Submit your post

Follow Us

23 मई को नरेंद्र मोदी चुनाव ही नहीं जीते हैं, इस घर में पैदा भी हुए हैं

1.95 K
शेयर्स

2019 लोक सभा चुनाव में बीजेपी की बड़ी जीत को हर आदमी अपनी तरह से सेलेब्रेट कर रहा है. लेकिन उत्तर प्रदेश की इस महिला ने सेलेब्रेशन को अलग ही लेवल पर पहुंचा दिया. उत्तर प्रदेश के गोंडा जिले में रहने वाली मेनाज बेगम ने अपने नवजात बच्चे का नाम ही प्रधानमंत्री के नाम पर रख दिया है.

न्यूज़ एजेंसी एएनआई से बात करते हुए मेनाज ने बताया कि उनका बेटा 23 मई को पैदा हुआ. उन्होंने जब अपने पति को खुशखबरी सुनाने के लिए फोन किया, तो उनका पहला सवाल था कि क्या नरेंद्र मोदी जीते गए. इसलिए उन्होंने अपने बेटे का नाम नरेंद्र मोदी रख दिया. वो चाहती हैं कि बड़ा होकर उनका बच्चा भी अच्छा काम करे और मोदी जी की ही तरह सफल आदमी बने.

गोंडा शहर, अयोध्या के पास में ही है. 2019 लोक सभा चुनाव में इस सीट से बीजेपी के कीर्ति वर्धन सिंह उर्फ राजा भैया ने जीत दर्ज की है. उनका मुकाबला कांग्रेस की कृष्णा पटेल और सपा के विनोद कुमार से था.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की इमेज मुस्लिम विरोधी ही रही है. लेकिन पिछले कुछ सालों में उन्होंने काफी डैमेज कंट्रोल किया है. हालांकि इसी चुनाव में उन्होंने साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को भोपाल से टिकट दिया. साध्वी 2008 मालेगांव ब्लास्ट के आरोप में जेल जा चुकी हैं. मालेगांव महाराष्ट्र के नासिक जिले का एक शहर है, जिसकी आबादी में 75 फीसदी हिस्सा मुस्लिमों का हैं.


वीडियो देखें: यूपी में अखिलेश-मायावती का फेल होने और राहुल गांधी के हारने का गणित जानें

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
A woman in Gonda named her newborn Narendra Modi after being impressed and inspired from Indian PM

टॉप खबर

राजीव गांधी के हत्यारे ने संजय दत्त की मुश्किलें बढ़ा दी हैं

जेल में बंद पेरारिवलन ने संजय दत्त से जुड़ी बहुत सी जानकारी इकट्ठी की है.

कठुआ केस के छह दोषियों को क्या सज़ा मिली?

अदालत ने सात में से छह आरोपियों को दोषी माना था. मास्टरमाइंड सांजी राम का बेटा विशाल बरी हो गया.

कठुआ केस में फैसला आ गया है, एक बरी, छह दोषी करार

दोषियों में तीन पुलिसवाले भी शामिल हैं.

पांच साल की बच्ची से रेप किया और फिर ईंटों से कूंचकर मार डाला

उज्जैन में अलीगढ़ जैसा कांड, पड़ोसी ही निकला हत्यारा...

अफगानिस्तान किन गलतियों से श्रीलंका से जीता-जिताया मैच हार गया?

मलिंगा का तो जोड़ नहीं.

क्या चुनावी नतीजे आने के 10 दिनों के अंदर यूपी में 28 यादवों की हत्या हुई है?

28 नामों की एक लिस्ट वायरल हो रही है. लेकिन सच क्या है?

मायावती ने ऐसा क्या कह दिया कि फिलहाल गठबंधन को टूटा मान लेना चाहिए

प्रेस कांफ्रेंस में मायावती ने गठबंधन तोड़ने का सीधा ऐलान तो नहीं किया, लेकिन बहुत कुछ कह गयीं.

चुनाव नतीजे आए दस दिन हुए नहीं, मायावती ने गठबंधन पर सवाल उठा दिए

वो भी तब जब मायावती के पास जीरो से बढ़कर दस सांसद हो गए हैं

अरविंद केजरीवाल ने चुनाव में बंपर वोट खींचने वाला ऐलान कर दिया है

वो ऐसी स्कीम लेकर आए हैं कि दिल्ली-NCR की महिलाएं खुश हो गईं.

आखिर क्या सोचकर मोदी ने UP के इन नेताओं को कैबिनेट में जगह दी है?

इनमें कुछ से पिछली सरकार के दौरान बीच में ही मंत्रालय छीन लिया गया था.