Submit your post

Follow Us

19 साल का लड़का बन चाइल्ड पॉर्न शेयर करता था बुजुर्ग, धर लिया गया

5
शेयर्स

दिल्ली में पुलिस ने 22 नवंबर को 6 लोगों को गिरफ्तार किया. आरोप है कि उन्होंने सोशल मीडिया पर चाइल्ड पॉर्न शेयर किया था. अमेरिका की एक एजेंसी और नेशनल क्राइम रेकॉर्ड ब्यूरो ने सूचना दी. और फिर आरोपियों को गिरफ्तार किया गया. इन 6 आरोपियों में से एक बुजुर्ग भी है, जिसकी उम्र 61 साल है. नाम लोकराज है. और वो किराना की दुकान चलाता है.

एनबीटी की रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस ने जिन आरोपियों को गिरफ्तार किया है, उसमें संजू राठौड़ (25 साल), अमित मंडल (24 साल), नरेंद्र कुमार (22 साल), रेवती नंदन आनंद (34 साल), लोकराज यजुर्वेदी (61 साल) और सुदामा राम (29 साल) शामिल हैं. रिपोर्ट के मुताबिक, ये सभी चाइल्ड पॉर्न डाउनलोड करते थे और सोशल मीडिया के जरिए सर्कुलेट करते थे.

बुजुर्ग ने फेसबुक पर 19 साल का लड़का बनकर एकाउंट बनाया था. उसका इस्तेमाल वह ऐसे ही कामों के लिए करता था. किराना की दुकान चलाने से  पहले वह रेडक्रॉस में काम करता था. नरेंद्र इंजीनियरिंग के तीसरे साल का स्टूडेंट है. संजू एक मजदूर है, जो आजादपुर बाजार में दिहाड़ी पर काम करता है. अमित गुरुग्राम के एक ऑटोमोबाइल कंपनी में काम करता है. अमित साउथ दिल्ली में एक स्टोर पर कैशियर का काम करता है और सुदामा दर्जी है. लोकराज ने पुलिस को बताया कि उसे अश्लील वीडियो वॉट्सऐप से मिलते थे. उन्हें वो फेसबुक पर अपलोड करता था.

NCRB और अमेरिकी एजेंसी NCMEC के बीच चाइल्ड अब्यूज के खिलाफ कार्रवाई करने को लेकर समझौता हुआ था. इसके मुताबिक अमेरिका की एजेंसी ऐसे कॉन्टेंट की अपलोडिंग और डाउनलोडिंग को लेकर जानकारी देती है. इसमें कारावास और लाखों रुपये जुर्माने का प्रावधान है.


वीडियो देखें : मुंबई में 7 साल पहले एक हादसा हुआ था, लड़की पैरालाइज्ड हो गई, अभी तक इलाज चल रहा है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

जामिया CAB प्रदर्शनः पुलिस के आंसू गैस गोले से छात्र का अंगूठा फट गया

जामिया में संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन तेज, परीक्षाएं आगे बढ़ीं.

नागरिकता कानून में हुए संशोधन पर संविधान एक्सपर्ट्स का क्या कहना है?

एक्सपर्ट्स का दावा, ये संशोधन संविधान के आर्टिकल 14, 5 और 11 का उल्लंघन है.

पासपोर्ट पर कमल छाप तो दिया लेकिन सरकार खुद इसे राष्ट्रीय फूल नहीं मानती

बवाल मचा तो सरकार ने कहा था राष्ट्रीय प्रतीकों को छाप रहे हैं.

16 दिसंबर को इस वजह से नहीं होगी निर्भया के चारों दोषियों को फांसी

सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई के बाद ही डेथ वारंट पर फैसला होगा.

CAB विरोध: असम में पुलिस की फायरिंग से दो की मौत, कर्फ़्यू मान नहीं रही है भीड़

तीन BJP विधायकों के घर पर हमला. मेघालय के भी कुछ इलाकों में कर्फ़्यू. तीन राज्य में इंटरनेट बंद.

नागरिकता संशोधन बिल पास होने पर IPS ऑफिसर ने विरोध में इस्तीफा दिया

उन्होंने कहा, 'ये बिल देश को बांटने वाला है.'

कर्नाटक में 15 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में BJP का क्या हुआ?

BJP सरकार बनी रहेगी या जाएगी?

मोदी सरकार के इस कदम से घरेलू इंडस्ट्री चमक सकती है, पर रिस्क भी बहुत बड़ी है

सरकार नई नौकरियों का दावा कर रही. पर आंकड़ा किसी को नहीं पता.

अगर संसद में ये बिल पास हो गया तो एक ही तमंचे पर डिस्को हो पाएगा

वैसे नए कानून के मुताबिक, तमंचे पर डिस्को करने पर भी 2 साल की सज़ा हो सकती है.

तेलंगाना पुलिस ने खुद बताई एनकाउंटर के पीछे की पूरी कहानी

'आरोपियों ने पुलिस से हथियार छीनकर फायरिंग की'.