Submit your post

Follow Us

विराट कोहली ने बताया, किस क्लीन बोल्ड से उन्हें सबसे ज्यादा संतुष्टि हुई

इंडियन क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली और इंडियन फुटबॉल टीम के कप्तान सुनील छेत्री. इन दोनों ने हाल ही में एक इंस्टाग्राम लाइव किया था. इस लाइव में इनके बीच कई मुद्दों पर बात हुई. इस बातचीत के दौरान कोहली ने क्रिकेट के सबसे संतोषजनक लम्हे का ज़िक्र भी किया.

साल 1996 के क्रिकेट वर्ल्ड कप के दौरान वेंकटेश प्रसाद और आमिर सोहैल की झड़प सबको याद है. यह यूट्यूब पर सबसे ज्यादा देखी गई क्लिप्स में से एक है. इसे क्रिकेट के सबसे आइकॉनिक मोमेंट्स में शामिल किया जाता है. कोहली को भी लगता है कि पूर्व पाकिस्तानी कप्तान सोहैल का आउट होना क्रिकेट इतिहास के सबसे संतोषजनक क्लीन बोल्ड में से एक है.

# सबसे संतोषजनक पल

इंस्टाग्राम लाइव के दौरान छेत्री ने पूछा,

‘जब आमिर सोहैल ने वेंकटेश प्रसाद की बॉल पर बाउंड्री मारी, बड़बड़ाया और अगली ही गेंद पर अपने स्टंप उड़ते देखे, तब तुम कहां थे?’

कोहली ने कहा,

‘मैं घर पर था. मैंने ठीक उसी तरह सेलिब्रेट किया, जैसे मैं आज करता हूं. मेरे लिए क्रिकेट के इतिहास में कोई भी क्लीन बोल्ड उतना संतोषजनक नहीं है, जितना ये वाला. यह सबसे आइकॉनिक मोमेंट्स में से एक है.’

इस पर छेत्री ने कहा,

‘भारत में ज्यादातर लोग वो दिन नहीं भूल पाएंगे, भले ही वह क्रिकेट फैन हों या नहीं.’

कोहली ने बात खत्म करते हुए कहा,

‘वो स्वर्णिम यादें हैं.’


कोहली और छेत्री जिस मैच की बात कर रहे थे, वह 1996 वर्ल्ड कप का दूसरा क्वॉर्टरफाइनल मैच था. बैंगलोर के चिन्नास्वामी स्टेडियम में हुए इस मैच के दौरान सोहैल ने प्रसाद की बॉल पर कवर्स एरिया में चौका मारा. फिर उन्होंने प्रसाद को कुछ कहा और बल्ले से बाउंड्री की ओर इशारा किया. अगली ही बॉल पर प्रसाद ने उन्हें बोल्ड मार दिया और फिर पैवेलियन जाने का इशारा कर अपना बदला पूरा किया.

भारत ने मैच में 8 विकेट खोकर 287 रन बनाए थे. जवाब में पाकिस्तान की टीम 9 विकेट खोकर 248 रन ही बना सकी और मैच गंवा दिया.


वर्ल्ड कप 2019 में टीम इंडिया की हार के बाद विराट कोहली के बयान पर बेन स्टोक्स क्यों बरसे?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

प्रियंका गांधी ने जो गाड़ियां यूपी भेजी हैं, उनमें कितनी बसें हैं, कितने ऑटो?

छह सूचियों में कुल 1049 गाड़ियों की डिटेल्स भेजी गई है.

देशभर में 200 और ट्रेनें चलने की तारीख़ आ गई है

इस बार ख़ुद रेल मंत्री ने बताया है.

लॉकडाउन 4: दफ़्तरों के लिए क्या गाइडलाइंस हैं?

इस लॉकडाउन में तमाम तरह की छूट दी गई हैं.

प्रियंका गांधी वाड्रा की 1000 बसों में कुछ नंबर ऑटो और कार के कैसे निकल गए?

हालांकि संबित पात्रा ने भी जिस बस को स्कूटर बताया, वहां एक पेच है.

मज़दूरों की लाश की ऐसी बेक़द्री पर झारखंड के सीएम कसके गुस्साए हैं

घायल मज़दूरों के साथ अमानवीय व्यवहार करने का आरोप.

कोरोना की वैक्सीन को लेकर अच्छी खबर, जल्द ही आखिरी स्टेज का टेस्ट होने की उम्मीद

जुलाई के महीने को लेकर अहम बात भी कह डाली है.

केजरीवाल ने लॉकडाउन 4 में बहुत सारी छूट दे दी हैं

ऑड-ईवन आ गया, लेकिन ट्रांसपोर्ट में नहीं.

लॉकडाउन 4: पर्सनल गाड़ी से शहर या राज्य के बाहर जाने के क्या नियम हैं?

केंद्र सरकार ने इस पर क्या कहा है?

कोरोना संक्रमण के बीच स्विगी ने बहुत बुरी खबर दी है

दो दिन पहले जोमैटो ने भी ऐसा ही ऐलान किया था.

ममता बनर्जी ने लॉकडाउन के नियमों में बहुत बड़ा बदलाव किया है

केंद्र सरकार की नई बात मानने से मना कर दिया!