Submit your post

Follow Us

ये कौन कांग्रेसी है, जो दिग्विजय सिंह की मौज लेता है!

मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार है. सरकार के मुखिया हैं कमलनाथ. लेकिन पिछले दिनों खबर आई कि सरकार को समर्थन दे रहे नौ विधायक नाराज हैं. इनके बीजेपी के संपर्क में होने की खबर आई. इसके बाद बीजेपी-कांग्रेस के बीच जुबानी जंग देखने को मिली. फिर कांग्रेस नेता आपस में ही एक-दूसरे को घेरने लगे. यहां तक कि कमलनाथ सरकार के मंत्री ने नाम लिए बिना दिग्विजय सिंह पर तंज कसा.

वन मंत्री उमंग सिंघार ने ट्वीट करते हुए लिखा-

‘माननीय कमलनाथ जी की सरकार पूर्ण रूप से सुरक्षित है. यह राज्यसभा में जाने की लड़ाई है. बाकी आप सब समझदार हैं.’

उमंग सिंघार का ट्वीट.
(उमंग सिंघार का ट्वीट)

ट्वीट में सिंघार ने आंख मारते और जीभ बाहर निकाली हुई तीन इमोजी भी पोस्ट की. वन मंत्री उमंग सिंघार पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के धुर विरोधी माने जाते हैं. दिग्विजय अक्सर उनके निशाने पर रहते हैं. पहले भी वे दिग्विजय सिंह पर कई बड़े और गंभीर आरोप लगाकर सुर्खियों में आए थे. उन्होंने आरोप लगाया था कि दिग्विजय सिंह पर्दे के पीछे से सरकार को चला रहे हैं और वे सीएम के काम में दखल देते हैं.

कौन हैं उमंग सिंघार

वे मध्य प्रदेश में कांग्रेस के बड़े आदिवासी नेताओं में से एक हैं. धार जिले की गंधवानी सीट से विधायक हैं. लगातार तीसरी बार गंधवानी सीट से जीते हैं. उनका नाम मध्य प्रदेश कांग्रेस का अध्यक्ष बनने की रेस में भी था.

‘इंडिया टुडे’ के पत्रकार छोटू शास्त्री ने बताया कि उमंग सिंघार किसी भी खेमे में नहीं हैं. वे राहुल गांधी के करीबी कहे जाते हैं. झारखंड के प्रभारी भी हैं. हाल ही में कांग्रेस और झारखंड मुक्ति मोर्चा के साथ मिलकर झारखंड विधानसभा चुनाव जीतने में उनकी बड़ी भूमिका रही. इस जीत ने सिंघार का कद बढ़ाया है.

उमंग सिंघार को मध्य प्रदेश में राहुल गांधी के भरोसेमंद नेताओं में गिना जाता है.
उमंग सिंघार को मध्य प्रदेश में राहुल गांधी के भरोसेमंद नेताओं में गिना जाता है.

उमंग सिंघार की चाची जमुना देवी भी दिग्विजय सिंह के विरोधी खेमे में रही हैं. जमुना देवी सूबे की डिप्टी सीएम रहने के साथ ही नेता प्रतिपक्ष भी रही हैं. वे दिग्विजय सिंह के मुख्यमंत्री के रूप में दूसरे कार्यकाल में डिप्टी सीएम रहीं. बाद में जब कांग्रेस के हाथ से सत्ता गई, तो जमुना देवी को नेता प्रतिपक्ष बनाया गया था. ऐसे में शुरुआत से ही उमंग सिंघार का रुख भी दिग्विजय सिंह के खिलाफ रहा है. जानकारों का कहना है कि दिग्विजय के खिलाफ ज्योतिरादित्य सिंधिया ने उमंग सिंघार का सहारा लिया था.

राज्यसभा का क्या मामला है

मध्य प्रदेश में राज्यसभा की तीन सीटें इस साल खाली हो रही हैं. दिग्विजय सिंह, प्रभात झा और सत्यनारायण जटिया का राज्यसभा कार्यकाल पूरा हो रहा है. अभी तीन में से दो सीट बीजेपी के पास है. मध्य प्रदेश विधानसभा में इस समय कांग्रेस के पास 114 विधायक हैं. इसके अलावा कमलनाथ सरकार को 2 बसपा, 1 सपा और 4 निर्दलीय विधायकों का समर्थन प्राप्त है.

बीजेपी के पास फिलहाल 107 विधायक हैं. इनके आधार पर कांग्रेस और बीजेपी को एक-एक सीट मिलना तय है. लेकिन लड़ाई तीसरी सीट को लेकर है. कहा जा रहा है कि दिग्विजय अपने लिए सुरक्षित सीट चाहते हैं. ऐसे में वे सरकार पर दबाव बना रहे हैं.


Video: मध्य प्रदेश: दिग्विजय सिंह ने लगाया पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर आरोप

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

एंटी-CAA प्रोटेस्ट को उकसाने के आरोप में कपल गिरफ्तार, पुलिस ने कहा- ISIS से लिंक हो सकता है

दिल्ली के शाहीन बाग में 15 दिसंबर से प्रोटेस्ट चल रहा है.

सबसे ज्यादा रणजी मैच और सबसे ज्यादा रन, इस खिलाड़ी ने 24 साल बाद लिया संन्यास

42 की उम्र तक खेलते रहे, अब बल्ला टांगा.

लखनऊ में CAA विरोधी प्रदर्शन के दौरान 'तोड़फोड़ करने वाले' 57 लोगों के होर्डिंग लगाए

होर्डिंग पर पूर्व IPS एसआर दारापुरी और कांग्रेस कार्यकर्ता सदफ ज़फर जैसे लोगों का नाम.

दिल्ली दंगे के 'हिन्दू पीड़ितों' की मदद के लिए कपिल मिश्रा ने जुटाये 71 लाख, खुद एक पईसा नहीं दिया

अब भी कह रहे हैं, 'आप धर्म को बचाइये, धर्म आपको बचायेगा'

कांग्रेस सांसद का आरोप : अमित शाह का इस्तीफा मांगा, तो संसद में मुझ पर हमला कर दिया गया

कांग्रेस सांसद ने कहा, 'मैं दलित महिला हूं, इसलिए?'

निर्भया केस: चार दोषियों की फांसी से एक दिन पहले कोर्ट ने क्या कहा?

राष्ट्रपति ने पवन गुप्ता की दया याचिका खारिज कर दी है.

कश्मीर : हथियारों के फर्जी लाइसेंस बनवाने वाला IAS अधिकारी कैसे धरा गया?

हर लाइसेंस पर 8-10 लाख रूपए लेता था!

गृहमंत्री अमित शाह की रैली में आई भीड़ ने लगाया देश के गद्दारों को गोली मारो... का नारा!

ये नारा डरावना है, उससे भी डरावना है इसका गृहमंत्री की रैली में लगाया जाना.

दिल्ली के बाद मेघालय में भी हिंसा भड़की, दो की मौत, कई जिलों में इंटरनेट बंद

मामला CAA प्रोटेस्ट से जुड़ा है.

एक्टिंग छोड़ बीजेपी जॉइन की थी, अब कपिल मिश्रा और अनुराग ठाकुर की वजह से पार्टी छोड़ दी

बीजेपी नेता ने अपनी पार्टी के नेताओं पर बड़ा बयान दिया है.