Submit your post

Follow Us

यूपी के 'सबसे अमीर' विधायक ने मायावती का साथ क्यों छोड़ दिया?

चुनावी मौसम में दलबदल और इस्तीफों का खेला देखने को ना मिले, ये कैसे हो सकता है. और बात उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव की हो तो इस खेल पर नजर रखने वालों की दिलचस्पी और बढ़ जाती है. ये खबर इस्तीफे से जुड़ी है.  एक बड़े नेता और विधायक ने BSP और मायावती का साथ छोड़ दिया है. पार्टी से इस्तीफा दे दिया है. ये नेता हैं आजमगढ़ के मुबारकपुर के विधायक शाह आलम. गुरुवार 25 नवंबर को उन्होंने अपना रेजिग्नेशन BSP नेतृत्व के हवाले कर दिया. BSP के अलावा शाह आलम उर्फ गुड्डू जमाली ने विधानसभा की सदस्यता से भी इस्तीफा दे दिया है.

समाचार एजेंसी ANI के अनुसार शाह आलम ने पार्टी से इस्तीफ़ा देते हुए कहा,

“आपके (यानी मायावती) साथ बैठक में मुझे लगा कि आप पार्टी के प्रति मेरी भक्ति और ईमानदारी के बावजूद संतुष्ट नहीं हैं. अगर मेरा नेता मुझसे या मेरे काम से संतुष्ट नहीं है तो मैं पार्टी पर बोझ नहीं बनना चाहता.”

मीडिया रिपोर्टों में शाह आलम का त्यागपत्र भी सामने आया है. इसमें लिखा हैं,

“बहन जी, मैं हमेशा आपका आभारी रहूंगा. आपने मुझ पर विश्वास जताते हुए दो बार विधायकी और एक बार लोकसभा सीट से चुनाव लड़वाया. 2012 से लेकर अब तक मैं पूरी निष्ठा और ईमानदारी के साथ बिना किसी छल कपट के पार्टी का और आपका वफ़ादार रहा. लेकिन हाल ही में 21 नवंबर को हुई मीटिंग में मुझे महसूस हुआ कि अब आप पार्टी के प्रति मेरी ईमानदारी से संतुष्ट नहीं हैं. अगर मेरा नेता मुझसे संतुष्ट नहीं है तो मैं इस बात को उचित नहीं समझता कि मैं पार्टी में बोझ बनकर रहूं. इसलिए मैं पार्टी के विधान मंडल दल के नेता और विधायक पद से भी त्यागपत्र दे रहा हूं.”

कौन हैं शाह आलम?

शाह आलम आज़मगढ़ के मुबारकपुर से विधायक हैं. उन्होंने 2012 और 2017 में BSP के टिकट से विधायकी का चुनाव जीता. 2014 में शाह आलम ने आज़मगढ़ सदर लोकसभा की सीट से चुनाव लड़ा था, लेकिन सफलता नहीं मिल पाई. हालांकि उन्हें लगभग 2 लाख 70 हज़ार वोट मिले थे. शाह आलम को यूपी का सबसे अमीर विधायक माना जाता है. उनकी कुल संपत्ति 118 करोड़ रुपए से भी ज़्यादा आंकी जाती है. जाहिर है उनके जाने से पार्टी का चुनावी कैंपेन प्रभावित हो सकता है.

शाह आलम BSP छोड़ने वाले पहले नेता नहीं हैं. उनके पीछे बहुत लंबी लिस्ट है. बीते 15-20 सालों में BSP की बुनियाद मजबूत करने वाले कई कार्यकर्ताओं और नेताओं ने पार्टी छोड़ी है. हालिया प्रकरणों की बात करें तो शाह आलम से पहले बीते जून में मायावती ने लालजी वर्मा और रामअचल राजभर को पार्टी से बाहर किया था. विधायक वंदना सिंह भी BSP के निलंबित नेताओं में शामिल हैं. वो भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण कर चुकी हैं.


बिहार के मुजफ्फरपुर की मीना देवी से नेताओं को सीख लेने चाहिए!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

टॉप खबर

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के चकाचक निर्माण से लोगों को क्या-क्या मिलने वाला है?

पीएम मोदी ने गुरुवार 25 नवंबर को इस एयरपोर्ट का शिलान्यास किया.

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

कृषि कानून वापस लेने की घोषणा के बाद पंजाब की राजनीति में क्या बवंडर मचने वाला है?

पिछले विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला था, इस बार त्रिकोणीय से बढ़कर होगा.

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

UP पुलिस मतलब जान का खतरा? ये केस पढ़ लिए तो सवाल की वजह जान जाएंगे

कासगंज: पुलिस लॉकअप में अल्ताफ़ की मौत कोई पहला मामला नहीं.

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

कासगंज: हिरासत में मौत पर पुलिस की थ्योरी की पोल इस फोटो ने खोल दी!

पुलिस ने कहा था, 'अल्ताफ ने जैकेट की डोरी को नल में फंसाकर अपना गला घोंटा.'

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये कैसे गिनती हुई कि बस एक साल में भारत में कुपोषित बच्चे 91 प्रतिशत बढ़ गए?

ये ख़बर हमारे देश का एक और सच है.

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

आर्यन खान केस से समीर वानखेड़े की छुट्टी, अब ये धाकड़ अधिकारी करेगा जांच

क्या समीर वानखेड़े को NCB जोनल डायरेक्टर पद से हटा दिया गया है?

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

Covaxin को WHO के एक्सपर्ट पैनल से इमरजेंसी यूज की मंजूरी मिली

स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने पीएम मोदी के लिए क्या कहा?

आज आए चुनाव नतीजे में ममता, कांग्रेस और BJP को कहां-कहां जीत हार का सामना करना पड़ा?

आज आए चुनाव नतीजे में ममता, कांग्रेस और BJP को कहां-कहां जीत हार का सामना करना पड़ा?

उपचुनाव के नतीजे एक जगह पर.

जेल से बाहर आए शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान, मन्नत के लिए रवाना

जेल से बाहर आए शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान, मन्नत के लिए रवाना

3 अक्टूबर को आर्यन खान को गिरफ्तार किया गया था.

वरुण गांधी ने कहा- UP में किसानों का फसल जलाना सरकार के लिए शर्म की बात, जेल कराऊंगा

वरुण गांधी ने कहा- UP में किसानों का फसल जलाना सरकार के लिए शर्म की बात, जेल कराऊंगा

किसानों के बहाने फिर बीजेपी पर निशाना साध रहे वरुण गांधी?