Submit your post

Follow Us

टिकट कराकर ट्रेन पकड़नी है तो ये नियम क़ानून पढ़ लीजिए, बहुत काम आएगा

भारतीय रेल का सफ़र शुरू हो चुका है. श्रमिक ट्रेनें चल रही थीं, अब आज यानी 12 मई से बुकिंग कराकर टिकट लेकर यात्री ट्रेनें भी शुरू कर दी गयी हैं. कमोबेश सारी जानकारी आप तक आ ही चुकी है. लेकिन एक बार आपको बिंदुवार तरीक़े से सभी नियमों की जानकारी दे देते हैं. ताकि कोई ग़लती न हो. इंफ़ेक्शन कम से कम फैले और ज़्यादा से ज़्यादा लोग ख़ुद का ख़याल रख सकें. 

# ट्रेन के समय से 90 मिनट पहले यात्रियों को स्टेशन पहुँचना होगा. ऐसा इसलिए है ताकि रेलवे के अधिकारी आपके स्वास्थ्य की जांच कर सकें. और किसी में भी लक्षण दिखाई देंगे तो उन्हें ट्रेन में चढ़ने नहीं दिया जाएगा.

# ट्रेन के हरेक यात्री को ट्रेन में चढ़ते और उतरते के साथ-साथ यात्रा के हरेक क्षण मास्क पहने रहना होगा.

# रेलवे द्वारा लोगों को ये सलाह दी गयी है कि सभी लोगों को अपना खाना घर से लेकर आना होगा. फिर भी ट्रेनों में बिस्कुट, नमकीन, चिप्स जैसे पैकेट बंद खाने मिलेंगे. और ये पेमेंट के आधार पर मिलेंगे. मतलब ट्रेन का खाना खाना है, तो पैसा दीजिए. 

# कोरोनावायरस का संक्रमण रोकने के लिहाज़ से ट्रेनों में बोतलबंद पानी नहीं दिया जाएगा. इसलिए यात्रियों को पीने का पानी भी घरों से लेकर ही जाना होगा.

# ट्रेन में सफ़र करने के दौरान ख़ुद की चादर, कम्बल और इस तरह का बाक़ी सामान ख़ुद ही लेकर जाना होगा. ट्रेन में ऐसी कोई भी सुविधा उपलब्ध नहीं कराई जाएगी.

# सफ़र के दौरान हर हाल में सोशल डिसटेंसिंग का पालन करना होगा. 

# सिर्फ़ IRCTC की वेबसाइट पर ही बुकिंग होगी. और किसी बुकिंग वेबसाइट या ऐप पर ये सेवा उपलब्ध नहीं रहेगी. 

# 7 दिनों तक का ही रिज़र्वेशन मिल सकता है. RAC और वेटिंग टिकट जारी नहीं किए जायेंगे. यात्रा के लिए, स्टेशन-प्लेटफ़ॉर्म पर जाने के लिए और लॉकडाउन के दौरान घर से निकलने के लिए कन्फ़र्म टिकट ही मदद करेगा. 

# ट्रेन के समय से 24 घंट पहले तक ही टिकट कैन्सल करा सकते हैं. और टिकट कैन्सल कराने पर ट्रेन के टिकट का आधा दाम चुकाना होगा. 

# अगर नई दिल्ली से कहीं जाने के लिए यात्रा कर रहे हैं तो ध्यान रहे. दिल्ली के पहाड़गंज साइड से ही स्टेशन और प्लेटफ़ॉर्म पर प्रवेश मिलेगा. प्रवेश के लिए अजमेरी गेट का साइड बंद रहेगा. 

बाक़ी, हम सब अपने-अपने हिस्से के समझदार हैं. समझदारी तो दिखानी ही होगी. कुछ अपने हिस्से की, कुछ दूसरों के हिस्से की. 


कोरोना ट्रैकर :

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

गुजरात में सीएम बदलने की खबर चलाई, तो पुलिस ने राजद्रोह का केस लिख लिया

इस मामले में गुजरात सरकार की किरकिरी हो रही है.

किसी को सही-सही पता ही नहीं कि दिल्ली में कोरोना से कितनी मौतें हुईं!

सरकार और नगर निगम के आंकड़े अलग-अलग.

चीन से ठगे जाने के बाद इंडिया ने अपनी टेस्टिंग किट बनाई, कैसे काम करेगी?

किसने बनाई ये टेस्टिंग किट?

कॉन्स्टेबल साब ने दिल्ली में शराब वितरण का लेटेस्ट तरीका निकाला था, नप गए

दिल्ली में शराब की दुकानों पर भीड़ बहुत ज़्यादा है.

12 मई से चलने वाली ट्रेनों के स्टॉपेज, टाइम टेबल और नियम क़ानून की जानकारी यहां देखिए

किस-किस दिन चलेंगी ट्रेनें?

कोरोना: सुपर स्प्रेडर क्या होते हैं और ये इतने खतरनाक क्यों हैं कि अहमदाबाद में सब कुछ बंद करना पड़ा

अहमदाबाद में 14 हजार सुपर स्प्रेडर होने की आशंका जताई जा रही है.

प्रवासी मजदूरों को लेकर यूपी और राजस्थान की पुलिस में पटका-पटकी हो गई है!

डीएम और एसपी मौके पर पहुंचे तब मामला शांत हुआ.

मंत्री मुख़्तार अब्बास नकवी बोले-तबलीगी जमात की वजह से लॉकडाउन बढ़ाना पड़ा

ये भी कहा-तबलीग़ियों का गुनाह हिंदुस्तान के मुसलमानों का का गुनाह नहीं है.

कोरोना का नियम बदला, अब बिना टेस्ट ही घर भेजे जाएंगे कम बीमार मरीज

जानिए क्या है सरकार की नई गाइडलाइंस.

दवा बेची, समाजसेवा की, फिर पता चला ख़ुद ही कोरोना पॉज़िटिव हैं, अब जेल हो गई

बनारस के दवा व्यापारी ने कई लोगों को बांटा कोरोना.