Submit your post

Follow Us

ट्रंप ने कोरोना से बचाव के लिए जिस दवा का कोर्स पूरा किया, WHO ने उस पर रोक लगा दी है

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइज़ेशन (WHO) ने कोरोना के इलाज में इस्तेमाल हो रही दवा हाइड्रोक्सीक्लोरोक्विन (HCQ) पर अस्थाई रूप से रोक लगा दी है. 25 मई को WHO ने कहा कि कोविड-19 के इलाज के लिए फिलहाल इस दवा का इस्तेमाल नहीं किया जाएगा. ये फैसला हाल ही में पब्लिश हुई एक रिसर्च के बाद लिया गया है.

दरअसल, ‘दी लैंसेट (The Lancet)’ में बीते दिनों एक स्टडी पब्लिश हुई थी. जिसमें ये कहा गया था कि कोविड-19 के मरीज़ों पर इस दवा के इस्तेमाल का कोई फायदा नज़र नहीं आ रहा है. वहीं, इस दवा को लेने से मरीज़ों की मौत का आंकड़ा भी बढ़ सकता है. ये स्टडी 96 हज़ार कोरोना पॉजिटिव मरीजों पर की गई. इनमें से 15 हज़ार को HCQ या फिर क्लोरोक्विन से जुड़ी कोई दवा दी जा रही थी.

कोरोना वायरस की संभावित दवा का पता लगाने के लिए WHO बहुत सी दवाओं का सॉलिडैरिटी ट्रायल करवा रहा है. इसमें से एक दवा हाइड्रोक्सीक्लोरोक्विन भी है. लेकिन ‘दी लैंसेट’ की स्टडी आने के बाद WHO चीफ टेड्रोस अदनोम ने कहा कि HCQ ऑटोइम्यून बीमारियों या मलेरिया के रोगियों के लिए तो सुरक्षित है, लेकिन कोरोना के इलाज के लिए इसके इस्तेमाल पर एहतियात के तौर पर रोक लगाई गई है. टेड्रोस ने कहा,

‘एक्‍जीक्‍यूटिव ग्रुप ने सॉलिडैरिटी ट्रायल में हाइड्रोक्सी क्लोरोक्विन (HCQ)के इस्तेमाल पर अस्‍थाई रोक लगा दी है. वहीं डाटा सेफ्टी मॉनिटरिंग बोर्ड आंकड़ों को रिव्यू कर रहा है.’

ट्रंप ने इस दवा का कोर्स पूरा किया

अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने कोरोना के लिए HCQ के इस्तेमाल पर काफी ज़ोर दिया था. ये भी बताया था कि वो खुद इस दवा को ले रहे हैं. 24 मई को सिनक्लेयर ब्रॉडकास्टिंग के एक इंटरव्यू में ट्रंप ने कहा कि उन्होंने HCQ का कोर्स पूरा कर लिया है.

HCQ को भारत से लेने के लिए ट्रंप ने जमकर बवाल काटा था

अप्रैल के महीने में डॉनल्ड ट्रंप ने भारत से HCQ की मांग की थी. और इस पर जमकर बवाल भी काटा था. दरअसल, अप्रैल के शुरुआती दिनों में ट्रंप ने पीएम नरेंद्र मोदी को फोन किया था. और HCQ दवा की रिक्वेस्ट की थी. इसके दो दिन बाद 6 अप्रैल को ट्रंप ने कहा था,

‘अगर भारत हमें ये दवा नहीं देता है, तो मुझे अच्छा नहीं लगेगा. मगर वो ऐसा फैसला लेंगे, ये मुझे सुनने में नहीं आया है. मैं जानता हूं कि उन्होंने बाकी देशों के लिए इस दवा पर बैन लगा दिया है. मैंने उनसे बात की. बहुत अच्छी बातचीत रही और हम देखेंगे कि वो क्या करते हैं… कई साल से, उन्होंने व्यापार में यूनाइटेड स्टेट्स का फायदा उठाया है. इसलिए मुझे हैरानी होगी अगर ये उनका (मोदी) का फैसला होगा. मैंने उन्हें कॉल किया, कहा कि हमें अच्छा लगेगा अगर आप दवा को यहां आने देंगे तो. अगर वो दवा को अमेरिका नहीं भेजते हैं, तो कोई बात नहीं, जाहिर है कि पलटवार हो सकता है. क्यों नहीं होगा पलटवार?’

इसके कुछ ही समय बाद भारत ने इस दवा के एक्सपोर्ट पर लगे बैन को हटा लिया था. कहा था कि उन देशों को दवा भेजी जाएगी, जो कोरोना से बुरी तरह प्रभावित हुए हैं. भारत के इस फैसले के बाद ट्रंप ने पीएम मोदी को थैंक्यू भी कहा था. इस पर पीएम ने कहा था कि इस तरह का दौर दोस्तों को करीब लाता है.

देखिये भारत में कोरोना कहां-कहां और कितना फैल गया है.


वीडियो देखें: भारत सरकार ने हाइड्रोक्सी क्लोरोक्विन के निर्यात पर लगे बैन को हटाया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

दो महीने बाद शुरू हुई हवाई यात्रा, जानिए कैसा रहा पहले दिन का हाल?

दिल्ली में पहले दिन 80 से ज्यादा उड़ानें कैंसिल क्यों करनी पड़ी?

बलबीर सिंह सीनियर: तीन बार के हॉकी गोल्ड मेडलिस्ट, जिन्होंने 1948 में इंग्लैंड को घुटनों पर ला दिया था

हॉकी लेजेंड और भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और कोच बलबीर सिंह सीनियर का 96 साल की उम्र में निधन.

दूसरे राज्य इन शर्तों पर यूपी के मजदूरों को अपने यहां काम करने के लिए ले जा सकते हैं

प्रवासी मजदूरों को लेकर सीएम योगी ने बड़ा फैसला किया है.

ऑनलाइन क्लास में Noun समझाने के चक्कर में पाकिस्तान की तारीफ, टीचर सस्पेंड

टीचर शादाब खनम ने माफी भी मांगी, लेकिन पैरेंट्स ने शिकायत कर दी.

लद्दाख में तकरार बढ़ी, तीन जगह चीनी सेना ने मोर्चा लगाया, तंबू गाड़े

दोनों ओर के सैनिकों ने मोर्चा संभाला.

पाताल लोक वेब सीरीज में फोटो से छेड़छाड़ पर BJP विधायक ने की अनुष्का से माफी की मांग

प्रोड्यूसर अनुष्का शर्मा पर रासुका के तहत कार्रवाई की मांग की.

कानपुर स्टेशन पर ट्रेन रुकी और खाने को लेकर आपस में भिड़ गए प्रवासी मज़दूर

दो कोचों के मज़दूर आपस में झगड़ पड़े. कुछ को खाना मिला, बाकी जमीन पर गिर गया.

दुनिया का सबसे तेज़ इंटरनेट, एक सेकेंड में 1000 एचडी मूवी डाउनलोड का दावा

ऑस्ट्रेलिया की तीन यूनिवर्सिटी के टेक रिसर्चर्स ने मिलकर ये कनेक्शन तैयार किया है.

केंद्र से अक्सर लड़ने वाली ममता बनर्जी की पीएम मोदी ने किस बात पर तारीफ की?

पश्चिम बंगाल दौरे पर पीएम मोदी ने 'अमपन' को लेकर एक हज़ार करोड़ रुपए की मदद का ऐलान किया.

रिज़र्व बैंक ने एक बार फिर रेपो रेट घटाया, EMI से तीन महीने और छुटकारा

मार्च और अप्रैल महीने में रिज़र्व बैंक ने रेपो रेट और रिवर्स रेपो रेट घटाया था.