Submit your post

Follow Us

इन 11 ट्वीट से समझ जाइए कि दिल्ली में CAA प्रोटेस्ट के दौरान कैसी हिंसा हुई?

पूर्वी दिल्ली के कई इलाकों में 24 फरवरी को नागरिकता संशोधन कानून यानी CAA के समर्थकों और विरोधियों के बीच हिंसक झड़प हुई. दोनों ओर से पत्थरबाजी हुई. कई दुकानों और गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया गया. हिंसा में दिल्ली पुलिस के एक हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल की मौत हो गई है. 10 से ज्यादा प्रदर्शनकारी और करीब 37 पुलिसवाले घायल हुए हैं. शाहदरा डीसीपी की गाड़ी में आग लगा दी गई. भजनपुरा में एक पेट्रोल पंप में आग लगा दी गई. मौजपुर, भजनपुरा और जाफराबाद के अलावा करावल नगर में भी हिंसा की खबर आई. हिंसा के कई वीडियो सामने आए हैं. कुछ वीडियोज़ देखिए.

1. जाफराबाद में प्रदर्शनकारियों का वीडियो देखिए. इस पोस्ट को एनडीटीवी की पत्रकार नीता शर्मा ने ट्वीट किया.

2. इंडिया टुडे से जुड़े पत्रकार शिव अरूर ने एक डरावना वीडियो पोस्ट किया था. वो देखिए.

3. दी क्विंट से जुड़ी ऐश्वर्या का यह वीडियो ट्वीट देखिए.

4. ऑल्ट न्यूज़ से जुड़े मोहम्मद जुबैर का यह वीडियो देखिए. कहा कि पुलिस मूकदर्शक बनी देख रही है.

5. स्क्रॉल से जुड़े अभिषेक डे का यह वीडियो ट्वीट देखिए जिसमें लोग जय श्री राम और गद्दारों को गोली मारने की बात कह रहे हैं.

6. न्यूज़ एजेंसी IANS का यह वीडियो ट्वीट देखिए जिसमें एक लड़का पुलिस वाले पर गोली मार रहा है.

7. स्क्रॉल से जुड़ीं विजयता के दो वीडियो ट्वीट देखिए. पहले वीडियो में दंगाई दुकान तोड़ रहे हैं और आग लगा रहे हैं. यह वीडियो मौजपुर-जाफराबाद का है.

8. विजयता के एक और वीडियो में CAA के समर्थक भारत माता की जय और जय श्री राम के नारे लगा रहे हैं.

9. टाइम्स ऑफ़ इंडिया के पत्रकार जसजीव सिंह ने वीडियो लगाया. लोग पत्थर चलाते हुए दिख रहे हैं. और इस वीडियो में भी, पुलिस लगभग कुछ न करते हुए दिख रही है.

10. पत्रकार बरखा दत्त ने भी वीडियो लगाया है. भजनपुरा में फायरिंग कर रहे शख्स को अलग एंगल का वीडियो बरखा ने अलग तरीके से अपलोड किया है.

11. CNN News18 के पत्रकार साहिल मुरली मेंघानी ने सिर पर पत्थर लगने से मारे गए हेड कांस्टेबल रतन लाल की फोटो साझा की है. जानकारी दी है कि रतन लाल 42 साल के थे. पत्नी के अलावा तीन बच्चे थे. वो 1998 में दिल्ली पुलिस से जुड़े थे. और गोकुलपुरी के एसीपी ऑफिस में तैनात थे.


वीडियो- शाहीन बाग के बाद जाफराबाद में महिलाएं धरने पर बैठी और ‘जय भीम’ के नारे लगाने लगीं

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

सरकार ने दिया कोरोना पर राहत पैकेज, 80 करोड़ को मुफ्त अनाज और बहुत कुछ

वित्त मंत्री ने कहा, हर व्यक्ति के हाथ में अन्न और धन हमारी पहली प्राथमिकता.

कोरोना के बीच सरकार ने गठिया वाली दवा के एक्सपोर्ट पर रोक क्यों लगा दी?

इस दवा का कोरोना के इलाज में क्या रोल है?

रात को लॉकडाउन के कायदे बताने के बाद सुबह हुजूम के बीच कहां निकल गए सीएम योगी?

सीएम ने लोगों से कहा था, 'घर पर ही रहें, बाहर न निकलें.'

21 दिन के लॉकडाउन में आपको कौन-कौन सी छूट मिलेगी, यहां जान लीजिए

कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए पूरा देश 15 अप्रैल तक लॉकडाउन रहेगा.

आज आधी रात से पूरे देश में 21 दिन का लॉकडाउन, पीएम बोले- एक तरह से ये कर्फ्यू ही है

कोरोना वायरस के खिलाफ सबसे बड़ा फैसला.

कोरोना वायरस: उत्तर प्रदेश के 17 नहीं, अब पूरे 75 जिलों को लॉकडाउन कर दिया गया है

देश में कोरोना वायरस इंफेक्शन के मामले 500 से ऊपर जा चुके हैं.

3 महीने तक ATM से पैसे निकलना फ्री, अब मिनिमम बैलेंस का भी झंझट नहीं

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में ऐलान किया.

कोरोना वायरस की वजह से अब जो काम रुका है, उसका असर 17 राज्यों पर पड़ेगा

क्या मतलब निकला इतनी उठा-पटक का?

चौथी बार MP के सीएम बने शिवराज, बोले- कोरोना से मुकाबला मेरी पहली प्राथमिकता

शिवराज सिंह चौहान ने शपथ लेते ही ये रिकॉर्ड भी बना दिया है.

कोरोना वायरसः लॉकडाउन में घर से निकलने वालों पर क्या एक्शन लिया जा रहा है?

देश के 75 जिले लॉकडाउन हैं.