पर गोली चलाई थी. ये लोग वही माने जा रहे हैं, जिन्होंने 11 फरवरी की देर रात नरेश यादव के काफिले पर गोलियां चलाईं.

महरौली सीट का नतीजा, जहां से नरेश MLA बने

नरेश यादव महरौली सीट से विधायक चुने गए हैं. 8 फरवरी को दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए वोटिंग हुई थी. 11 फरवरी को वोटों की गिनती के बाद नतीजों का ऐलान हुआ. नरेश यादव ने BJP की प्रत्याशी कुसुम खत्री को 18,000 से ज़्यादा वोटों से हराकर महरौली की सीट जीती. 70 सीटों की दिल्ली विधानसभा में AAP को कुल 62 सीटें मिली हैं. BJP ने बाकी की आठ सीटें जीती हैं. कांग्रेस और अन्य के हिस्से एक भी जीत नहीं आई.


अरविंद केजरीवाल की दिल्ली जीत का फॉर्मूला क्या है, क्या अमित शाह हार से सबक लेंगे?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

क्या चल रहा है?

TRP बटोरने के चक्कर में 'इंडियन आइडल' ने हद दर्जे की हरकत कर दी

उदित नारायण ने कहा- सब TRP स्टंट था.

बांग्लादेश को इतिहास की सबसे महंगी फिल्म बनाने में मदद करेगी भारत सरकार

फिल्म में मोहम्मद अली जिन्ना और खुशवंत सिंह जैसे किरदार भी नजर आएंगे.

सलमान खान को अपनी अगली फिल्म की हीरोइन मिल गई है

ऋतिक रोशन और अक्षय कुमार के साथ काम कर चुकी हैं ये एक्ट्रेस.

साढ़े तीन साल पहले पंखे से लटके मिले थे CM रहे पिता, अब बेटे की लाश मिली है

सीएम ने सुसाइड नोट में कई जजों पर घूस के आरोप लगाए थे.

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम रेप केस: मुख्य दोषी ब्रजेश ठाकुर को उम्रकैद की सज़ा

दोषी करार दिए जाने के 21 दिन बाद सज़ा सुनाई.

37 साल बिना मुख्यमंत्री के क्यों रही दिल्ली?

1956 से 1993 तक दिल्ली में कोई सीएम नहीं था.

INDvsNZ : न्यूज़ीलैंड की बैटिंग शुरू होने से पहले ही हार गया था भारत?

बेनेट के एक ओवर ने किया भारत का नुकसान.

KL राहुल का यह रिकॉर्ड देख महेंद्र सिंह धोनी बेहद खुश होंगे

कमाल लाज़वाब राहुल का एक और धमाका.

फैंस के दिल तोड़ देंगे वनडे सीरीज में विराट कोहली के बनाए ये दो 'रिकॉर्ड'

विराट कोहली के लिए भुलाने लायक रही वनडे सीरीज.

इंटरनेशनल हॉकी फेडरेशन अवॉर्ड में छा गए भारतीय हॉकी स्टार

विवेक और ललरेमसियामी ने काटा गदर.